सिन्धी भाषा व संस्कृति की डिजीटल प्रतियोगिता के लिए विद्यार्थियों को किया प्रेरित

जयपर 4 अप्रेल- भारतीय सिन्धु सभा, राजस्थान की ओर से सिन्धी भाषा, सभ्यता व संस्कृति की जानकारी के लिये राज्य स्तरीय आनलाइन डिजीटल प्रतियोगिता में जयपुर शहर की तीस ईकाईयों के साथ महानगर की ईकाई द्वारा युवाओं व विद्यार्थियों में प्रतियोगिता से जोडने हेतु प्रेरित किया जा रहा है।
प्रतियोगिता सह-संयोजक नवलकिशोर गुरनाणी ने बताया कि संविधान की आठवीं अनुसूची में सिन्धी भाषा की मान्यता दिवस 10 अप्रेल व चेटीचण्ड से सम्बंधित आलेख जो गोविन्दराम माया (जयपुर) द्वारा लिखित है उन्हें जयपुर के विभिन्न संगठनों के वहाटसअप ग्रुपों व सिन्धी शिक्षा मित्रों के साथ सर्टीफिकेट कोर्स में सम्मिलित हुये विद्यालयों व विद्यार्थियों को प्रेषित किये गये। जिसकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न सूची 10 अप्रेल को जारी की जायेगी। इन प्रश्नों का उतर केवल ईमेल बवउचपजपजपवदइेेतर /हउंपसण्बवउ पर 20 अप्रेल 2020 तक भेजे जा सकेगेे।
प्रदेश महामंत्री दीपेश सामनाणी ने बताया कि विभिन्न क्षेत्रों में संगठन महामंत्री डाॅ. कैलाश शिवलाणी, गंगाराम इसराणी, हीरालाल तोलाणी, रमेश केवलाणी, नंदलाल लालवाणी, नारायण परनाणी, कमल राजवाणी, किशन गुरबाणी, जयकिशन सोनी, सुन्दर मनवाणी,शोभा बसंताणी, ललिता मंेघाणी, प्रिया ज्ञानाणी,हिना सामनाणी, किशनलाल छताणी, को जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!