राजस्थान में उपचुनाव के बाद हो सकता है फेर बदल

राजेश टंडन एडवोकेट

राजेश टंडन एडवोकेट

राजस्थान के नए मुख्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ , हो सकते है बडा ऐतिहासिक फेर बदल की सम्भावना हो सकती है , राज्यवर्धन सिहं जैसलमेर के हैं औऱ बीकानेर पले बडे हुये है तथा जयपुर से सासंद औऱ दिल्ली में मंत्री तथा राजपूत समाज के सर्व मान्य नेता हो सकते है ,और राजपूत समाज 90% भाजपा के साथ रहता है दिल्ली में इस विषय पर गहन विचार मंथन चल रहा है , राज्यवर्धन बडी साफ सुथरी छवि के मालिक हैं ऐसी छवि कि व्यक्ती राजनीति में मिलना मुश्किल ही नहीं असंभव है* ,
*गेंगस्टर कुख्यात आंनद पाल के एनकाउंटर के बाद बडे भाई राजपूत समाज और छोटे भाई रावणा राजपूत समाज की नाराजगी के चलते अब यह फेरबदल अनिवार्य सा लगने लगा है भाजपा आलाकमान को ,राजस्थान के दोनों शक्ति पुंज रावणा व राजपूत समाज की वजह से मध्यप्रदेश , उत्तर प्रदेश , आदि के राजपूत भी भाजपा से नाराज हो रहे हैं इसलिए डेमज कंट्रोल करना अति आवश्यक हो गया है , राजपूत समाज किसी भी तरह से वसुंधरा जी से राजी नहीं हो रहा है , जैसलमेर में वसुंधरा जी राजपूतों से और रावणा राजपूत सरदारों से मिली थीं पिछले दिनों तो दोनों राजस्थान के महान समाजों ने अपनी नाराजगी प्रकट करी थी और मेडम जी को पीछा छुडवाना भारी पड गया था* ,

*इस सारे प्रकरणों में वसुंधरा सरकार के एक समय के बडे प्रभावी मंत्री जी भी आग में घी डाल रहे हैं , क्योंकि उनका वसु मेडम के पुत्र सासंद महोदय से एक अन्तरगं सम्बंध को ले कर विवाद हो गया था और मंत्री महोदय बहुत आहत हुऐ थे और खून का घूंट पी कर रह गये थे जो व्यवहार उनके साथ हुआ उसकी उनको कभी अपेक्षा भी नहीं थी , इस प्रकरण को लेकर भी मंत्री महोदय का संभाग और समाज अंदर ही अंदर बहुत नाराज है , और मौके की तलाश में घात लगाये रहता है और बडी तरकीब से आग में घी डालता रहता है* ,

राजेश टंडन वकील अजमेर*

Print Friendly

Choose your typing language Ajmer Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>