बच्चे देश का भविष्य-श्रीमती गौड़

Gorv 1बीकानेर,14 नवम्बर। रानी बाजार स्थित लक्की मॉडल सीनियर सैकण्डरी विद्यालय में बाल दिवस पर मंगलवार को आयोजित समारोह में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री स्व.जवाहर लाल नेहरू के चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित की गई। इस अवसर पर अतिथियों और विद्यालय स्टॉफ ने चाचा नहेरू के व्यक्तित्व एवं कृतित्व के बारे में छात्र-छात्राओं कोे जानकारी दी।
समाज सेविका सुनीता गौड़ ने कहा कि बच्चे नाजुक मन के होते हैं और हर छोटी चीज या बात उनके दिमाग पर असर डालती है। उनका आज, देश के आने वाले कल के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसलिए उनके क्रियाकलापों, उन्हें दिए जाने वाले ज्ञान और संस्कारों पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाना चाहिए। उन्हांेने कहा कि इसके साथ ही बच्चों की मानसिक और शारीरिक सेहत का ख्याल रखना भी बेहद जरूरी है। बच्चों को सही शिक्षा, पोषण, संस्कार मिले यह देशहित के लिए बेहद अहम है, क्योंकि आज के बच्चे ही कल का भविष्य है।
शाला प्राचार्य ने भागमल सैनी ने कहा कि बच्चे हमारे बगीचे की नन्हीं कलियों जैसे होते हैं। इन नन्हें बच्चों को बेहद सावधानी और प्यार के साथ बड़ा करना चाहिए। वही देश का भविष्य है। उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू को बच्चों से विशेष लगाव था,इस कारण उन्हें बच्चे चाचा के नाम से जानते है। इस अवसर पर अध्यापक रवि कुमार देवड़ा,गोपाल गहलोत और देवाशीष गौड़ उपस्थित थे।

Leave a Comment