सूरजपुरा में रात्रि चैपाल आयोजित

अजमेर, 19 मई। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल की अध्यक्षता में जवाजा पंचायत समिति के सूरजपुरा गांव में शुक्रवार को रात्रि चैपाल आयोजित हुई। उन्होंने मौके पर ही ग्रामीणों की समस्या सुनी तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए।
रात्रि चैपाल के दौरान भवन निर्माण एवं अन्य श्रमिक कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित शुभ शक्ति योजना के अन्तर्गत गोविंद सिंह को 55 हजार की राशि वितरित की गई। प्रधानमंत्राी आवास योजना के अन्तर्गत भंवरी देवी पत्नी मालसिंह एवं दापू देवी पत्नी डाउसिंह को भवन निर्माण की द्वितीय किश्त के रूप में 60-60 हजार की राशि उपलब्ध करवायी गई। इसमें 13 व्यक्तियों के सामाजिक सुरक्षा पेशन आदेश जारी किए गए। साथ ही 9 व्यक्तियों के श्रमिक कार्ड जारी किए गए।
सूरजपुरा में जवाजा नाका से गिरधारी सिंह के घर तक सड़क निर्माण कार्य के लिए निर्देश प्रदान किए। इसी प्रकार महात्मा गांधी नरेगा के माध्यम से दो सड़कों के निर्माण के लिए प्रस्ताव के अनुसार तकनीकी स्वीकृति जारी की जाएगी।
गांव में राज्य सरकार द्वारा तैयार किए गए सार्वजनिक हैण्डपम्प को दबंग व्यक्ति द्वारा अतिक्रमण कर अपने घर में शामिल करने की शिकायत पूर्व पंचायत समिति सदस्य श्रीमती लाली देवी ने शिकायत की जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मौके पर से अतिक्रमण हटाकर हैण्डपम्प को सार्वजनिक उपयोग के लिए पुनः आरम्भ करवाया।
इस अवसर पर पंचायत समिति सदस्य श्रीमती संतोष रावत, स्थानीय सरपंच श्रीमती राधा देवी, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री निकया गोहाएन, ब्यावर उपखण्ड अधिकारी श्री पीयुष सामरिया, जवाजा विकास अधिकारी श्री शिवदान सिंह सहित समस्त विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, जन प्रतिनिधि, ग्रामीण एवं बड़ी संख्या में स्थानीय महिलाए उपस्थित थी।

मुख्यमंत्राी शहरी जन कल्याण योजना शिविर शुक्रवार को
वार्ड संख्या 3 से 5 तक के लोगों के हुए काम, लोगों ने महसूस की राहत
अजमेर, 19 मई। मुख्यमंत्राी शहरी जन कल्याण योजनान्तर्गत शुक्रवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय रामनगर में वार्ड संख्या 3 से 5 तक का शिविर आयोजित हुआ। दो दिवसीय इस शिविर के प्रथम दिन वार्डवासियों को हाथो हाथ काम होने से राहत महसूस हुई।
नगर निगम के आयुक्त हिमांशु गुप्ता ने बताया कि शुक्रवार को आयोजित शिविर में नगरीय विकास कर की बकाया राशि एक लाख 34 हजार 604 रूपए की वसूली की गई। शिविर में जन्म मृत्यु प्रमाण पत्रा के 5 आवेदकों को प्रमाण पत्रा बनाकर जारी किए गए। साथ ही 17 को आधार कार्ड व 13 लोगों को भामाशाह कार्ड प्रदान किए गए। इस मौके पर 10 विवाह पंजीयन प्रमाण पत्रा आॅनलाइन जारी किए। शिविर में खादी सुरक्षा की स्वीकृति के 9 आवेदन पत्रा जारी किए सााथ ही स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत व्यक्तिगत शौचालय निर्माण के 15 आवेदन प्राप्त कर 6 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान की गई।
शिविर में शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी, महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने शिविर का निरीक्षण किया। इस मौके पर संबंध्ाित पार्षद एवं अधिकारीगण उपस्थित थे।

