श्रीलंका में प्रेस की आजादी

मैंने अपने पिछले एक लेख में लिखा कि श्रीलंका में पत्रकार और मीडिया स्वतंत्र नहीं हैं. पत्रकार डरे हुए हैं, ‍तमिल समाचारपत्र कार्यालय पर बार-बार हमले हो रहे हैं. श्रीलंका में ‍तमिल टीवी की न्यूज रीडर सुश्री रथिमोहन लोकिनि, जो फिलहाल ‍तमिल शरणार्थी के रूप में दुबई में है, अंतरराष्ट्रीय समुदाय से निवेदन कर रहीं … Read more

लड़का – लड़की

      प्यार अंधा था लड़का – लड़की डार्क में इत्मीनान से बेठे थे पब्लिक पार्क में तभी लड़की के फोन पर मम्मी की आवाज इतनी देर हो गयी कंहाँ रह गयी आज दोनों के प्रेम का चकना चूर ख्वाब हो गया लड़की झूठ बोली, मम्मी ओटो ख़राब हो गया मम्मी बोली बेटा बहाना … Read more

क्‍या करें क्‍या न करें 13 , 14 और 15 अप्रैल 2013 को

मेष लग्नवालों के लिए 13 , 14 और 15 अप्रैल 2013 को  भाग्य , भगवान , धर्म . ये सब चिंतन के विषय बने रहेंगे। किसी धार्मिक क्रियाकलाप में व्यस्तता रहेगी!  कोई खर्च उपस्थित होगा, , बाह़य संबंध मजबूत होंगे , पर बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से  तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है। … Read more

दान और चंदे से चलती हैं राजनीतिक पार्टियां

-बाबूलाल नागा- आज देश में कुकुरमुत्तों की तरह राजनीतिक दलों की बाढ़ सी आ गई हैं। देश में 1300 से अधिक राजनीतिक पार्टियां का पंजीयन है। चुनाव आयोग अनुसार करीब 16 प्रतिशत दल ही राजनीतिक गतिविधियों में शामिल है। पंजीकृत दलों को टैक्स माफी है। टैक्स बचाना व गुमनाम चंदे इकट्ठे करना इन फर्जी दलों … Read more

श्रीलंका की स्थिरता के लिए अन्तत: जरुरी

श्रीलंका के रक्षा सचिव गोत्बया राजपक्षे श्रीलंका में ‍तमिल समस्या के लिए मुख्य रूप से भारत को दोषी ठहराते हैं. उनका मानना है कि श्रीलंका में 30 साल तक ‍तमिल अलगाववादियों ने जो युद्ध घसीटा, उसके लिए भारत दोषी है. उनका कहना है कि श्रीलंका में आंतकवाद पैदा करने के लिए भारत कभी भी अपनी … Read more

भारतीय मछुआरों की गिरफ्तारी

पिछले माह श्रीलंका नौसेना ने 53 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया था. भारत द्वारा विरोध दर्ज कराने के बाद उनमें से 34 मछुआरों को छोड़ दिया गया. इस माह के पहले सप्ताह में श्रीलंका नौसेना ने 26 भारतीय मछुआरों को कथित तौर पर उनके देश की जलसीमा में अवैध शिकार करने के लिए गिरफ्तार कर लिया है तथा उनके साजो-सामान … Read more

फकत हिकु डिहुं नाहें सिंधी भाषा दिवस

-मोहन थानवी- सिंधी भाषा दिवस जो पहिंजो महताव आहे। असांजे समाज लाइ 10 अप्रैल जो मनाइण वारो ईओ डिहुं फकत हिकु डिहं कोन आहे। इनि डिहं जी बदौलत अजु बि असां वटि उवो विरसो संरक्षित आहे, जेको असांजा वडा पहिंजी जन्मभूमि पवित्र सिंधु मूं खाली हथनि सां लडे अचण वक्ति खणी आया हुआ। उवो विरसो आहे … Read more

मुम्बई में शुरू हुआ था लिज्जत, मोदी का कोई योगदान नहीं

-शेष नारायण सिंह- नई दिल्ली में फिक्की लेडीज़ संगठन के अपने भाषण में नरेन्द्र मोदी ने लिज्जत पापड़ पर भी अपनी दावेदारी ठोंक दी और बताया कि गुजरात की आदिवासी महिलायें यह पापड़ बनाती हैं। लेकिन जो लोग लिज्जत पापड़ के आन्दोलन को समझते हैं उनको जो मालूम है वह मोदी जी के दावे से बिलकुल अलग है। इस … Read more

आगामी दिल्ली विधान-सभा चुनाव एक राजनैतिक परीक्षण

-केशव राम सिंघल- अरविंद केजरीवाल ने शनिवार 6 अप्रैल 2013 को 15 दिन बाद अपना उपवास तोड़ दिया. यदि गहराई से सोचा जाए तो भ्रष्टाचार को समाप्त करने और भारतीय राजनीति में क्रांतिकारी बदलाव के लिए अरविंद केजरीवाल का कदम वाकईसराहनीय है. इस उपवास ने यह बात सामने रख दी है कि दिल्ली विधान-सभा का … Read more

पहली बार स्कूल जाने मे डर लगता था

      पहली बार स्कूल जाने मे डर लगता था… आज अकेले ही दुनिया घूम लेते हे ।। पहले 1st नंबर लानेके लिए पढ़ते थे, आज कमाने के लिए पढ़ते हें !! गरीब दूर तक चलता हे… खाना खाने के लिए… अमीर दूर तक चलता हे … खाना पचाने के लिए … कीसी के पास … Read more

समाज में पुरुष सत्ता : हकीकत कुछ और !

-रतन सिंह शेखावत- भारतीय समाज में पुरुष प्रधानता शुरू से नारीवादियों के निशाने पर रही है| इस कड़ी में आजकल सोशियल साईटस पर कुछ प्रगतिशील नारीवाद समर्थक पुरुष और कुछ अपने आपको पढ़ी-लिखी, आत्मनिर्भर, नौकरी करने, अकेले रहने, आजाद ख्यालों वाली, बिंदास पाश्चात्य जिंदगी जीने वाली नारी होने का दावा करने वाली नारियां जो रानी लक्ष्मीबाई, … Read more