अलमस्त मगर खांटी पत्रकार थे श्री रविन्द्र सिंह

नब्बे के दषक में अजमेर के पत्रकार जगत में ऐसे अनेक पत्रकारों ने प्रवेष किया, जिनकी षैक्षिक पृश्ठभूमि अच्छी थी, वे कहीं न कहीं साहित्य से वाबस्ता थे, हिंदी पर खासी पकड थी। और सबसे बडी बात ये कि उनमें पत्रकारिता के क्षेत्र में कुछ नया करने का जज्बा था। कुछ ने दैनिक भास्कर से … Read more

धन्यवाद अजमेर, साधुवाद अजमेरियन

-अजमेर के इतिहास में संभवतः पहली बार इतना बड़ा ’’रैला’’ -हिंदुत्व की रक्षा के मुद्दे पर उमड़ा अपार जनसमूह -तेज धूप, भीषण गर्मी व उमस से बेहाल, फिर भी चलते रहे -पसीने से तर-बतर, चार किमी. सफर पैदल मार्च ✍️प्रेम आनन्दकर, अजमेर। 👉ना कोई बैनर-ना किसी संस्था का पोस्टर। ना नेता-ना कार्यकर्ता, ना छोटा-ना बड़ा, … Read more

मैने इसलिए ज्वाइन की आम आदमी पार्टी – रमेश टेहलानी

आपको विदित होगा कि मैने आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। इस खबर को पाने के बाद कई मित्रों/शुभचिंतकों ने बधाई दी और कुछ ने मेरे इस निर्णय पर प्रश्न उठाए। कुछ ने चिंता जताते हुए कहा कि आप जैसे ईमानदार स्वच्छ छवि वाले व्यक्तित्व को गंदी राजनीति से दूर रहना चाहिए। ऐसे … Read more

वाजपेयी जी के प्रबल समर्थक थे मन्नान राही चिश्ती साहब

बुजुर्ग शायर डॉण् सैयद अब्दुल मन्नान राही चिश्ती इस फानी दुनिया को अलविदा कह गए। उन्होने मौलाई शायरी की बदौलत अजमेर को देषभर में पहचान दिलााई। पन्नी गरान चौक में रहने वाले मन्नान साहब से मेरी मुलाकात वरिश्ठ पत्रकार मुजफ्फर अली के जरिए हुई। कई बार गुफ्तगू हुई। अजमेर के जाने माने व्यंग्य कवि रास … Read more

प्रणाम मन्नान राही साहब

आज यह खबर खबर पढ़कर मन उदास हो गया कि मन्नान राही साहब जन्नत नशीन हो गये। ऐसा कौन होगा जिसे शायरी से मोहब्बत हो और वह राही साहब से परिचित ना हो ..। अजमेर को शायरी लिखने और सुनने का सलीक़ा राही साहब ने सिखाया।उनके अनेक शागिर्द उनकी छाया में लिख-सीख कर ग़ज़ल की … Read more

अजमेरवासियों ने जो सूझबूझ दिखाई है, वह पूरे देश के लिए एक मिसाल है

*अजमेर की गंगा-जमुनी तहजीब को नहीं लगेगी किसी की नजर* -पूरे देश में सांप्रदायिक सौहार्द और भाईचारे का अजमेर से जाता है पैगाम -ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती यानी गरीब नवाज की दरगाह में सभी कौमों व धर्मों के लोग करते हैं सजदा ✍️प्रेम आनन्दकर, अजमेर। 👉 अजमेर सांप्रदायिक सौहार्द की नगरी है। गंगा-जमुनी तहजीब की नगरी … Read more

अजमेर के गौरव श्री प्रकाश गदिया

हालांकि इन दिनों रोजमर्रा की राजनीति में एक षख्स का नाम बहुत चर्चा में नहीं है, या यूं कहिये कि अखबारी सुर्खियों में कम ही नजर आते हैं, मगर अजमेर के चंद प्रभावषाली लोगों में उनका नाम षुमार है। वे हैं श्री प्रकाष गदिया। पेषे से वे डबल ए क्लास कॉन्टैक्टर हैं और अजमेर के … Read more

बेहतरीन इंसान सत्येश्वर प्रसाद शर्मा नहीं रहे

मुझे अपने जीवन में जिन चंद सज्जनों का सान्निध्य हासिल हुआ है, उनमें से एक हैं श्री सत्येष्वर प्रसाद षर्मा (बिजलवाण)। जब भी हम इंसानियत की बात करते हैं, तो उसके मूल में जिस इंसान की मौजूदगी है, उसकी प्रतिमूर्ति थे श्री षर्मा। सीधे, सज्जन, सरल, मृदुभाशी, दयालु। आम तौर पर पैदल ही आया-जाया करते … Read more

अब भी चौपालों औऱ यारो की महफ़िल में मिलते है डिप्टी मेयर नीरज जैन

शहर के बेबाक औऱ निर्भीक भाजपा नेता नीरज जैन भले ही अजमेर नगर निगम के डिप्टी मेयर बन गए हो। मगर आज भी इनके जीने और अपनों के बीच जाने की शैली नहीं बदली है। यदि आपको मर्यादित डिप्टी मेयर से मिलना हो तो वह नगर निगम में अपने चेम्बर में ही मिलेंगे। *बाकी बेबाक, … Read more

सुरेन्द्रसिंह शेखावत की नजर है मसूदा पर भी

राजनीतिक गलियारे में कानाफूसी है कि अजमेर नगर परिशद के पूर्व सभापति सुरेन्द्र सिंह षेखावत उर्फ लाला बना आगामी विधानसभा चुनाव में अजमेर उत्तर से तो भाजपा टिकट की दावेदारी करेंगे ही, साथ ही उनकी नजर अजमेर जिले के मसूदा विधानसभा क्षेत्र पर भी है। असल में यह सुगबुगाहट इसलिए हुई बताई कि हाल ही … Read more

हारने के बाद भी अजमेर की लगातार सेवा कर रहे हैं रिजू झुंझुनवाला

आम तौर पर जब भी कोई बाहर का प्रत्याशी अजमेर से चुनाव लड़ता है और हार जाता है, तो उसके बाद पलट कर अजमेर की ओर नहीं झांकता। सैद्धांतिक रूप से यह बिलकुल गलत है। अगर हारने के बाद उन्हें अजमेर को छोड़ ही देना था तो काहे को चुनाव के वक्त ये वादे किए … Read more

error: Content is protected !!