राजस्व मंडल में एक वर्ष में रिकॉर्ड 10 हजार 997 प्रकरण निस्तारित

गत 2 वर्षांे के दौरान दर्ज प्रकरणों के मुकाबले अधिक प्रकरण निपटाने का भी कीर्तिमान
अजमेर 12 सितंबर। राजस्व मंडल ने राजस्व प्रकरण निस्तारण के क्षेत्र में नया कीर्तिमान बनाते हुए विगत 10 वर्षों के मुकाबले सर्वाधिक 10 हजार 997 प्रकरण निस्तारित किए हैं।
राजस्व मंडल अध्यक्ष वी. श्रीनिवास ने बताया कि अगस्त 2017 से अगस्त 2018 की अवधि में कुल 10 हजार 997 राजस्व वादों के निस्तारण का रिकॉर्ड कार्य हुआ। इसी प्रकार विगत 2 वर्षों में ऐसा पहली दफा है जबकि दर्ज प्रकरणों के मुकाबले निस्तारित प्रकरणों की संख्या अधिक हुई है।
उन्होंने बताया कि राजस्व मंडल राजस्थान देष में अकेला राजस्व मंडल है जो पूरी तरह से डिजिटलाइज्ड होकर कार्य कर रहा है। राजस्व वादों एवं निर्णयों की आॅनलाइन जानकारी, राजस्व वादों के पंजीयन से निस्तारण तक की जानकारी अधिवक्ताओं तक स्वतः एसएमएस से पहुंचाने की व्यवस्था, सदस्यों द्वारा माह में औसतन 21 दिवस कोर्ट्स, राजस्व मंडल बार के साथ कोर्ट कार्योें को बेहतर बनाने को लेकर समन्वय आदि से राजस्व मंडल ऐतिहासिक उपलब्धियों की ओर अग्रसर है। राजस्व मंडल अध्यक्ष वी. श्रीनिवास ने एक वर्ष के दौरान 220 दिवसों में कोर्टस् लेकर करीब 574 वादों को निर्णीत किया है।
राजस्व मंडल अध्यक्ष ने बताया कि मंडल अधिक से अधिक राजस्व वादों की सुनवाई कर उनके निस्तारण के प्रति गंभीर होकर कार्य कर रहा है इसके लिए हाल ही पीठों के पुनर्गठन का कार्य भी महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने बताया कि राजस्व वादों के निस्तारण को लेकर कई नवाचार अमल में लाये गए हैं, जिसके बेहतर परिणाम मिलने लगे हैं।
पिछले 9 वर्षों में निस्तारण की स्थिति
श्री वी. श्रीनिवास ने बताया कि राजस्व मंडल में विगत 2 वर्षों के दौरान निस्तारण की स्थिति पर नजर डालें तो वर्ष 2008 में दर्ज 12246 के मुकाबले 6605 का निस्तारण 2009 में दर्ज 9674 में से 5597, वर्ष 2010 में 7371 में से 5292, वर्ष 2011 में 9260 में से 7647, वर्ष 2012 में 10435 में से 9594, वर्ष 2014 में 7726 में से 6342, वर्ष 2015 में 8271 में से 6726, वर्ष 2016 में 8562 के मुकाबले 8689 तथा वर्ष 2017 में दर्ज कुल 7867 प्रकरणों के मुकाबले 9556 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। उन्होंने बताया कि जिलों में भी आॅनलाइन दर्ज प्रकरणों की सतत माॅनिटरिंग की जाकर त्वरित निस्तारण के निर्देष दिये गये हैं।

अब्दुल रहमान से संबंधित 8 हजार प्रकरण निर्णीत
राजस्व मंडल ने माननीय उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार अब्दुल रहमान से सम्बद्ध प्रकरणों के लिए मिशन मोड पर तामीली अभियान चलाकर 8 हजार प्रकरणों का निस्तारण किया है। अभियान में समस्त प्रकरणों में नोटिस जारी किए जाकर प्रकरण पूर्ण कराते हुए पीठ के समक्ष बहस हेतु प्रस्तुत किया गया। परिणामस्वरूप बड़ी संख्या में इतने प्रकरणों का निस्तारण संभव हो सका।
राजस्व मंडल में बकाया प्रकरणों की स्थिति
राजस्व मंडल मैं वर्तमान में विविध बकाया प्रकरणों में राजस्थान भू राजस्व अधिनियम 1956 के तहत 25654, राजस्थान काश्तकारी अधिनियम 1955 से संबंधित 34791, कॉलोनाइजेशन एक्ट के 1945 से सम्बद्ध 1958, सीलिंग अधिनियम 1973 से संबंधी 908 तथा अन्य अधिनियम से संबंधित प्रकरण भी शामिल हैं।जिनके निस्तारण के गंभीरता से प्रयास किये जा रहे हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!