तिरंगे की शान संग प्रभु भक्ति गान

बांकेबिहारी मंदिर में धूमधाम से मनाया नंद उत्सव
01ब्यावर, 18 अगस्त। मथुरा सा माहौल, नंदबाबा के सिर पर बालकृष्ण, राधा कृष्ण की लीलाएं और हाथ में तिरंगा थामे भजनों पर झूमती गोपियां। देश प्रेम और प्रभु भक्ति का यह अनूठा नजारा दिखा शुक्रवार को सूरजपोल गेट बाहर स्थित श्री बांकेबिहारी मंदिर में। जहां नंद उत्सव कार्यक्रम में भक्तिमय प्रस्तुति दी गई।
श्री बांकेबिहारी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष माणक डाणी ने बताया कि भगवान श्रीकृष्ण जन्म के अवसर पर स्वरागिनी ग्रुप की ओर से नंदोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत राष्ट्र गीत वंदे मातरम से की गई। शालिनी शर्मा ने प्रभु भक्ति से बड़ी देशभक्ति बताते हुए जहां डाल-डाल पर सोने की चिड़िया करती है बसेरा, वो भारत देश है मेरा.. गीत की प्रस्तुति दी। चंचल सोनी ने तेरा चंदा सा मुखड़ा दिखाए जा श्याम.., मेरी अंखिया तरस रही गोकुल के राजा.. भजन की प्रस्तुति देकर बाल कृष्ण को आमंत्रण दिया। इसके बाद नंद बाबा के रूप में युवरानी सोनी अपने सिर पर टोकरी में बाल गोपाल बने दर्शिल अग्रवाल को लेकर आई तो मंदिर परिसर जयकारों से गूंज उठा। आनंदमय वातावरण के बीच भक्तों को बधाई बांटी गई। नंद के आनंद भयो, जय कन्हैयालाल की.. भजन पर सभी भक्त झूम उठे। इसके बाद राधा-कृष्ण का रूप धरकर पूर्वी व पलक गौड़ ने ब्रज लीलाओं का सजीव मंचन किया। मंजू सोनी व मंजू शर्मा ने ट्विंकल-ट्विंकल लिटिल स्टार, कान्हा मेरा सुपर स्टार.., मंजू गर्ग व कृष्णा गोयल ने जब से जन्मे कन्हैया करामात हो गई.., रेखा सोनी व मधु भूतड़ा ने मुझे बांकेबिहारी के साथ सेल्फी लेनी है.., पिंकी सोलीवाल व संतोष सोनी ने झूला झूले नंदलाल सोने के पलने में.., संगीता सोनी व सीमा कुमावत ने मैया यशोदा तेरा कन्हैया पनघट पे मोरी पकड़े बैयां.. जैसे सुमधुर भजनों की प्रस्तुति दी। पंडित शिवरत्न दाधीच ने राधा-रासबिहारी का रंग-बिरंगे फूलों से श्रृंगार कर मनमोहक दरबार सजाया। ठाकुरजी को पीतांबर पहनाया गया। कार्यक्रम में अतुल बंसल, कुंजबिहारी शर्मा, लक्ष्मीप्रकाश आकोलावाला, विजय तंवर, सुमित सारस्वत, बबीता गौड़, कुसुम डाणी, इंद्रा सोनी, प्रेमकांता बजारी, संध्या अग्रवाल, पुष्पा पाराशर, साधना सारस्वत, कीर्ति मालपानी, अनिता शर्मा, अरूणा अग्रवाल, कविता शर्मा, शोभा चोटिया, राधा चतुर्वेदी, मीनू शर्मा, ज्योति अग्रवाल, राखी गर्ग, राधिका बजारी, आकांक्षा अग्रवाल, कोमल चतुर्वेदी सहित बड़ी संख्या में भक्तों ने ठाकुरजी की लीलाओं का आनंद लिया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!