राजस्व लोक अदालत अभियान में 4 हजार 958 प्रकरणों का हुआ निस्तारण
अजमेर, 19 मई। राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार 2017 के अन्तर्गत शुक्रवार को जिले में 4 हजार 958 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन स्तर पर खाद्य सुरक्षा, रेफरेंसेंज के 9 प्रकरणों का निस्तारण से ग्रामीणों को राहत प्रदान की गई।
अतिरिक्त जिला कलक्टर एवं राजस्व लोक अदालत अभियान प्रभारी श्री किशोर कुमार ने बताया कि उपखण्ड अधिकारी स्तर पर 489 प्रकरण निस्तारित किए गए। ब्यावर के सूरजपुरा में खाता दुरस्ती केे 214 प्रकरणों का निस्तारण किया गया । जबकि विभाजन के 4, इजराय के एक तथा चार अन्य प्रकरण निस्तारित किए गए। इसी प्रकार केकड़ी के बाजटा में खाता दुरस्ती के 31, खातेदारी घोषणा के 30, रास्ता धारा के एक तथा अन्य प्रकरण निस्तारित किए गए। किशनगढ़ के दादिया में खाता दुरस्ती के 85, विभाजन का एक, खातादारी घोषणा के चार, इजराय के 12, पत्थरगढ़ी के दो, स्थायी निषेधाज्ञा एवं नामान्तरण अपील के एक-एक तथा 27 अन्य प्रकरण निस्तारित किए गए। नसीराबाद के दिलवाड़ा में खाता दुरस्ती के 31, विभाजन के 5, खातेदारी घोषणा के दो, पत्थरगढ़ी का एक तथा एक अन्य प्रकरण निस्तारित किए गए। पीसांगन के रामपुरा डाबला में खाता दुरस्ती के 20 विभाजन के 3, स्थाई निषेधाज्ञा के 2, रास्ता धारा के दो, पत्थरगढ़ी का एक तथा अन्य पांच प्रकरण निस्तारित किए गए। रसूलपुरा में विभाजन एवं खातेदारी घोषणा के एक-एक, स्थाई निषेधाज्ञा के दो तथा सात अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया। भिनाय के नांदसी में खाता दुरस्ती का एक तथा खातेदारी घोषणा के तीन प्रकरण निस्तारित किए गए।
उन्होंने बताया कि तहसीलदार, नायब तहसीलदार स्तर पर रसूलपुरा में नामान्तरकरण के 20, खाता दुरस्ती का एक, खाता विभाजन के 6, सीमाज्ञान के 27 तथा राजस्व नकलों के 51 प्रकरण निस्तारित किए गए। ब्यावर के सूरजपुरा में नामान्तरकरण के 312, खाता दुरस्ती के 214, राजस्व नकलों के 147 तथा 128 अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया। नसीराबाद के दिलवाड़ा में नामान्तरकरण के 61, खाता दुरस्ती का एक, खाता विभाजन के चार, सीमाज्ञान संबंधी चार, धारा 251 के पांच, राजस्व नकलों के 302 तथा 305 अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया। पीसांगन के रामपुरा डाबला में नामान्तरकरण के 63, खाता दुरस्ती के 53, खाता विभाजन के 12, सीमाज्ञान संबंधी 7, राजस्व नकलों के 248 तथा 76 अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया। भिनाय के नांदसी में नामान्तरणकरण के 90, खाता विभाजन के 2,सीमाज्ञान संबंधी 18, राजस्व नकलों के 210 तथा 191, केकड़ी के बाजठटा में नामांतकररण के 162, खाता दुरूस्ती के 255, खाता विभाजन के 23, धारा 251 के 2, सीमाज्ञान संबंधी 2, राजस्व नकलों के 215 तथा 182 अन्य प्रकरण निस्तारित किए गए। इसी प्रकार दादिया में 115 नामांतरकण, 81 खाता दुरूस्ती के, 3 खाता विभाजन, सीमाज्ञान संबंधी 14, राजस्व नकलों के 345 तथा 143 अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया।

Leave a Comment