राज्य सरकार ने दिया लोली पॉप

कर्मचारियो मे आक्रोष व्याप्त

kekri samacharराज्य सरकार द्वारा सातवे वेतन आयोग का लाभ कर्मचारियो को 1जनवरी 2017से देने तथा एरियर राशी का भुगतान अप्रेल जुलाई और अक्टोबर मे करने की कल की घोषणा के बाद भी राज्य कर्मचारियो मे भारी आक्रोश व्याप्त है । विभिन्न कर्मचारी संगठनो ने आँदोलन का बिगुल बजा दिया है । आक्रोशित कर्मचारी गण सातवे वेतन आयोग का लाभ केंद्र के समान 1जनवरी 2016से देने और एरियर के नगद भुगतान की माँग पर अड़े हुये है ।
इनका कहना है :-

शिक्षक संघ राधाकृष्णन के प्रदेशा अध्यक्ष विजय सोनी ने बताया की लम्बे समय से सात सूत्री माँग पत्र सरकार को दिया हुवा है जिसमे 1-1-2016से सातवे वेतन आयोग का लाभ और नगद एरियर की माँग सहित 1-4-2004 के बाद नियुक्त शिक्षको को नयी पेन्सन स्कीम से हटाकर पुरानी पेंशन स्कीम का लाभ देने 2012-2013-2015मे नियुक्त शिक्षको का स्थायी करण किया जाकर वेतन नियमितीकरण करके एरियर का भुगतान करने शिक्षको को बी एल ओ सहित तमाम गेर शेक्श्णिक कार्यो से मुक्त करने और प्रशिक्षित प्रयोगशाला सहायकों को थर्ड ग्रेड शिक्षको के समस्त लाभ देने की माँगे शामिल है ।
राज्य सरकार ने कर्मचारियो को सातवे वेतन आयोग का लाभ 1-1-2017से देकर कर्मचारियो के साथ विश्वास घात किया है । संगठन द्वारा आँदोलन का आगाज किया जा चुका है । 5 दिसम्बर को अजमेर जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर धरना दिया जाकर मुख्य मँत्री के नाम ग्यापन दिया जायेगा ।

राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतीशील के कैलाश गौर का कहना है की सरकार ने जो लोली पॉप थमाया है उस से कर्मचारियो मे भारी आक्रोश है । वेतन आयोग का लाभ 1जनवरी 2016से देने और एरियर राशी का नगद भुगतान किया जावे अन्यथा आँदोलन करना ही पड़ेगा ।

राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के प्रदेश उपाध्यक्ष विरदी चँद वैष्णव का कहना है की वेतन आयोग का लाभ 1-1-2016से दिया जावे और एरियर का भुगतान नगद किया जाये अन्यथा संगठन को भी आँदोलन का बिगुल बजाने के लिये मजबूर होना ही पड़ेगा ।

Leave a Comment