ऐसे थे जन जन के दुलारे लौह पुरुष सरदार पटेल

सरदार पटेल के लिये कर्तव्यपरायणता सर्वोच्च थी जीवन सन् 1909 में सरदार एक केस में पेरवी कर रहे तभी उन्हें अपनी पत्नी की मृत्यु का तार मिला। पढ़कर उन्होंने इस प्रकार पत्र को अपनी जेब में रख लिया जैसे कुछ हुआ ही नहीं। दो घंटे तक लगातार बहस कर उन्होंने वह केस जीत लिया| बहस … Read more

गत्यात्मक लग्न-राशिफल : 25 और 26 अक्तूबर

मेष लग्नवालों के लिए – 25 और 26 अक्तूबर 2018 को संयोग के न बन पाने से कोई असफलता दिखाई पड सकती है, परेशान न हों! किसी धार्मिक क्रियाकलापों के बाद भी निराशा ही बनेगी, इसलिए ऐसे कार्यक्रमों से बचे! बेवजह के उपस्थित खर्चों से परेशानी होगी, शापिंग के कार्यक्रम न बनाएं तो बेहतर है! … Read more

जानिये रावण के अधूरे सपने जो पूरे नहीं हो पाये

हम सभी जानते हैं कि विजयादशमी के दिन भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था | आईये जाने रावण के बारे में कुछ अनसुनी जानकारियां | प्रखांड पंडित रावण के कुछ सपने प्रक्रति के विरुद्ध थे जो अगर पूरे हो जाते तो संसार में अधर्म बढ़ जाता और राक्षस प्रवृत्तियां अनियंत्रित हो जातीं | … Read more

गत्यात्मक लग्न-राशिफल : 22 और 23 अक्तूबर

मेष लग्नवालों के लिए – 22 और 23 अक्तूबर 2018 को धन की स्थिति कमजोर दिखाई देगी, इसे मजबूत बनाने का हर प्रयास बेकार होगा। ऐसे कार्यक्रम न बनाएं तो बेहतर है! घर गृहस्थी का वातावरण अच्छा नहीं दिखाई देगा, ससुराल पक्ष का तनाव उपस्थित हो सकता है। प्रेम संबंध में भी कुछ दूरी बनेगी। … Read more

गोचर में वृश्चिक राशि का बृहस्‍पति का जनमानस पर प्रभाव

फलित ज्‍योतिष के ग्रंथों के अनुसार बृहस्पति नवग्रहों में सबसे शुभ है। इसलिए माना जाता है कि गोचर में अधिकांश समय बृहस्पति की स्थिति जनसामान्‍य के लिए सुखद ही बनी होती है। ‘गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष’ के अनुसार भी बृहस्‍पति तबतक जातकों को परेशान नहीं करता , जबतक वह गत्‍यात्‍मक शक्ति संपन्‍न होता है। गत्‍यात्‍मक शक्ति बहुत … Read more

गोचर में शनि की स्थिति का जनमानस पर प्रभाव

फलित ज्‍योतिष के ग्रंथों के अनुसार शनि को भयावह ग्रह माना जाता है , जबकि ऐसी कोई बात नहीं है । ‘गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष’ के अनुसार अन्य ग्रहों की तरह ही शनि भी तबतक जातकों को परेशान नहीं करता , जबतक उसकी गत्‍यात्‍मक शक्ति कम नहीं हो जाती है। गत्‍यात्‍मक शक्ति कम हो जाने पर जातक … Read more

गत्यात्मक लग्न-राशिफल : 19, 20 और 21 अक्तूबर

मेष लग्नवालों के लिए – 19 , 20 और 21 अक्तूबर 2018 को किसी सामाजिक कार्यक्रम में पिता पक्ष का महत्व दिखाई देगा, कर्मक्षेत्र में भी बडी जबाबदेही मिल सकती है। प्रतिष्ठा बढने वाली कोई बात हो सकती है , लाभ की संभावना है , इसे प्राप्त करने के लिए प्रयास बनेगा। कार्यक्रमों के प्रति … Read more

दशहरे को मनाये स्नेह, विनम्रता, सोहार्द के संकल्प पर्व के रूप में

डा.जे.के.गर्ग निसंदेह दशहरा जीवन में काम,क्रोध,लोभ,मद,मोह,मत्सर,अहंकार,आलस्य,हिंसा, अधर्म एवं चोरी को त्याग कर स्नेह,विनम्रता,सोहार्द को अपनाने का संकल्प लेने का पर्व है | ’दश’ व’ हरा’ से मिलकर दशहरा बना है | निसंदेह दशहरा का अर्थ भगवान राम के द्वारा रावण के दसों सिरों यानि दसों पापों यथा काम, क्रोध, लोभ, मोह मद, मत्सर, अहंकार, आलस्य, … Read more

दशहरा है शक्ति की साधना का पर्व

दशहरा-विजयदशमी हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। आश्विन शुक्ल दशमी को यह त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। यह त्योहार भारतीय संस्कृति में वीरता का पूजक, शौर्य का उपासक प्रतीक पर्व है। व्यक्ति और समाज के रक्त में वीरता प्रकट हो, इसलिए दशहरे का उत्सव रखा गया है। भगवान राम ने इसी दिन रावण … Read more

श्री राजराजेश्वरी पुरुहुता मणिवैदिक शक्तिपीठ मंदिर पुष्कर की महिमा एवं इतिहास

*ॐ विश्वे विश्वेश्वरि प्राहुः पुरुहुता च पुष्करे !* *पुरुहुता पुष्कराक्षे आषाढौ च रतिस्तथा !!* आदि अनादि काल पूर्व जब भगवान ब्रम्हा के पुत्र महाराज दक्ष ने एक विशाल यज्ञ का आयोजन किया था उसमें भगवान शंकर के अलावा सभी देवी देवताओं को आमंत्रित किया गया । ऐसा होने पर महादेव की पत्नी सती मां अपने … Read more

गत्यात्मक लग्न-राशिफल : 17 और 18 अक्तूबर

मेष लग्नवालों के लिए – 17 और 18 अक्तूबर 2018 को स्वास्थ्य या व्यक्तिगत गुणों को मजबूती देने के कार्यक्रम बनेंगे, स्मार्ट लोगों का साथ मिलेगा। रूटीन सुव्यवस्थित होगा , जिससे समय पर सारे कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा। किसी सामाजिक कार्यक्रम में पिता पक्ष का महत्व दिखाई देगा, कर्मक्षेत्र में भी बडी जबाबदेही … Read more