सोनी YAY! ने अपने सालाना कार्यक्रम ‘हीरोज बिहाइंड द हीरोज’ के साथ शिक्षक दिवस मनाया

आज के आइकॉन्स के पीछे प्रेरक शक्ति बनने के लिए उनके प्रयासों और योदगान को स्वीकार करते हुए यह चैनल डीवाइन, रेमो डिसूज़ा, दिनेश लाड, दिलीप वेंगसरकर, पुलेला गोपीचंद, अफरोज शाह और रिया शर्मा जैसे प्रख्यात व्यक्तियों का सम्मान कर चुका है

सच्चे हीरोज हमेशा लबादा नहीं ओढ़ते; वे लोगों को सिखाते हैं, मार्गदर्शन प्रदान करते हैं और उनके सर्वश्रेष्ठ संभावनाओं को साकार करने में सहायता करते हैं. अपने ज्ञान और परख के साथ हमारे लिए अपने अनगिनत घंटे समर्पित करने वाले ये शिक्षक ही हैं जो अपने खून, पसीने और प्रेम के साथ हमारे जीवन में सबसे बड़े सुपर हीरो बन जाते हैं. भले ही हम विभिन्न क्षेत्रों में बेशुमार सफल आइकॉन्स की ओर देखते हैं, लेकिन ये उनके शिक्षक ही हैं जो उन्हें सफलता के और प्रेरित करते हैं. इस वर्ष, शिक्षक दिवस के अवसर पर सोनी YAY! एक विशिष्ट पहल ‘हीरोज बिहाइंड थे हीरोज’ के माध्यम से इन असली हीरोज का कीर्तिगान कर रहा है.
भारत में हमेशा से शिक्षकों को ऊंचा स्थान दिया जाता रहा है. शिक्षक दिवस के वार्षिक समारोह को आगे बढ़ाते हुए, सोनी YAY के ‘हीरोज बिहाइंड द हीरोज’ कैंपेन द्वारा उन सलाहकारों/गुरुओं का सामान और कीर्तिगान किया जा रहा है, जिन्होंने न केवल विभिन्न क्षेत्रों में विश्वस्तरीय लोगों को सजाया-संवारा है, बल्कि उभरती प्रतिभा को आज भी प्रोत्साहित कर रहे हैं. सोनी YAY! का लक्ष्य बच्चों का उनके शिक्षकों, सलाहकारों और मार्गदर्शकों के साथ बंधन को और मजबूत करना है.
विगत दो वर्षों में, जब अनेक शिक्षक और स्टूडेंट्स एक मंच पर आये थे, प्राप्त अभूतपूर्व समर्थन के आधार पर ‘हीरोज बिहाइंड द हीरोज’ के तीसरे संस्करण में भी राष्ट्र के प्रख्यात मेंटर्स को सम्मानित किया जाएगा. हीरोज बिहाइंड द हीरोज के पिछले संस्करणों में सान्या मिर्ज़ा, टेरेंस लेविस, सुभाष घई, कैलाश सत्यार्थी, उस्ताद अमजद अली खान एवं अनेक अन्य जैसे महान समर्थकों को उनके प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया है.
वर्तमान संस्करण में सोनी YAY! ने निम्नलिखित प्रेरणादायक व्यक्तियों को सम्मानित किया :
डिवाइन के नाम के लोकप्रिय, विवियन फ़र्नांडिस भारतीय रैप्पर हैं जिन्होंने रैप और हिप-हॉप को सीधे गलियों से मुंबई पहुंचा कर एक नयी लहर पैदा की. अभी तक अनसुनी एक विधा को डिवाइन ने दुनिया के सामने पेश किया और भारत के छिपे रैप आन्दोलन की नयी परिभाषा तय की. रैप विधा को और अधिक बुलंदियों तक पहुंचाने और नए सुपरस्टार्स को आगे बढ़ाने के अपने प्रयासों में डिवाइन आजकल अपने बैनर, गली गैंग एंटरटेनमेंट के माध्यम से चौबीसों घंटे कंटेंट तैयार करते हुए देसी हिप-हॉप प्रतिभा की खोज और प्रबंधन करते हैं.
