भारत में न्यूट्रास्यूटिकल उत्पादों का बाजार

दुनिया ने भारत को एक ऐसी बड़ी शक्ति के रूप में देखना शुरू कर दिया है जो विकासशील देशों के बीच उच्च क्रय शक्ति रखने वाली सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। भारत में निजी संपत्ति के साथ लोगों की प्रति व्यक्ति आय पिछले एक दशक में बढ़ी है, जो जीवन में बेहतर बदलाब … Read more

क्या बताएं किसी को की क्या हालत है?

क्या बताएं किसी को की क्या हालत है? या कहें की किसी नादाँ दिल की शरारत है, गुमसुम है दिल, अरमान है बहके बहके से, और “पाठक” है खामोश ये भी तो शराफत है… समंदर में आये तूफान तो लोग कहते है आफत है और दरिया मचल भी जाए तो भी नजाकत है उसने हमें … Read more

गज़लों की दुनिया के बादशाह- सुरेन्द्र चतुर्वेदी

अजमेर राजस्थान से वास्ता रखने वाले सुरेन्द्र चतुर्वेदी ने 1974 से गज़लों की दुनिया में आगाज़ किया और देशभर में शोहरत के बड़े-बड़े खम्बे गाढ़ दिये। उन्होंने दर्द-वे-अंदाज, सलीब पर टंगा सूरज उपन्यास, वक्त के खिलाफ, कभी नही सूखता सागर, अंदाजे बयां और गज़ल आसमां मेरा भी, अंजाम खुदा जाने जैसे दर्जन भर से भी … Read more

पूरा पढ़ो फिर आगे बढ़ो

मेरे इशारे पर ही काम करने वाला व्यक्ति ईमानदार है और मेरा विरोध करने वाला व्यक्ति राष्ट्रविरोधी है । क्या आप मेरी इस ईमानदारी और राष्ट्रभक्ति की परिभाषा से सहमत है ? और आप सहमत है या नही इस बात से मुझे कोई फर्क नही पड़ता क्योकि मै ही स्वयम् सास्वत सत्य हूं इस लिए … Read more

यूपी में मायावती बीजेपी के खिलाफ निर्विवाद रूप से सबसे बड़ी नेत्री

-संजय सक्सेना- लखनऊ। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की प्रेस कांफ्रेस हो चुकी है। दोनों 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगें। मायावती ने भाजपा और कांग्रेस को तौला तो एक ही तराजू पर लेकिन अमेठी में राहुल गांधी ओर और रायबरेली सोनिया गांधी के खिलाफ गठबंधन का कोई प्रत्याशी नहीं उतारे जाने की बात कहकर … Read more

आर्थिक मोर्चे पर भारत की सुदृढ़ता

एक बार फिर विश्व बैंक ने भारत को दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली बड़ी अर्थव्यवस्था घोषित किया है। जबकि उसने वर्ष 2021 तक वैश्विक अर्थव्यवस्था में गिरावट का पुर्वानुमान जारी किया है। हमारी अर्थव्यवस्था का दुनिया की उभरती अर्थव्यवस्था एवं मंदी से अप्रभावित अर्थव्यवस्था होना, देश के लिये एक सुखद अहसास है और … Read more

कशमकश में हूँ की कहूं कैसे

कशमकश में हूँ की कहूं कैसे, उसके लिए मैं हूँ ये समझाऊँ कैसे, उसे भी चाहिए एक साथी जो उसे समझे, मैं उसका जैसा हूँ ये बताऊँ कैसे? कुछ ही फर्क है मेरी और उसकी कहानी में, बाकि तो सारी कहानी एक जैसी हो जैसे, जीना उसे आता है ये मालूम है मुझको, पर न … Read more

आर्थिक आरक्षण की सुबह का होना

नरेन्द्र मोदी सरकार ने आर्थिक निर्बलता के आधार पर दस प्रतिशत आरक्षण देने का जो फैसला किया है वह निश्चित रूप से साहिसक कदम है, एक बड़ी राजनीतिक पहल है। इस फैसले से आर्थिक असमानता के साथ ही जातीय वैमनस्य को दूर करने की दिशा में नयी फिजाएं उद्घाटित होंगी। निश्चित ही मोदी सरकार ने … Read more

खुशहाल जिन्दगी का रहस्य

स्वामी विवेकानंदजी और उनके गुरु रामक्रष्ण परमहंस के सवाल जबाव में छिपा हुआ है खुशहाल जिन्दगी का रहस्य आईये देखें रामक्रष्ण परमहंसदेव और उनके शिष्य स्वामी विवेकानंदजी के बीच में हुये वादविवाद में छिपे हुये खुशहाल जिन्दगी के रहस्य को | यहाँ प्रश्नकर्ता स्वामीजी है और उत्तर देने वाले परमहंसदेव है | प्रश्नजीवन की जटिलता … Read more

……..फिर चली बात प्रियंका की!

-संजय सक्सेना, लखनऊ- लोकसभा चुनाव की दस्तक सुनाई देते ही कांग्रेस का एक धड़ा पुनः प्रियंका गांधी वाड्रा के पक्ष में माहौल बनाने लगा है। अबकी बार प्रियंका के राबयरेली से लोकसभा चुनाव लड़ने की बात कही जा रही है। कहा यह जा रहा है कि स्वास्थ्य कारणों से सोनिया गांधी अबकी से लोकसभा चुनाव … Read more