#Mee_Too के समर्थन में ..!

मैं वैश्विक रूप से चल रहे मी टू अभियान का समर्थन करता हूँ। हर दौर में कमजोर और हाशिये की जमातों का हर प्रकार से शोषण हुआ है,आज भी हो रहा है और आगे भी होता रहेगा,अगर उसे चुपचाप सहन किया गया तो ..इसलिए अगर वंचित तबके बोलते है ,तो मैं बेशर्त उनके समर्थन में … Read more

जन्नत के बहाने

जन्नत१ के बहाने क्यों दोज़ख़२ की तरफ़ ले जाते हो ए जिहाद वालों क्यों तुम मासूमो को बरगलाते हो बताओ कौन से ख़ुदा ने कहा है पाक है क़त्ल-ए-इंसाँ३ ख़ुदाई में वो अपनी मोहब्बत करने को तुमसे कहता है हूर की बात तुम करते हो जो जन्नत में मिलेगी पर क्यों छुपाते हो, दोज़ख़ भी … Read more

राजनीति में युवा सक्रियता के लिये प्रयास

कभी-कभी लगता है समय का पहिया तेजी से चल रहा है जिस प्रकार से घटनाक्रम चल रहा है, वह और भी इस आभास की पुष्टि करा देता है। पर समय की गति न तेज होती है, न रुकती है। हां पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव घोषित हो जाने से तथा प्रक्रिया प्रारंभ हो जाने से … Read more

राजस्थान में सत्ता विरोधी लहर का ठीकरा विधायकों पर फोड़ना भाजपा की भूल होगी

*भाजपा करीब सौ विधायकों के टिकट काटकर नए चेहरों पर दांव खेलने की बना रही है रणनीति* राजस्थान में पिछले 20 सालों से जनता के मिजाज और विधानसभा में दोबारा जीतकर पहुंचे विधायकों की संख्या के ट्रेंड के मद्देनजर व राज्य में एंटी इनकम्बेंसी को देखते हुए भाजपा करीब 100 विधायकों के टिकट काट कर … Read more

बटन सेल से शिशु की दर्दनाक मौत

पहली वर्ष गाँठ मनाने के बाद बटन सेल खा जाने से मेरे बचपन के एक मित्र के पोते क़ुहान की ह्रदय विदारक मौत हो गयी. ये बटन सेल क्या उपहार में आये किसी खिलोने का था, या किसी अन्य उपकरण का ये किसी को ज्ञात नहीं, न ये पता की सेल उसके हाथ में कैसे … Read more

सपा मुहिम: वाराणसी में मोदी के खिलाफ शत्रुघ्न

बड़ा सवाल: पीएम चुनने वाला, किसी और क्यों मौका देगा संजय सक्सेना,लखनऊ रतीय जनता पार्टी के सांसद और गुजरे जमाने के सिने कलाकार शत्रुघ्न सिन्हा किसी पहचान को मोहताज नहीं हैं। उनका जितना ऊंचा कद है,उतने ही बड़े विवाद उनके साथ जुड़े हैं। अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल में रह चुके शत्रुघ्न इन दिनों जब … Read more

मां दुर्गा से है बस चाह इतनी …!!

ढाक भी वही सौगात भी वही पर वो बात कहां जो बचपन में थी ठेले भी वही , मेले भी वही मगर वो बात कहां जो बचपन में थी ऊंचे से और ऊंचे तो भव्य से और भव्य होते गए मां दुर्गा के पूजा पंडाल लेकिन परिक्रमा में वो बात कहां जो बचपन में थी … Read more

अभी तो गरज है, सब याद आएंगे

सभी दलों के नेताओं, मंत्रियों, विधायकों और टिकट के दावेदारों को याद आ रहे हैं सभी देवी देवता, महापुरुष, वीर योद्धा व वीर नारियां, विधानसभा चुनाव जो आ गए हैं जी हां, यह बिल्कुल सही बात है। यकीन ना हो तो सोशल मीडिया की किसी भी साइट पर चले जाइए। भाजपा, कांग्रेस सहित अन्य दलों … Read more

काश! तुम मेरे प्यार को समझ पाती

काश! तुम मेरे प्यार को समझ पाती परिणय की परिपाटी में तुम पर न्यौछावर हुआ तुम्हें अपना वर्तमान और भविष्य माना हर पग तेरे साथ चलने की कोशिश की, तुम में ही अपना सर्वस्व ढूँढा काश! तुम मेरे प्यार को समझ पाती। हर रात उठ-उठ कर तेरे चेहरे में ख़ुद को ढूँढा हर सुबह उठ … Read more

नदी किनारे रेत पर

नदी किनारे रेत पर ढूँढता हूँ बचपन के निशान सख़्त गर्मी की शामों में अक्सर रेत पर बैठकर ठंडी वयार और शीतल लहरों का आनंद लेना ढलते सूरज की लालिमा में सराबोर संध्यासुख में खो जाना नदी में पत्थर फेंक कर बुलबुलों को गिनना रेत हवा में उछालना और फिर सिर से कंकड़ साफ़ करना … Read more

पांच राज्यों में कांग्रेस की ही अग्निपरीक्षा है

चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखें घोषित कर दीं, लेकिन एक हद तक मिजोरम और राजस्थान को छोड़ दें तो कहीं भी यह साफ नहीं है कि लड़ाई का स्वरूप क्या होगा? फिर भी ये चुनाव केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के लिए काफी महत्वपूर्ण … Read more