भारतीय सिनेमा उद्योग में एक दसक से अधिक समय से व्यस्त रहने वाले रेमो डिसूजा, आज न केवल फिल्म निर्देशक के रूप में कामयाबी के लिए जाने जाते हैं, बल्कि डांस के प्रति अपने जबरदस्त जूनून और हूनर के लिए भी लोकप्रिय है. एक उत्कृष्ट कोरियोग्राफर के तौर पर वे अपने प्रतिष्ठित रेमोज डांस इंस्टिट्यूट में डांसरों को मार्गदर्शन और प्रशिक्षण देते हुए अपनी विशेषज्ञता को आगे बढ़ा रहे हैं. भारतीय सिनेमा में उल्लेखनीय योगदान करने वाले उनके स्टूडेंट्स फ्रीस्टाइल, ब्रेक डांस, हिप हॉप, जाज़, कंटेम्पररी, वाल्ट्ज, सालसा और बॉलीवुड स्टाइल जैसी विभिन्न नृत्य विधाओं में माहिर हो चुके हैं. उनके शिष्य देश और विदेशों में अनेक पुरस्कार समारोहों तथा अन्य प्रतिष्ठित आयोजनों में अपने परफॉरमेंस से धूम मचा रहे हैं.
निर्देशक महेश भट्ट हिंदी सिनेमा में अपने विशिष्ट कार्य के लिए विख्यात हैं. भारतीय फिल्म निर्माता के रूप में इन्हें न केवल भारतीय फिल्म बिरादरी में बल्कि पूरे विश्व में उच्च सम्मान प्राप्त है. इन्होंने बॉलीवुड के अनेक कामयाब कलाकारों को मार्गदर्शन और प्रशिक्षण प्रदान किया है और फिल्‍म उद्योग में कुछ सबसे बेहतरीन कृतियों के लिए मशहूर हैं.
हीरोज बिहाइंड द हीरोज कैंपेन द्वारा उन गुरुओं का भी सम्मान किया गया है, जिन्होंने देश का प्रतिनिधित्व करने वाले क्रिकेट आइकॉन्स बनाए बल्कि अपने-अपने क्रिकेट अकादमियों के माध्यम से मुंबई में जमीनी क्रिकेट को काफी समृद्ध बनाया है. दिनेश लाड क्रिकेट जगत में एक प्रसिद्ध नाम हैं. दिनेश को देश के वर्तमान वाईस कप्तान, रोहित शर्मा और अपने बेटे सिद्देश लाड की क्रिकेट प्रतिभा को विकसित करने और संवारने का श्रेय प्राप्त है. इतना ही नहीं, वे स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल में प्रतिभाओं को प्रशिक्षित करने का काम कर रहे हैं.
मुंबई के ही मैदानों से निकले, श्री दिलीप वेंगसरकर आजकल शहर में तीन-तीन अकादमियों के प्रमुख हैं. इस चैनल ने भारतीय क्रिकेट में उनके योगदान के अलावा अजित अगरकर और रमेश पोवार जैसे मशहूर क्रिकेट खिलाडियों को प्रशिक्षित और दीक्षित करने के लिए समानित किया. उनके मार्गदर्शन में आज के उभरते क्रिकेट खिलाड़ियों ने भारत का प्रतिनिधित्व करने का अपना सपना पूरा करने के दिशा में अपने-अपने क्रिकेट कौशल को निखारा है.
