महिंद्रा एएमसी ने पेश किया महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना

शुरुआती सदस्यता हेतु नए फंड का ऑफर 8 जनवरी से 22 जनवरी, तक

Right to Left- Mr. Ashutosh Bishnoi, MD & CEO - Mahindra Mutual Fund & Mr. Ashwani Wadhwaइंदौर, 10 जनवरी, 2018ः महिंद्रा फाईनेंस की सहायक कंपनी तथा महिंद्रा म्युचुअल फंड की इनवेस्ट मैनेजमेंट कंपनी महिंद्रा असेट मैनेजमेंट कंपनी प्राइवेट लिमिटेड ने महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना को लांच करने की घोषणा की है। यह एक मिडकैप फंड तथा ओपेन एंडेड इक्विटी स्कीम है, जो मुख्यतया मिडकैप केस्टॉक्स में निवेश करेगा। इस नए फंड का ऑफर 8 जनवरी 2018 को खुलकर 22 जनवरी को बंद होगा। 6 फरवरी के बाद यह फंड फिर से क्रय- विक्रय के लिए खुलेगा।

महिंद्रा एएमसी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशुतोष बिश्नोई ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है और चूंकि भारत सरकार सुधारों, निवेश के अवसरों को बढ़ाने पर काम कर रही है, अतएव इससे अर्थव्यवस्था और भी सुदृढ़ होगी, जो असंगठित बाजार शेयर को संगठित बाजार में रुपांतरित करेगा, जो कि एक बहुत बड़ा उपभोक्ता सेगमेंट का खंडित क्षेत्र है। इससे हर घर में तरक्की होगी और राष्ट्र की तरक्की में यह सहायक सिद्ध होगा।

बिश्नोई ने आगे कहा कि, अपेक्षाकृत मंदी के माहौल में भी मिडकैप कंपनियों ने लॉर्ज कैप कंपनियों की तुलनमा में उम्दा प्रदर्शन कर आय में अच्छी वृद्धि दर्ज की है। मिडकैप के क्षेत्र में हम स्टॉक्स से संबंधित निवेश में अच्छे खासे अवसर देख रहे हैं। खासकर उन क्षेत्रों में जिसमें बहुवार्षिक संरचनात्मक वृद्धि की संभावनाएं हैं। जैसे दृजैसे अर्थव्यवस्था बड़ी होती जाएगी, एक अच्छा बाजार के तैयार होने की संभावना बलवती होगी, जिसमें बहुतेरे सेक्टरों के लिए बेहतरीन अवसर प्राप्त होंगे। यह फंड उन निवेशकों को उभरती हुई कंपनियों की विकास यात्रा में सहभागी होने का एक मौका प्रदान करेगा, जिनके पास भविष्य में मार्केट लीडर बनने की योग्यता है।

अधो लिखित 4 कारण हैं, जिससे महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना में निवेश किया जा सकता है।
(1) बढ़ता भारत- विश्व की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बनने का माद्दा भारत में है।
(2) रिटर्न की क्षमता- मध्यम आकार वाले व्यापार जो खुद को नियमित रूप से अपग्रेड और परिष्कृत करते रहते हैं, उनके पास लंबी अवधि में जोखिम से समायोजित ज्यादा रिटर्न पाने की योग्यता होती है।
(3) निवेश की गुणवत्ता- सभी सेक्टरों में से स्थिर रूप से प्रदर्शन करने वाले व्यापार का बॉटमअप चुनाव जो आगे चलकर लॉर्ज कैप बन सकते हैं।
(4) सक्रिय प्रबंधन- पोर्टफोलियो का प्रबंधन कुशलता पूर्वक किया जाना, जिसका मुख्य उद्देश्य मिडकैप में निवेश करना है।
महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना उन निवेशकों के लिए उपयुक्त है, जो लंबी अवधि के पूंजी अर्जन में भरोसा रखते हैं।
यह स्कीम न्यूनतम 65 फीसदी मिडकैप कंपनियों में और बाकी 35 फीसदी दूसरी कंपनियों में निवेश करेगी। स्टॉक्स का बॉटम- अपसेलेक्शन छोटे बाजार में मार्केट लीडरों पर फोकस करेगा या बड़े मार्केट में सिंगल लाइन बिजनेस में फोकस करेगा, जिसने वृद्धि दर्शाई हो और उसमें अगला लॉर्डकैप बनने की संभावना हो।

Print Friendly

Choose your typing language Ajmer Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>