कार्तिक महीने की अमावस्या को ही दीपावली क्यों मनायी जाती है? भाग 1

डा. जे.के.गर्ग
भगवान राम का लंका विजय के बाद अयोध्या में आगमन:—-जब भगवान राम अहंकारी राक्षसराज रावण का वध करने के बाद लंका का राज्य विभीषन को सोंप कर माता सीता और अनुज लक्ष्मण के साथ अपने ग्रह राज्य अयोध्या में 14 वर्ष का वनवास पूर्ण कर वापस लोटे तो उस वक्त अयोध्या के समस्त नर-नारी उन सभी Read more

शरद पूर्णिमा 2017 विशेष (क्या करें उपाय/टोटके आदि)

दयानन्द शास्त्री
इस दिन गाय के दूध से खीर बनाकर उसमें घी और चीनी मिलाकर रात्रि में चन्द्रमा की रोशनी में रख दें। सुबह इस खीर का भगवान को भोग लगाएं तथा घर के सभी सदस्य सेवन करें। इस दिन खीर बनाकर चन्द्रमा की रोशनी में रखने से उसमें औषधीय गुण आ जाते हैं तथा वह मन, मस्तिष्क तथा शरीर के लिए अत्य Read more

ऐसे थे बापू—-जानिये राष्ट्रपिता बापू के जीवन की अविस्मरणीय घटनायें Part 2

डा. जे.के.गर्ग
जीवित व्यक्ति की मूर्ति बनाकर उसकी पूजा करना बेढंगा कार्य है उसके स्थान पर उनकी शिक्षाओं और सद्गुणों को अपनायें—- एक बार गांधीजी को एक पत्र मिला, जिसमें लिखा था कि शहर में गांधी मंदिर की स्थापना की गई है, जिसमें रोज उनकी मूर्ति की पूजा-अर्चना की जाती है। यह जानकर गांधी Read more

ऐसे थे बापू—-जानिये राष्ट्रपिता बापू के जीवन की अविस्मरणीय घटनायें Part 1

डा. जे.के.गर्ग
नकल करना गलत है—–स्कूल के पहले ही वर्ष की, परीक्षा के समय की एक घटना उल्लेखनीय हैं। शिक्षा विभाग के इन्सपेक्टर जाइल्स विद्यालय की निरीक्षण करने आए थे। उन्होंने विद्यार्थियों से अंग्रेजी के पांच शब्द लिखने को कहा उनमें एक शब्द ‘केटल’ (kettle) था। गां Read more

राशिफल अक्टूबर (भविष्यफल अक्टूबर)—2017

दयानन्द शास्त्री
मेष – मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ । इस माह सामाजिक गतिविधियों में वृद्धि होगी। आय की अपेक्षा व्यय की अधिकता रहेगी। कार्यो में उलझन आयेंगी। वाहन एवं रोजगार प्राप्ति के अवसर आयेंगे। विदेश यात्रा का योग बनेगा। व्यावसायिक प्रगति होगी। विधार्थियों को प्रतियोगिता Read more

विजयादशमी को मनाये तामसी प्रवतियों पर सात्विक प्रवतियों के विजय दिवस के रूप में पार्ट 1

डा. जे.के.गर्ग
(जीवन में काम,क्रोध,लोभ,मद,मोह,मत्सर,अहंकार,आलस्य,हिंसा, अधर्म एवं चोरी को त्याग कर स्नेह,विनम्रता,सोहार्द को अपनाने का संकल्प लेने का पर्व–दशहरा) संस्कृत भाषा के शब्द ’दश’ व’ हरा’ से मिलकर “दशहरा” बना है | दशहरा का अर्थ भगवान राम के द्वारा रावण के दसों सिरों यानि दसों Read more

युवाओ के लिए नजीर बन गए

16403197_1229709580438061_2057700970878434286_o
संघर्ष से सफलता की ओर बढ़ते रहे कदम बुंदेलखंड के कर्मयोगी संतोष गंगेले ______ छतरपुर -मध्यप्रदेश की हृदयस्थली पावन पवित्र भूमि बुंदेलखंड का इतिहास का याद दिलाती है साथ ही महाराजा छत्रसाल का जीवन संघर्षमय हमें जीवन जीने की कला सिखाता है। इस बुंदेलखंड की धरा पर अनेकानेक महाप Read more

नवदुर्गा के नो रूप यानि नारी के नो स्वरूप

डा. जे.के.गर्ग
सच्चाई तो यही कि नवदुर्गा नारी के नो स्वरूप महिलाओं के पूरे जीवनचक्र का प्रतिबिम्ब ही है यानि “शैलपुत्री” जन्म ग्रहण करती हुई कन्या कास्वरूप है, “ब्रह्मचारिणी” नारी का कौमार्य अवस्था प्राप्त होने तक का रूप है, वहीं नारी शादी से पूर्व तक चंद्रमा के समान निर्मल हो Read more

नवरात्रों के महत्व का वैज्ञानिक आधार

डा. जे.के.गर्ग
पृथ्वी द्वारा सूर्य की परिक्रमा करते समय एक साल में चार संधियां होती हैं जिनमें से मार्च व सितंबर माह में पड़ने वाली गोल संधियों में साल के दो मुख्य नवरात्र उत्सव आते हैं । ध्यान रखिये कि इसी समय हमारे शरीर पर रोगाणुओं के आक्रमण की प्रबल संभावना होती है । ऋतु संधियों में अक् Read more

त्योहार और बाजार…!

tarkesh kumar ojha
तारकेश कुमार ओझा कहते हैं बाजार में वो ताकत हैं जिसकी दूरदर्शी आंखे हर अवसर को भुना कर मोटा मुनाफा कमाने में सक्षम हैं। महंगे प्राइवेट स्कूल, क्रिकेट , शीतल पेयजल व मॉल से लेकर फ्लैट संस्कृति तक इसी बाजार की उपज है। बाजार ने इनकी उपयोगिता व संभावनाओं को बहुत पहले पहचान लिया Read more

देवी शक्ति की आराधना का पर्व—-नवरात्रा

डा. जे.के.गर्ग
पहला नवरात्रा बालिकाओं को, दूसरा नवरात्रा युवतियों तथा तीसरा नवरात्रा महिलाओं के चरणों में समर्पित है | देवी अम्बा उर्जा (प्राक्रतिक शक्तियों) की प्रतीक है | नवरात्री के चोथे, पांचवें एवं छठे दिन माता लक्ष्मी यानि सुख-सम्पन्नता,शांति एवं वैभव के दिन है | जीवन में धन-दोलत एक Read more