महान महाराणा प्रताप के जीवन के कुछ असाधारण पहलू- Part 6

डा. जे.के.गर्ग
दानवीर भामाशाह का त्याग— मेवाड़ को जीतने के लिये अकबर ने सभी प्रयास किये किन्तु वो सफल नहीं हो सका। निरंतर सघर्ष के कारण महाराणा की आर्थिक हालत दिन-प्रतिदिन कमजोर होती गई एवं एक बार तो वो विचलित भी हो गये |विपत्तियों के इन क्षणों में भामाशाह ने अपने जीवन की सारी कमाई को राणा Read more

मोदी सरकार के तीन साल में बही विकास की गंगा

ब्रह्मानंद राजपूत
(केन्द्र सरकार के तीन साल पूर्ण करने के उपलक्ष्य में विशेष आलेख) भारत सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अपने तीन साल पूरे कर लिए हैं। इन तीन सालों में मोदी सरकार द्वारा किये गए कार्यों की समीक्षा हर कोई अपने-अपने तरीके से कर रहा है। कोई मोदी सरकार की उपलब्धिय Read more

महान महाराणा प्रताप के जीवन के कुछ असाधारण पहलू—- Part 5

डा. जे.के.गर्ग
महाराणा प्रताप के विद्रोही भाई शक्तिसिंह द्वारा राणा प्रताप की सुरक्षा महाराणा प्रताप का प्राण प्रिय घोड़ाचेतकभी युद्ध में जख्मी हो गया था।हल्दीघाटी के युद्धमें घायल होने के बाद राणाप्रताप बिना किसी सहायक के अपने पराक्रमी चेतक पर सवार होकर पहाड़ की ओर चल पड़े। दोमुग़लसैनि Read more

25 मई को विशेष संयोग, शनि जयंती और वट सावित्री व्रत एक साथ

दयानन्द शास्त्री
प्रिय पाठकों/मित्रों, इस वर्ष वट सावित्री व्रत यानि वर अमावस्या और शनि जयंती एक साथ होने से इस दिन विशेष संयोग बन रहे हैं। इसी के साथ ही इस दिन से नवतपा की शुरुआत हो रही है। ये तीन संयोग एक साथ बन रहे हैं, ऐसा संयोग काफी सालों बाद देखने को मिल रहा है।शनि जयंती पर शनि हमेशा व Read more

वट सावित्री व्रत 25 मई 2017 (गुरूवार) को

दयानन्द शास्त्री
प्रिय पाठकों/मित्रों,ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या को सावित्री का व्रत किया जाता है. ऐसी मान्यता है कि जो भी स्त्री इस व्रत को करती है उसका सुहाग अमर हो जाता है। जिस तरह से सावित्री ने अपने अपने पति सत्यवान को यमराज के मुख से बचा लिया था उसी प्रकार से इस व्रत को करने Read more

महान महाराणा प्रताप के जीवन के कुछ असाधारण पहलू—– Part 4

डा. जे.के.गर्ग
झाला सरदार का बलिदान हल्दीघाटी का युद्ध अत्यन्त घमासान हो गया था। एक समय ऐसा आया जब शहजादा सलीम पर राणा प्रताप स्वयं आक्रमण कर रहे थे,दोनों लहूलुहान हो गये थे,इस द्रश्य को देखकर कर हजारों मुगलसैनिक सलीम की रक्षा करने हेतु उसी तरफ़ बढ़े और राणाप्रताप को चारों तरफ़ से घेर कर Read more

राष्ट्र रत्न एवं मेवाड़ मणि —महान महाराणा प्रताप Part 3

डा. जे.के.गर्ग
हल्दी घाटी की लड़ाई (18 जून 1576 ) 7 जून 2016 यानी जेयष्ट शुक्ला तर्तीया, विक्रम सवंत 2073 को राजस्थान के साथ समूचा देश मेवाड़ मुकुट मणि महाराणा प्रताप की 476 वीं जयंती बना रहा है |राणाप्रताप की जयंती पर ऐतिहासिक हल्दीघाटी की लड़ाई का चित्र हर राजस्थानी के मानस पटल पर अंकित हो Read more

पृथ्वीराज चौहान ने अजमेर को दी सांस्कृतिक विरासत

उमेश चौरसिया
पृथ्वीराज चौहान जयंती 23 मई पर विषेष अजमेर और दिल्ली पर राज करने वाले भारत के अन्तिम हिन्दू सम्राट पृथ्वीराज चौहान (तृतीय) न केवल एक उद्भट योद्धा और कुषल सेनानायक थे वरन् बहुभाषा और कलाओं के भी मर्मज्ञ थे। उन्होंने अजमेर को अनेक सांस्कृतिक विरासतों से समृद्ध किया। गुरू रामप Read more

राष्ट्र रत्न एवं मेवाड़ मणि —महान महाराणा प्रताप Part 2

डा. जे.के.गर्ग
(जन्म– जेयष्ट शुक्ला तर्तीया, विक्रम सवंत 1597– निधन–29 जनवरी 1597) अकबर को महान कहना चाहिए या फिर महाराणा प्रताप को? यह प्रश्न पिछले 400 से अधिक वर्षों से भारतीयों के मष्तिष्क में एक अनसुलझी पहेली बना हुआ है | यों तो अकबर और प्रताप दोनों अपनी अपनी जगह महा Read more

राष्ट्र रत्न एवं मेवाड़ मणि —महान महाराणा प्रताप Part 1

maharana_Pratap
महाराणा प्रताप मेवाड़ की अस्मिता के प्रतिक तो हैं ही उनका नाम देशभक्ति, स्वाभिमान और दृढ प्रण के लिये सम्मान के साथ लिया जाता है। उन्होंने जीवन पर्यन्त मेवाड़ की आजादी एवं अस्मिता के लिए मुगल बादशाह अकबरके साथ अपने सीमित साधनों के साथ संघर्ष किया एवं कभी भी अकबर की आधीनता स्वी Read more

कंप्यूटर क्रांति के जनक राजीव गांधी Part 2

डा. जे.के.गर्ग
कुछ लोग ज़मीन पर राज करते हैं और कुछ लोग दिलों पर। स्वर्गीय राजीव गांधी एक ऐसे इंसान थे, जिन्होंने ज़मीन पर ही नहीं, किन्तु जनमानस के ह्रदय पर भी राज किया। स्व. राजीव गांधी ही वो इंसान थे जिन्होंने उन्नीसवीं सदी में इक्कीसवीं सदी के भारत का सपना देखा था। स्वभाव से धीर- गंभीर ल Read more