आमजन की समस्या निस्तारण को दें प्राथमिकता-मीना

संभागीय आयुक्त ने ली संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक
बीकानेर, 30 जुलाई। संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना ने कहा कि संभाग के सभी जिलों में चल रहे विकास कार्य निश्चित समय सीमा में पूर्ण हो जाए तथा राज्य सरकार द्वारा जो जन घोषणा पत्र जारी किया गया है उसकी क्रियान्विति शत-प्रतिशत रहे यह सुनिश्चित किया जाए। संपर्क पोर्टल तथा विधायक एवं सांसदों द्वारा प्राप्त होने वाले पत्रों का निस्तारण शीघ्रता से करें। सभी कार्यालयों में प्राप्त आवेदनों को राजस्थान लोक सेवा गारंटी अधिनियम 2011 के तहत पंजीबद्ध किया जाए तथा संभाग में कानून व्यवस्था संधारित रहे, जातीय एवं सांप्रदायिक सौहार्द न बिगड़े, इसके लिए पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी और गंभीरता तथा तत्परता के साथ कार्य करें। संभाग का विकास हम सबकी पहली प्राथमिकता है। संभागीय आयुक्त मंगलवार को संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक तथा अगस्त माह में प्रस्तावित जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक सम्मेलन की पूर्व तैयारी हेतु आयोजित समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।
चार चरणों में हुई बैठक
बैठक के प्रथम सत्र में जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक कॉन्फ्रेंस की तैयारी, द्वितीय सत्र में संभाग स्तरीय कानून-व्यवस्था की समीक्षा, तृतीय सत्र में राजस्व प्रशासन एवं विकास कार्यों की समीक्षा की गई तथा अंतिम और चतुर्थ सत्र में अल्पसंख्यक कल्याण, शिक्षा युवा मामले, कौशल, आजीविका सहित विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा की गई। उन्होंने कहा कि बीकानेर में रेलवे बाईपास का कार्य किस तरह से हो सकता है इस सम्बंध में सुस्पष्ट योजना बनाई जाए, जिसके सभी पहलू पृथक-पृथक तरीके से बना कर प्रस्तुत करें कि बाईपास के बनने में कितना पैसा खर्च होगा साथ ही इससे यातायात व्यवस्था में सुधार किन स्तरों पर होगा । पूरे प्रोजेक्ट पर कितनी धनराशि खर्च होगी, इसका संपूर्ण तकमीना बना कर संपूर्ण कार्य योजना के साथ राज्य सरकार को भेजा जाए।
मीना ने कहा कि बीकानेर के खाजूवाला क्षेत्र में सेनेटरी डिग्गियों के सफाई कार्य शीघ्र प्रारंभ किया जाए। मुख्यमंत्री द्वारा खाजूवाला क्षेत्र में शुद्ध पानी पहुंचाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं, इस कार्य पर 4ः30 करोड़ रुपए व्यय होने हैं। इसके लिए जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम आवश्यक दिशा निर्देश संबंधित अधिकारी को प्रदान करें। उन्होंने कहा कि भूदान प्रकरणों के निस्तारण के लिए भी नई कार्ययोजना बीकानेर जिला कलेक्टर को प्रस्तुत की जाए। भूदान के सभी प्रकरण अगर राजस्व विभाग में स्थानांतरित हो जाए तो इस से जुड़े आमजन और काश्तकारों को लाभ हो सकेगा। संभागीय आयुक्त ने कहा कि विद्युत आपूर्ति निर्बाध रूप से चलती रहे इसके लिए जरूरत के मुताबिक नए ट्रांसफार्मर तथा 120 केवी और 220 केवी की क्षमता के ट्रांसफार्मर जहां जरूरत है वहां लगाए जाएं।
बैठक में जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि कुछ वर्ष पूर्व नगर विकास न्यास द्वारा कैंपों का आयोजन कर 13 हजार लोगों को पट्टे जारी किए गए थे । मगर इन पत्रों की जांच एसीबी में लंबित होने के कारण पट्टा धारकों को मकान बनाने के लिए किसे बैंक से ऋण आदि की सुविधा नहीं मिल पा रही है। इस पर संभागीय आयुक्त ने कहा कि इस प्रकरण के निस्तारण के लिए राज्य सरकार को लिखा जाएगा तथा राज्य सरकार स्तर पर एक कमेटी का गठन करवा कर प्रकरण का निस्तारण करवाया जाएगा। संभागीय आयुक्त ने संभाग के चारों जिला कलेक्टरों तथा पुलिस अधीक्षकों को कहा कि चिकित्सा तथा स्वास्थ्य विभाग के डिकॉय ऑपरेशन की तर्ज पर ई मित्र संचालकों पर भी आकस्मिक तथा गोपनीय जांच करने के लिए जिलों में कमेटी का गठन करें। यह कमेटी सप्ताह में कम से कम 5 ई मित्र केन्द्रों का निरीक्षण करें और यदि किसी प्रकार की अनियमितता पाई जाती है तो संचालक के विरुद्ध कार्यवाही अमल में लाई जाए।
उचित मूल्य की दुकानों के आवंटन की कार्रवाई की जाए
संभागीय आयुक्त ने सभी जिला कलेक्टरों से कहा कि उनके जिले में उचित मूल्य की जो दुकानें संचालकों की कमी के कारण बंद है अथवा किसी अन्य को चार्ज दिया हुआ है ऐसी सभी दुकानों के लिए आवेदन आमंत्रित कर नए लोगों को दुकानें आवंटन करने की कार्रवाई की जाए। आवंटन के दौरान महिलाओं को प्राथमिकता दी जा तथा इसका भी ध्यान रखा जाए ।
