यूनाइटेड अजमेर करेगा जीवंत मिट्टी के गणपति की स्थापना

सामाजिक कार्यों से जुड़ कर अजमेर में बदलाव की पैरोकार बनी यूनाईटेड अजमेर मुहिम अब लगातार तीसरे वर्ष पर्यावरण संरक्षण का झंडा उठा कर सनातन धर्म के अनुरूप मिट्टी के गणपति की स्थापना , पूजन व् विसर्जन के साथ अजमेर की प्रतिभाओं को मंच देने के लिए भी प्रतिबद्ध है ।
इस वर्ष के *पर्यावरण मित्र गणपति महोत्सव* की जानकारी देते हुए यूनाइटेड अजमेर की संयोजिका कीर्ति पाठक ने बताया कि इस बार बालाजी टैटू स्टूडियो के नितिन कुमार व् भरत कुमार ने मिट्टी के जीवंत गणपति बनाने की ठानी और दस दिन की कड़ी मेहनत के बाद उसे पूरा भी किया ।
पर्यावरण व् प्राकृतिक सौंदर्य का सन्देश देने के लिए गणपति की प्रतिमा में पौधों का इस्तेमाल किया गया है जो इस प्रतिमा को विशेष बनाता है ।
इस बार गणपति की आँखों को विशेष रूप दिया गया है । श्रद्धालु कहीं भी खडे अथवा बैठे हो उन्हें ऐसा प्रतीत होगा मानों गणपति उन्हीं की और देख रहे हैं।
यह प्रतिमा मुंबई के प्रसिद्ध लाल बाग़ के राजा की प्रतिमा से प्रेरित है। इसमे गणेश जी एक चूहे पर सवारी करते हुये नजर आयेंगे ।
गणेशोत्सव आयोजन समिति की अध्यक्ष अनीता भार्गव ने जानकारी दी कि 13-9-18 को सुबह सात बजे आनासागर चौपाटी के निकट जेट्टी पर गणपति की मूर्ति की स्थापना की जायेगी व् दिनांक 22-9-18 तक प्रतिदिन सांय साढ़े सात बजे आरती व् तत्पश्चात सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे जिस में अजमेर की प्रतिभाओं को मंच दिया जायेगा ।
यूनाइटेड अजमेर के कोषाध्यक्ष अनुज गाँधी ने आयोजन में आर्थिक आधार की चर्चा करते हुए बताया कि मुहीम के साथियों ने अब से आयोजन में किसी के भी आगे हाथ पसारने के बजाय स्वयं ज़रुरत की राशि जुटायी है । यूनाइटेड अजमेर कम से कम राशि खर्च कर एक बेहतर आयोजन करने की अपनी ज़िद्द पर अड़ा है और अजमेरवासी सांस्कृतिक कार्यक्रमों में निशुल्क सहभागिता दे कर इस ज़िद्द को सफल बनाने की ठान बैठे हैं ।
सांस्कृतिक कार्यक्रम की संयोजिका स्मिता भार्गव ने बताया कि यूनाइटेड अजमेर हमेशा कुछ नवाचार कर समाज में बदलाव लाना चाहता है और इसी के तहत ईश्वर की विशेष संतान किन्नरों के द्वारा कल के सांस्कृतिक कार्यक्रम का आगाज़ किया जायेगा।
आयोजन समिति के संजय टाक ने बताया कि दस दिन की पूजा के पश्चात 23-9-18 को प्रातः सात बजे हवन के पश्चात श्रद्धालु फूलों की पंखुड़ियों व् इत्र के साथ होली खेल कर आयोजन स्थल का एक चक्कर लगाएंगे व् तत्पश्चात एक टब में मूर्ति का विसर्जन किया जायेगा व् उस मिट्टी को श्रद्धालुओं में बाँट दिया जायेगा।
कार्यक्रम के इवेंट पार्ट्नर आराधना टेंट एंड इवेंट्स , डिजिटल मीडिया पार्टनर MTTV India , रेडियो पार्टनर 94.3 MY FM व् फोटोग्राफी पार्टनर एस के कंप्यूटर्स हैं ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!