महात्मा गांधी के 150 वें जयंती वर्ष पर होगे विविध कार्यक्रम

3 जून से सूचना केन्द्र में लगायी जाएगी प्रदर्शनी
अजमेर 31 मई। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150 वें जन्म जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में आगामी 3 से 5 जून तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा के निर्देशानुसार शुक्रवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अरविंद कुमार सैंगवा की अध्यक्षता में महात्मा गांधी के 150 वें जयंती वर्ष को समारोह पूर्वक मनाने के संबंध में एक बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में आगामी 3 से 5 जून तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करने के लिए विभिन्न व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक निर्देश प्रदान किए।
अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अरविंद कुमार सैंगवा ने कहा कि तीन दिवसीय कार्यक्रमों की श्रृंखला में प्रथम दिवस 3 जून को गांधी संदेश यात्रा निकाली जाएगी। इसके लिए जिला खेल अधिकारी को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। यह यात्रा सांय 5 बजे पटेल मैदान से आरम्भ होकर सूचना केन्द्र पहुंचेगी। इस यात्रा में नेहरू युवा केन्द्र, स्काउट, एन.सी.सी., शिक्षा विभाग एवं खेल विभाग द्वारा भागीदारी निभायी जाएगी।
उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय प्रदर्शनी सूचना केन्द्र की प्रदर्शनी दीर्घा में आयोजित होगी। इस प्रदर्शनी का उद्घाटन सांय 6 बजे स्वतंत्राता सैनानियों एवं शहीदों के परिजनों के द्वारा किया जाएगा। इसके लिए सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के उप निदेशक श्री महेश चन्द्र शर्मा को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।
उन्होंने कहा कि 4 जून को शिक्षा विभाग एवं स्वयं सेवी संगठनों के सहयोग से निबन्ध, भाषण एवं चित्राकला प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। निबन्ध प्रतियोगिता गांधी अतीत ही नही भविष्य भी है विषय पर आयोजित होगी। भाषण प्रतियोगिता के लिए सद्भावना और विकास विषय निर्धारित किया गया है। इनके लिए शिक्षा विभाग के सहायक निदेशक श्री अजय कुमार गुप्ता तथा एडीईओ श्रीमती दर्शना शर्मा को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। चित्राकला प्रतियोगिता गांधी के सपनों का भारत विषय पर सूचना केन्द्र में प्रातः 8 बजे आयोजित होगी। इस प्रतियोगिता के लिए एडीईओ श्रीमती दर्शना शर्मा प्रभारी तथा लोक कला संस्थान के श्री संजय सेठी समन्वयक रहेंगे।
उन्होंने कहा कि 5 जून को कौमी एकता विषय पर प्रातः 10 बजे सूचना केन्द्र में संगोष्ठी आयोजित की जाएगी। जिसके प्रभारी शिक्षा विभाग के सहायक निदेशक श्री अजय कुमार गुप्ता होंगे।

शिक्षा राज्य मंत्राी 3 जून को अजमेर आएंगे
अजमेर 31 मई। शिक्षा राज्य मंत्राी श्री गोविन्द सिंह डोटासरा आगामी 3 जून को प्रातः 11 बजे अजमेर पहुंचेंगे। वे यहां दोपहर 12.30 बजे माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अधिकारियों के साथ बैठक लेंगे । वे उसी दिन सांय 5 बजे जयपुर के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।
ब्यावर क्षेत्रा मंे रहेगी विद्युत आपूर्ति प्रभावित
अजमेर/ब्यावर 31 मई। ब्यावर ग्रिड सब स्टेशन पर अतिआवश्यक रखरखाव एवं मरम्मत का कार्य होने के कारण एक जून को पीपलाज, बाबरा, बर, गढीथोरियान, मसूदा एवं अजमेर रोड़ औद्योगिक क्षेत्रा में प्रातः 7 बजे से 10 बजे तक तथा जवाजा, पावर हाउस एवं आईओसी क्षेत्रा में प्रातः 7 बजे से दोपहर एक बजे तक विद्युत आपूर्ति बंद रहेगी।
विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर कार्यक्रम आयोजित
अजमेर/ब्यावर 31 मई। तालुका विधिक सेवा समिति तथा अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश ब्यावर के तत्वाधान में 31 मई को विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के उपलक्ष्य में राजकीय अमृतकौर चिकित्सालय में शिविर आयोजित किया गया।
तालुका विधिक सेवा समिति के सचिव ने बताया कि शिविर में न्यायिक मजिस्टेªट सुश्री मनीषा अग्रवाल ने उपस्थितजन को तंबाकू के सेवन से होने वाले घातक दुष्परिणामों के बारे में बताते हुए कहा कि तंबाकू व धूम्रपान सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। तंबाकू व धूम्रपान सेवन मस्तिष्क घात, फेफडों का केेंसर, हृदयघात, गले का केंसर व हड्डियों का गलना जैसी प्राणघातक बीमारियों का मुख्य कारण है। धूम्रपान करने वाला व्यक्ति खुद को नशें के चलते बर्बाद तो करता ही है साथ ही उसके साथ और आसपास रहने वाले लोग भी सिगरेट व बीड़ी के धूऐं को श्वास द्वारा ग्रहण करने से बहुत अधिक प्रभावित होेते है। तंबाकू व धूम्रपान का सेवन जीवन के लिए बड़ा अभिशाप है। सार्वजनिक स्थानांें पर तंबाकू खाने व धूम्रपान करने पर जुर्माने का प्रावधान है। नशा कुछ समय के लिए खुशी और आनंद दे सकता है लेकिन वही नशा व्यक्ति के जीवन के अंत का कारण भी बनता है।
इस अवसर में चिकित्साधिकारी डाॅ. मुकेश अग्रवाल व डाॅ. लोकेश कुमार गुप्ता उपस्थित रहे। उन्हांेने बताया कि करीब 28 प्रतिशत लोग तंबाकू व धूम्रपान का सेवन करते है, जिसके चलते उन्हें कई प्रकार के कैंसर व फेफडों से संबंधित बीमारियों होने का खतरा बढ़ जाता है। दृढ़ इच्छा शक्ति कर इसे छोड़ा जा सकता है। अच्छा स्वास्थ्य किसी भी व्यक्ति का मानसिक, शारीरिक और सामाजिक कल्याण के लिए अत्यन्त आवश्यक घटक है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस-2019 की थीम के अनुसार भी प्रत्येक दिवस को विश्व तंबाकू निषेध दिवस के रूप में मनाते हुए तंबाकू का परित्याग करने के लिए आमजन से अपील की।

Leave a Comment