बजरी के अवैध खनन व परिवहन को सख्ती से रोकने दिए निर्देश

बीकानेर,02जनवरी। जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम ने बुधवार को कोलायत मुख्यालय स्थित सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण किया और जनसुविधाओं में सुधार तथा आमजन के कार्य त्वरित निस्तारण करने निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने भगवान कपिल मुनी मंदिर में दर्शन किए और कपिल सरोवर का अवलोकन करते हुए इसकी सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।

गौतम ने कोलायत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया तथा वहां खराब एक्स-रे मशीन और 108 एम्बुलेंस दोनों को तत्काल ठीक करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस तरह की आवश्यक सेवाओं में ढिलाई और कमी रहना गंभीर मामला है। आवश्यक उपकरणों के खराब होने पर तत्काल सीएमएचओ को इसकी जानकारी दी जाकर व्यवस्थाओं को दुरूस्त करवाया जाए। उन्होंने सीएचसी में निःशुल्क दवा कीे उपलब्धता के बारे में भी जानकारी ली।

जिला कलक्टर ने उपखण्ड अधिकारी कार्यालय,तहसीलदार कार्यालय व पंचायत समिति कार्यालय का भी निरीक्षण किया तथा जनता से जुड़े कार्यों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने इन कार्यालयों में कार्मिकों की समय पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए और कहा कि देरी से आने वाले कार्मिकों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने एसडीएम तथा तहसीलदार कार्यालयों की प्रशासनिक रिपोर्ट पर संबंधित अधिकारियों से चर्चा की और कहा कि राजस्व,नामान्तरण,खातेदारी से जुड़े प्रकरणों को समयबद्ध तरीके से निस्तारित किया जाए। उन्हांेने दोनोें ही कार्यालयों में न्यायायिक प्रकरणों की भी जानकारी ली।

अवैध बजरी खनन पर लगे अकुंश-जिला कलक्टर ने कोलायत क्षेत्र में बजरी के अवैध खनन और परिवहन को सख्ती से रोकने के निर्देश दिए और कहा कि उपखण्ड अधिकारी,पुलिस तथा खनन विभाग आपसी समन्वय रखते हुए इस संबंध में प्रभावी कार्यवाही करें। इस कार्यवाही का प्रभाव दिखाई देना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे स्वयं इस क्षेत्र का औचक निरीक्षण करेंगे। अगर बजरी का अवैध खनन और परिवहन होता पाया जाता है,तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

सूरताराम की पेंशन हुई स्वीकृत-जिला कलक्टर जब तहसील कार्यालय का निरीक्षण कर रहे थे,तब वहां उन्हंे एक वृद्ध सूरता राम मेघवाल अपनी पंेशन स्वीकृति का आवेदन पत्र लिए दिखाई दिया। जिला कलक्टर ने सूरताराम को तहसील कार्यालय आने का प्रयोजन पूछा तो,उसने बताया कि वह पंेशन स्वीकृत कराने आया है। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि आपकी पंेशन पंचायत समिति कार्यालय से स्वीकृत होगी। अतः आप अभी पंचायत समिति पहंुचे। जिला कलक्टर ने विकास अधिकारी को फोन पर निर्देश दिए कि सूरताराम मेघवाल पंचायत समिति पहुंच रहा है,उसकी वृद्धावस्था पेंशन आज ही स्वीकृत होनी चाहिए। जिला कलक्टर के निर्देश मिलने पर विकास अधिकारी ने पंेशन आवेदन की जांच के बाद तुरन्त पंेशन स्वीकृति के आदेश जारी कर,मेघवाल सौंप दिए।

Leave a Comment