परीक्षार्थियों से भरी ट्रॉली पलटने से दो दर्जन से ज्यादा विद्यार्थि घायल

हादसे में बाल-बाल बचे विद्यार्थी यदि ट्रॉली पूरी उलट जाती तो हो सकता था गम्भीर हादसा,

केकड़ी 14 मार्च।
निकटवर्ती ग्राम नायकी स्थिति राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के 35 विद्यार्थी आज बाल बाल बच गए वे विद्यार्थी आजआठवीं बोर्ड के प्रारंभ हो रहे परीक्षा में शामिल होने के लिए अपने परीक्षा केंद्र लसाडिया परीक्षा देने के लिए ट्रेक्टर ट्रॉली में सवार होकर जा रहे थे ,इसी दौरान धुँआलिया ग्राम में लसाडिया ग्राम की तरफ मोड़ पर
ट्रैक्टर का संतुलन खो जाने से ट्रैक्टर ट्राली तिरछी हो गई इससे ट्रॉली में सवार दो दर्जन से ज्यादा विद्यार्थियों के चोटे आई जिन्हें ग्रामवासी अपने निजी साधनों से व सूचना पर पहुंची 108 एंबुलेंस की मदद से केकड़ी राजकीय चिकित्सालय में ले गए , नायकी के युवक ने बताया कि गुरुवार को दोपहर 2 बजे आयोजित परीक्षा में शामिल होने के लिए विद्यालय के 42 मे से नायकी के 35 विद्यार्थी ट्रेक्टर ट्रॉली में सवार होकर जा रहे थे जिसे एक परीक्षार्थी ही चला रहा था, लगभग एक बजे के करीब यह हादसा हुआ ओर यदि ट्रॉली पूरी उलट जाती तो गम्भीर हादसा हो सकता था,
घटना की जानकारी मिलते ही चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने चिकित्सा विभाग को दुर्घटना ग्रस्त विद्यार्थियों के उपचार हेतु सुचारू व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए साथ ही स्थानीय प्रशासन को भी हरसम्भव सहयोग हेतु निर्देशित किया व अपने निजी सहायक को तुरंत चिकित्सालय पहुंचकर विद्यार्थियों की समुचित चिकित्सा करवाने को कहा,घायल विद्यार्थीयो के राजकीय चिकित्सालय केकड़ी में पहुंचने पर पहले से मुस्तैद चिकित्सा प्रभारी अधिकारी डॉ गनपत राज पूरी सहित डॉ सुधीर माथुर,डॉ विजय सैनी,डॉ बृजवीर,डॉ बालमुकुंद जेतवाल व
आपातकालीन इंचार्ज प्रह्लाद राय नागर, मेल नर्स द्वितीय अंकित उपाध्याय,अनिल जैन,भूपेन्द्र जैन,आलोक कुमावत
सतीश यादव,कैलाश गोठवाल,निखिल साहू,बलवन्त राव,महावीर झाकल ,वेद्प्रकाश ,भागचंद बगालीया नर्स द्वितीय सहित
चिकित्सा कर्मचारी उनके इलाज में जुट गए,घटना की सूचना मिलते ही चिकित्सालय में नायकी व केकड़ी निवासियों की भीड़ उमड़ पड़ी व विद्यार्थियों के परिजनों की चीख पुकार से गहमा गहमी ह्यो गयी जिसे पुलिस प्रशासन ने व्यवस्थित किया, चिकित्सालय पहुंचे 26 विद्यार्थियों में से कुछ को प्रारंभिक चिकित्सा करके घर भेज दिया गया वहीं 2 लड़के और 6 लड़कियो को ऑब्जर्वेशन में रखा गया जिनमे से 5 के माइनर फ्रेक्चर है उनके कच्चा प्लास्टर लगाया गया, साथ ही दो लड़कियां जिनके हेड एंजरी को भर्ती कर लिया गया इस दौरान चिकित्सालय में चिकित्सा मंत्री के निजी सचिव सत्यनारायण पाठक तहसीलदार भारत भूषण अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमन मीणा ने चिकित्सालय पहुचकर घलो की कुशल क्षेम पूंछी व सम्पूर्ण घटना कि जानकारी लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए,वृत निरीक्षक राजेंद्र गोदारा मुस्तैदी से चिकित्सालय में जुटे हुए थे उन्होंने चिकित्सालय में उमड़ी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए व घी विद्यार्थियों के वार्ड के बाहर पुलिसकर्मियों की तैनाती की।
वृत निरीक्षक राजेन्द्र गोदारा ने बताया कि घटना की जांच कराई जाएगी,
मुख्य ब्लाँक शिक्षा अधिकारी प्रेमचंद मोची ने कहा कि घटना के कारणों की जांच कराई जाएगी व यदि कोई दोषी होगा तो उसके खिलाफ कार्यवाही होगी पहले घायलों की समुचित चिकित्सा हेतु हम सभी चिकित्सालय में है साथ दुर्घटना में घायल परीक्षार्थी जो परीक्षा में शामिल नही हो सके उन विद्यार्थियों को फॉलोअप परीक्षा कार्यक्रम में पुनः शामिल कर लिया जाएगा,

Leave a Comment