केवल क्रिकेट ही नहीं, बैडमिंटन के खिलाड़ी भी विश्व मंच पर अपना प्रभुत्व स्थापित करते हुए देश के लिए गौरव हासिल कर रहे हैं. भविष्य के नए बैडमिंटन स्टार्स को प्रस्तुत करने में सबसे अधिक प्रेरक व्यक्तित्वों में से एक है, श्री पुलेला गोपीचंद. श्री गोपीचंद ने सान्या नेहवाल और पी.वी.सिन्धु जैसों को अपनी छत्रछाया प्रदान की और उन्हें सम्पूर्णता तक प्रशिक्षित किया. 2009 के द्रोणाचार्य पुरस्कार-प्राप्त पुलेला गोपीचंद, इन दो सुपरस्टार्स के अलावा, हैदराबाद स्थित अपने गोपीचंद बैडमिंटन अकैडमी में नवयुवा लड़के-लड़कियों को बैडमिंटन का प्रशिक्षण दे रहे हैं. वे खुद भी बैडमिंटन खिलाड़ी हैं और भारतीय बैडमिंटन दल को राष्ट्रीय कोच के रूप में अपनी गुरुत्व प्रदान कर रहे हैं.
इस पहल के अंतर्गत जीवन के अन्य क्षेत्रों के हीरोज को भी सम्मानित किया गया है. उनमें से एक हैं अफरोज शाह, जो मुंबई शहर में समुद्रतट की सफाई के सबसे बड़े अभियान के जनक हैं. मुंबई निवासी और पेशे से वकील, अफरोज शाह ने अक्टूबर 2015 में इस अभियान का सूत्रपात किया जिसके तहत तीन साल में 2.5 किलोमीटर लंबा वर्सोवा तट की सूरत बदल गयी. हर रविवार को वर्सोवा तट की सफाई दुनिया में सबसे बड़े नागरिक अभियानों में से एक था. उनकी कोशिशों को संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी मान्यता दी और 2016 में उन्हें चैंपियंस ऑफ़ द अर्थ अवार्ड से सम्मानित किया.
इस पहल के माध्यम से सम्मानित एक और नाम है रिया शर्मा का. रिया शर्मा ‘मेक लव नॉट स्कार्स’ (एमएलएनएस) नामक एनजीओ की संस्थापिका हैं. एमएलएनएस ने 2014 से लेकर अभी तक तेज़ाब के हमले की शिकार साठ से अधिक व्यक्तियों का पुनर्वास किया है. उनके कैंपेन #एंडएसिडसेल को 2016 में फिल्म में गोल्ड कांस लायन से पुरस्कृत किया गया था. विगत वर्षों में उनके एनजीओ, जो भारत में एसिड अटैक उत्तरजीवियों के लिए धनराशि एकत्र करता है, ने अनेक उत्तरजीवियों को चिकित्सीय, कानूनी, आर्थिक, मनोवैज्ञानिक और शैक्षणिक रूप से पुनर्स्थापित करने में सहयोग किया है.
इस हृदयस्पर्शी पहल में सोनी YAY! की मशहूर झोडी हनी और बनी ने मनोरंजन का तड़का लगाया. अपने हलके-फुल्के हंसी-मजाक केऔर बच्चों को अपने दोस्ताना अंदाज़ से कुछ-न-कुछ सिखाते रहने के लिए मशहूर इस जोड़ी ने इन हीरोज को सम्मानित किया. आइकॉन्स के लिए यह एक आनंददायक अनुभव था जैसा कि इस बिल्ली-सदृश जोड़ी व्यक्तिगत तौर पर उन्हें सम्मानित करने उन तक पहुँची थे.
इस कैम्पेन में माध्यम से चैनल का लक्ष्य इन शख्सियतों को सम्मानित करना है जो उत्कृष्टता के अध्यवसाय में निरंतर लगे हैं और कल के नए चैंपियन तैयार कर रहे हैं. आज के हीरोज को ढालने वाले इन गुरुओं को, उनके जीवन के रचनात्मक वर्षों के दौरान हृदयस्पर्शी निःस्वार्थ योगदान के लिए, सम्मानित करना ही हीरोज बिहाइंड द हीरोज का असली उद्देश्य है!

