जैसलमेर – विजय दिवस समारोह 16 दिसम्बर को वॉर मेमोरियल में

जैसलमेर, 13 दिसम्बर/जैसलमेर में विजय दिवस समारोह, 16 दिसम्बर, सोमवार को प्रातः 9ः30 बजे वॉर मेमोरियल (वॉर म्यूजियम) जैसलमेर में मनाया जाएगा।
जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल भोजराज सिंह राठौड़ ने जिले के गौरव सैनिकों एवं वीरांगनाओं से आग्रह किया है कि इस समारोह में अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें। उन्होंने गौरव सैनिकों से अनुरोध किया है कि वे अपनी रेजीमेन्टल केप व परम्परागत वेशभूषा में पहुंचे।
उन्होंने बताया कि इस समारोह में लिए पूर्व सैनिकाें, विधवाओं, आश्रितों के लिए यातायात सुविधा की व्यवस्था की गई है। जिसमें रामगढ़, छायण, सांकड़ा, पोकरण व सैनिक विश्राम गृह जैसलमेर में सैन्य वाहन (आर्मी बस) उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने बताया कि इस संबंध में वेलफेयर ऑर्गेनाईजर आन्जेरी सुबेदार मेजर पदमचन्द शेरा के मोबाईल नम्बर 9460738037 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

—-000—-
जैसलमेर – प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा बैठक
जैसलमेर, 13 दिसम्बर/उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग जैसलमेर राजेन्द्र कुमार चौधरी ने बताया कि प्रधानमं़त्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा बैठक तथा पोषण अभियान के तहत सवंद्रि्धत अभ्यास पद्धति के अन्तर्गत मॉड्यूल 11 कमजोर शिशु की देखभाल पर ब्लॉक रिसोर्स ग्रुप के सदस्यों की जिला स्तर पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन पंचायत समिति जैसलमेर सभाकक्ष में किया गया।
उपनिदेशक राजेन्द्र कुमार चौधरी ने सभी पर्यवेक्षकाें को निर्देशित किया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अन्तर्गत गर्भवती महिलाओं को प्रथम प्रसव पर सरकार द्वारा दिए जाने वाले पाँच रुपये का लाभ प्रथम प्रसव वाली सभी गर्भवती महिलाओं को मिलना चाहिए। यह भी कहा गया है कि योजना का सही क्रियान्वयन तथा प्रचार-प्रसार कर अधिक से अधिक लाभार्थियों को लाभ दिलवाना सुनिश्चित करें। साथ ही लाभार्थियों के फॉमार्ें की सूचना संधारित करने तथा अभी तक योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थियों की सूचना सात दिवस में तैयार कर भिजवाने हेतु निर्देशित किया।
उन्होंने पोषण अभियान के तहत कमजोर शिशु की देखभाल पर आयोजित प्रशिक्षण के बारे में बताया कि कमजोर नवजात शिशुओं का अवलोकन करने के लिए शिशु का वजन लेना चाहिए जो कम से कम 2000 ग्राम होना चाहिए साथ ही शिशु का जन्म परिपक्वता के समय साढे़ आठ माह से पहले नहीं हुआ होना चाहिए तथा स्तनपान सही ढंग से कर रहा हो तो वह शिशु स्वस्थ होता है और यदि शिशु का वजन 2000 ग्राम से कम है, जन्म परिपक्वता के समय साढे़ आठ माह से पहले हुआ हो तथा स्तनपान सही ढंग से नहीं कर पा रहा है तो वह शिशु कमजोर होता है कमजोर नवजात शिशुओं के लिए अतिरिक्त देखभाल की आवश्यकता होती है कमजोर शिशुओं को सामान्य स्थिति में लाने के लिए उनको बार-बार स्तनपान करवाने की आवश्सकता होती है तथा उसको सूती कपड़े में लपेट कर माँ के शरीर से चिपका के रखना चाहिए तथा साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए ।
—-000—-

जैसलमेर – भारतीय नागरिकता प्रदान करने के लिए शिविर का आयोजन
पाक अल्पसंख्यक समुदाय के 10 सदस्यों ने भारतीय नागरिकता के लिए किया आवेदन प्रस्तुत
जैसलमेर, 12 दिसम्बर/जिले में निवास कर रहें अफगानिस्तान, बांग्लादेश एवं पाकिस्तान के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों को भारतीय नागरिकता प्रदत्त करने की कार्यवाही के लिए शुक्रवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ. पी. विश्नोई की अध्यक्षता में कलक्ट्री परिसर के डीआरडीए हॉल में शिविर का आयोजन हुआ।

शिविर के दौरान पाक अल्पसंख्यक समुदाय के 10 नये सदस्याें ने भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन पत्र प्रस्तुत किए। इसी प्रकार पूर्व में जिला कलक्टर कार्यालय जैसलमेर में प्रक्रियाधीन 12 पुराने नागरिकता आवेदन पत्रों की कमियों की पूर्ति की गई। शिविर के दौरान गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 10 प्रथम दीर्घकालीन वीजा की स्वीकृति प्रदान की गई, जिसके प्रमाण पत्र संबंधित को जारी किए गए।
शिविर के दौरान भारतीय नागरिकता के लिए पाक अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों को भारतीय नागरिकता के लिए ऑनलाईन आवेदन करने की प्रक्रिया की जानकारी दी गई। शिविर में सीआईडीबीआई के कार्यवाहक एफआरओ सुगनाराम (नि.पु.) के साथ ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय के प्रतिनिधि उपस्थित रहे एवं उन्होंने शिविर में पूरा सहयोग प्रदान किया।

—-000—-

जिले के समस्त न्यायालयों में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन शनिवार
जैसलमेर 13 दिसम्बर/ राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर के निर्देशानुसार वर्ष 2019 की चतुर्थ व अंतिम राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 दिसम्बर (द्वितीय शनिवार) को संपूर्ण जिले में होगा। इस लोक अदालत में राजीनामा योग्य समस्त प्रकरणों की सुनवाई जिला मुख्यालय के सभी न्यायालयो में, पोकरण मुख्यालय के सभी न्यायालयों में व एडीआर सेंटर सम रोड स्थित भवन में होगी।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष आशुतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत के सफल क्रियान्वयन हेतु समस्त न्यायक्षेत्र में कुल 08 बैंचों का गठन किया गया है। न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों की लोक अदालत में सुनवाई संबंधित न्यायालयों में की जाएगी। प्रि लिटिगेशन स्टेज पर प्राप्त प्रकरणों की सुनवाई जिला वैकल्पिक विवाद निस्तारण केन्द्र, सम रोड, जैसलमेर में की जाएगी।
अध्यक्ष आशुतोष कुमार मिश्रा ने यह भी बताया कि लोक अदालत के माध्यम से मामला निस्तारित होने पर कोर्ट फीस भी लौटाये जाने का प्रावधान है। उन्होंने पक्षकारों से अपील की कि पक्षकार अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर राष्ट्रीय लोक अदालत का लाभ उठाएं। ऎसे पक्षकार जिन्हें न्यायालय द्वारा लोक अदालत संबंधी सूचना पत्र प्राप्त नहीं हुआ है और वे मामला लोक अदालत में निपटाना चाहते हैं तो वे राष्ट्रीय लोक अदालत के दिन संबंधित न्यायालय में उपस्थित

Leave a Comment

error: Content is protected !!