जश्ने विलादत हज़रत सैय्यदना इमाम हसन (अ.स.) मनाया

अन्जुमन मोहिब्बाने अहलैबेत कि और से सरकार हजरत सैय्यदना इमाम-ए-हसन (अ.स.) की बारगाह ए आलिज़ा में खिराजे अकीदत पेश
अजमेर 21 मई (वि.) पैगम्बर-ए-इस्लाम हज़रत मोहम्मद मुस्तुफा सल्लाहो अलैह वसल्लम के बड़े नवासे हज़रत सैय्यदना इमाम हसन (अ.स.) का जश्ने विलादत (जन्मदिन) 21 मई 15 रमजानुल मुबारक मंगलवार को शेखा मौहल्ला स्थित संजरी मस्जिद में बाद नमाज़-ए-अस्र निहायत अदबो अहतराम व शानो शोकत से मनाया गया। जश्न का आगाज़ हस्बे रिवायत तिलावते कलामे इलाही से हाफिज़ कारी मोहम्मद अंसार आलम मोइनी ने किया।
सैय्यद सफदर अली, हाफिज सज्जाद आलम, सैय्यद केफ अली, तनवीर ने नात व मनकबत के नज़राने पेश किए । हज़रत मौलाना मेहबूब आलम कादरी ने हज़रत सैय्यदना इमामे हसन (अ.स.) की सीरते पाक पर खिताब फरमाया सलातो सलाम पेश किया गया।
कार्यक्रम के अन्त में फातहा के बाद मुल्क में अमन चैन, खुशहाली व आपसी भाईचारे व अच्छी बारिश के लिए विशेष इज्तेमाई दुआ कि गई। कार्यक्रम में भाग लेने वालों का संस्था के अध्यक्ष मौहम्मद अहसान मिर्जा ने इस्तकबाल किया। कार्यक्रम में रियाज मिर्जा, सैय्यद गौहर चिश्ती, शाहनवाज, हाजी खालीद, शहजाद, फहीम, सोइल, महफूज मिर्जा सहित संस्था के अनेक सदस्य व मुस्लिम समाज के गणमान्य नागरिक मौजूद थे। संस्था की ओर से इस मुबारक मौके पर लंगर (भण्डारे) का अहतेमाम किया गया व सामूहिक रोजा इफ्तार हुआ। संस्था के अध्यक्ष अहसान मिर्जा ने यह जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन मिर्जा मोईन अरशदी ने किया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!