संभागीय आयुक्त ने चूरू कलक्टर संदेश नायक से कहा कि जिले में रीको के माध्यम से औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने के लिए प्रस्ताव बना कर दिए जाएं, साथ ही खेलों के विकास के लिए आवश्यक कार्रवाई करें तथा स्पोटर्स में जितने भी पद रिक्त हैं उनकी भी सूचना उपलब्ध करवाई जाए ताकि खेल कोच के पद भरे जा सके। मीना ने हनुमानगढ़ कलक्टर से कहा कि नहरों के माध्यम से प्रदूषित पानी की आपूर्ति ना हो इसके लिए आवश्यक कार्यवाही की जानी चाहिए, साथ ही प्रदूषित जल पंजाब से ना आए इसके लिए भी राज्य सरकार के माध्यम से पंजाब सरकार को लिखा जाएगा। हनुमानगढ़ में बुड्ढा नाला के माध्यम से जो पानी आता है उसे रोकने के लिए भी राज्य सरकार स्तर पर प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने श्रीगंगानगर में शराब तस्करी रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश अतिरिक्त जिला कलेक्टर को दिए ।
पानी चोरी रोकने के लिए हो संयुक्त प्रयास
संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना ने सभी जिला कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक से कहा कि अपने-अपने जिले में चल रही नहरों में नहर में पानी की चोरी रोकने के लिए पुलिस, नहर, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग तथा प्रशासन के अधिकारी मिलकर संयुक्त रूप से भ्रमण करें, साथ ही ऐसे संभावित स्थान जहां पानी की चोरी होने की संभावना अधिक रहती है वहां ड्रोन कैमरे के माध्यम से मॉनिटरिंग की जाए। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में शांति समितियों की बैठक नियमित रूप से निश्चित समय में की जाए। इन समितियों के माध्यम से भी कानून व्यवस्था संधारण में मदद मिलती है। संभागीय आयुक्त ने कहा कि सभी जिलों में सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत जितनी भी पेंशन योजनाएं चल रही है, इनमें सभी पात्र व्यक्तियों को समय पर पेंशन मिल जाए, इसके लिए प्रभावी मॉनिटरिंग की जाए अगर किसी जिले में अधिकारी द्वारा लापरवाही बरती जाती है तो संबंधित जिला कलेक्टर अधिकारी को नोटिस दें और अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाने के लिए राज्य सरकार को भी लिखें । उन्होंने कहा कि संभाग के चारों जिलों में डिजास्टर मैनेजमेंट बेहतर होना चाहिए। समय-समय पर मॉक ड्रिल भी कर ली जानी चाहिए, जिससे वर्षा के कारण किसी तरह के जानमाल की हानि ना हो इसके पुख्ता बंदोबस्त करने की बात भी कही।
बैठक में पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि संभाग में विशेषकर श्रीगंगानगर तथा हनुमानगढ़ में डोडा पोस्त, अफीम स्मैक सहित मादक पदार्थों की बिक्री ना हो इसके लिए पुलिस अधिकारी समय-समय पर प्रशासनिक व चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते रहे। उन्होंने बताया कि वर्तमान में संभाग में बलात्कार सहित अन्य अपराधों में कमी आई है, साथ ही समाज में जागरूकता के कारण अब लोग मुकदमे दर्ज कराने लगे हैं। कई प्रकरणों में देखा गया है कि 10 से 15 साल पुराने मामलों में भी गत 2 माह से लगातार मुकदमे दर्ज हो रहे हैं।
रात 8 बजे बाद शराब बिक्री रोकने के लिए बनाएं कार्ययोजना
मीना ने जिला कलक्टर बीकानेर को कहा कि रात 8 बजे बाद शराब बिक्री को प्रभावी तरीके से रोकने के लिए एक कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करें। यह कार्ययोजना राज्य सरकार को प्रस्तुत की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसमें नियमविरूद्ध बिक्री करते पाए जाने पर लाइसेंस निलम्बन आदि के बारे में विस्तार से सुझाव भेंजे जाएंगे साथ ही शराब के अवैध परिवहन के सम्बंध में वाहन मालिक को आरोपी बनाए जाने का प्रावधान भी किया जाएगा। शराब की दुकानों के सामने सीसीटीवी तथा बिक्री के समय रसीद दिए जाने का अनिवार्य किए जाने का सुझाव भी इस कार्ययोजना में शामिल किया जाए जिससे इस तरह की अवैध गतिविधियों पर रोक लग सके। बैठक में आईजी बीकानेर रेंज जोस मोहन, जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम, चुरू कलक्टर संदेश नायक, हनुमानगढ़ कलक्टर जाकिर हुसैन, तथा श्रीगंगानगर के अतिरक्ति जिला कलक्टर, सहित पुलिस अधीक्षक बीकानेर प्रदीप मोहन, श्रीगंगानगर पुलिस अधीक्षक हेमन्त कुमार शर्मा, हनुमानगढ़ एसपी कालूराम रावत तथा संयुक्त निदेशक सांख्यिकी इंदीवर दुबे सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।
—–
कार्मिकों का डाटाबेस भेजने के निर्देश
बीकानेर, 30 जुलाई। निकाय चुनाव 2019 के लिए समस्त कार्यालय व अधीनस्थ कार्यालयों के समस्त राज्य सरकार के कार्मिकों की सूचना मांगी गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी व जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि राज्य सरकार के समस्त कार्मिकों के डाटा कार्योलयों को इलेक्शनडाटाबीकेएन पर 1 अगस्त तक मेल करने तथा 2 अगस्त तक जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के कमरा नम्बर 9 में उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!