टिप्पणी :

लीना लेले दत्ता, बिज़नेस हेड, सोनी पिक्टुरेस नेटवर्क्स इंडिया, किड्स जेनर !

“सोनी YAY! का द हीरोज बिहाइंड द हीरोज उन शिक्षकों का एक निरंतर सम्मान अभियान है, जिन्होंने आज के रोले-मॉडल्स का निर्माण किया है. इन लोगों ने न केवल अपने शिष्यों की प्रतिभा को सान पर चढ़ाने और विकसित करने में निःस्वार्थ भाव से अपना जीवन समर्पित कर दिया, बल्कि अगली पीढ़ी के उभरते नवयुवाओं को संवारने और सिखाने का काम भी किया. सोनी YAY!, इस पहल के माध्यम से इन हीरोज को समानित और प्रचारित तो कर ही रहा है, शिक्षक द्वारा हमारे जीवन में जिन मूलभूत मूल्यों का समावेश किया जाता है, उसे भी उजागर कर रहा है. हम इन प्रतिष्ठित शख्सियतों को सलाम करते हैं, उत्कृष्टता का पोषण करने और कल के चैंपियन प्रस्तुत करने की दिशा में उनके निःस्वार्थ प्रयासों के लिए उनका आभार व्यक्त करते हैं.”
बॉलीवुड कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा : “इस अद्भुत अवार्ड और विभिन्न क्षेत्रों के शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए सोनी YAY! का बहुत-बहुत धन्यवाद! यह अवार्ड इन सभी मौन हीरोज का साक्षी है जो आज के रोल मॉडल्स की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. यह सोनी YAY! की एक शानदार पहल है, इसलिए कि हमें सफल बनाने में योगदान करने वालों का सम्मान करना सदैव उत्तम होता है. मुझे हीरोज बिहाइंड द हीरोज का अवार्ड प्रदान करने के लिए मैं हनी-बनी और सोनी YAY! को धयवाद देता हूँ.”
शानदार रैप्पर और गली गैंग एंटरटेनमेंट के संस्थापक, डिवाइन : ”शिक्षक महज कोई व्यक्ति नहीं, जिनसे आप क्लासरूम में मिलते हैं. जीवन, और जीवन में मिलने वाले लोग, सभी हमें अपने खुद के बारे में कुछ न कुछ सिखाते हैं. मेरे जीवन ने मुझे अपने संगीत के विषय में प्रामाणिक और ईमानदार बनना सिखाया, और मेरे लिए सम्मान की बात है कि मुझसे अन्य रैप्पर्स को अपनी जड़ों और अपने मूल स्थान पर गर्व करने की प्रेरणा मिली है. मैं हीरोज बिहाइंड द हीरोज अवार्ड के लिए सचमुच सोनी YAY! का आभारी हूँ.”
पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी और भारत के मुख्य राष्ट्रीय कोच, पी. गोपीचंद : “सोनी YAY! के इस उदात्त भाव को मैं अत्यंत विनम्रता से स्वीकार करता हूँ. किसी व्यक्ति के करियर को ढालने में आपके प्रयासों के लिए सम्मानित होना सचमुच एक सुखद अनुभव होता है और यह पहल इस उद्देश्य को पूरा करती है.”
पूर्व भारतीय क्रिकेटर और वेंगसरकर क्रिकेट अकैडमी के संस्थापक, दिलीप वेंगसरकर : क्रिकेट बड़ी सहजता से मेरे जीवन में रचा-बसा रहा है. उच्चतम स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने से लेकर प्रतिभाओं को पोषित-पल्लवित करने तक, यह एक सुखद सफ़र रहा है. समर्पण के उन वर्षों का थोड़ा आभार और सम्मान निश्चित ही शिक्षकों को अच्छा लगेगा. मुझे बेहद खुशी है कि सोनी YAY! ने यह पहल आरम्भ की है और इस माध्यम से अलसी हीरोज बिहाइंड द हीरोज का सामान करना चाहता है. सोनी YAY! को धन्यवाद!
सामाजिक कार्यकर्ता, रिया शर्मा : “मैं सोनी YAY! के हीरोज बिहाइंड द हीरोज पहल द्वारा अत्यंत सम्मानित महसूस कर रही हूँ. इस तरह के कदमों से इस उम्मीद को ताकत मिलेगी कि सामाजिक मुद्दों को उजागर करने के मामले में निगमों और सामाजिक रूप से जागरूक समुदाय का सहयोग मिल सकता है और मैं व्यक्तिगत रूप से उनका आभारी हूँ. मैं इस पहल को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें शुभकामना देती हूँ. और इससे जुड़ने की उम्मीद करती हूँ. मुझे अपने मुद्दे पर जागरूकता फैलाने के लिए यह मंच मुहैया करने और इस अवार्ड के लिए उन्हें धन्यवाद देती हूँ. मैं सचमुच आभारी हूँ.”

Leave a Comment

error: Content is protected !!