छात्र छात्राओं ने जाने उन के क़ानूनी अधिकार व कर्तव्य

सामाजिक सरोकारों से जुड़ कर बदलाव लाने को प्रतिबद्ध *यूनाइटेड अजमेर * का *लीगल फ़्रेंड* कार्यक्रम आज दिनांक 9-2-19 को भगवंत यूनिवर्सिटी के लॉ कॉलेज के छात्रों के सानिध्य में आयोजित किया गया।
कार्यक्रम की जानकारी देते हुए यूनाइटेड अजमेर की मीडिया प्रभारी मीना सोनी ने बताया कि सर्वप्रथम यूनिवर्सिटी की लॉ फ़ैकल्टी ने यूनाइटेड अजमेर टीम का स्वागत किया।
तत्पश्चात संयोजिका कीर्ति पाठक ने यूनाइटेड अजमेर की गतिविधियों और कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डाला ।
उक्त कार्यक्रम प्रश्नोत्तरी के स्वरूप में आयोजित किया गया । देश के भावी नागरिकों को उन के क़ानूनी अधिकारों एवं कर्तव्यों की जानकारी अधिवक्ता कृष्णगोपाल खत्री व जिनेश सोनी के पैनल ने दी।
ऐडवोकेट खत्री ने बलात्कार , घरेलू हिंसा व साइबर क्राइम से सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर दिए व साइबर क्राइम के उन बिंदुओं को समझाया जिस से आम व्यक्ति साधारणत: अनभिज्ञ होता है । इस के अंतर्गत बैंक के कार्ड के द्वारा व आधार कार्ड के द्वारा होने वाली ठगी को विस्तार से समझाया गया एवं उस से बचने के उपाय बताए गए ।
अधिवक्ता जिनेश सोनी द्वारा दहेज क़ानून व फ़ौजदारी मुक़दमों में महिलाओं के अधिकारों की विवेचना की गयी व विभिन्न प्रश्नों के उत्तर दिए गए।
छात्राओं को बताया गया कि फ़ौजदारी मुक़दमों में उन्हें निशुल्क सहायता , एकांतता , शून्य एफ आई आर , असामयिक पंजीकरण , आभासी शिकायत व गोपनीयता का अधिकार है ।
छात्रों को दहेज क़ानून के दुरुपयोग की जानकारी दी।
घरेलू हिंसा की परिभाषा समझाते हुए बताया कि सिर्फ़ शारीरिक चोट ही नहीं वरन मानसिक परेशानी एवं किसी भी अनचाहे कार्य को करने को बाध्य करना भी घरेलू हिंसा की श्रेणी में आता है।
कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न पर छात्राओं द्वारा कई प्रश्न किए गए व उन्हें बताया गया कि यदि कोई सहकर्मी बार बार अनावश्यक रूप से सामने आता है उसे स्टॉकिंग की संज्ञा दी जाती है और ये भी यौन उत्पीड़न कहलाता है । यौन उत्पीड़न को रोकने के लिए कार्यस्थल पर विभिन्न कमिटी बनी होती हैं जिन में शिकायत की जा सकती है ।
प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम के सूत्रधार सुशील पाल थे और साथ में पैनल में विभिन्न अधिवक्ताओं के साथ वरिष्ठ पत्रकार क्षितिज गौड़ ने छात्रों की जिज्ञासा को शांत किया।
कार्यक्रम को यूनिवर्सिटी के उप कुलपति ने भी सम्बोधित किया ।
अंत में अनिता भार्गव ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रेषित किया।
सम्पूर्ण कार्यक्रम का संचालन दक्ष द्वारा किया गया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!