शिक्षा के लिए दूरदर्शन की सुविधा देने पर संचार व प्रसारण मंत्री जावडेकर का आभार: देवनानी

गरीब विद्यार्थियों को होगा फायदा जिनके पास ना एन्ड्राॅयड फोन है ना क्षेत्र में इंटरनेट

प्रो. वासुदेव देवनानी
अजमेर, 22 मई। विधायक अजमेर उत्तर एवं पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने राजस्थान के सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए रेड़िया व दूरदर्शन के प्रदेश स्तरीय चैनल पर राज्य सरकार को स्टडी प्रोग्राम प्रसारित करने की सुविधा देने पर केन्द्रीय संचार एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का आभार व्यक्त किया।
देवनानी ने कहा कि केन्द्र सरकार ने सरकारी विद्यालयों के बच्चों की शिक्षा के लिए आकाशवाणी की सुविधा बिल्कुल निःशुल्क तथा दूरदर्शन की सुविधा मामूली शुल्क के साथ दी है जिससे विशेषरूप से ग्रामीण क्षेत्र के एसे गरीब विद्यार्थी लाभान्वित होंगे जिनके पास ना तो एन्ड्राॅयड फोन है और ना ही उनके क्षेत्र में इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध है। राज्य के शिक्षा मंत्री को इसके लिए केन्द्र सरकार का आभार प्रकट करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान जब सभी विद्यालय बन्द है तथा प्राईवेट स्कूल आॅनलाईन पढ़ाई करा रहे है एसे में गरीब बच्चों व ग्रामीण क्षेत्र में केन्द्र सरकार के सहयोग से उपलब्ध कराई गई यह सुविधा बहुत उपयोगी साबित होगी तथा राज्य के लाखों विद्यार्थी छुट्टियों में भी लाभान्वित होंगे।

वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2018 में चयनितों को शीघ्र नियुक्ति दे
अजमेर, 21 मई। विधायक अजमेर उत्तर एवं पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोबिन्द सिंह डोटासरा से मांग की है कि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2018 में चयनितों को शीघ्र नियुक्ति दी जाए। उन्होंने कहा कि आरपीएससी द्वारा परिणाम जारी कर सभी कार्यवाही पूरी करते हुए शिक्षा विभाग को चयनितों की सूची सौंप दी गई परन्तु शिक्षा विभाग द्वारा उन्हें नियुक्ति दिये जाने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाये है।
देवनानी ने कहा कि हमारी सरकार द्वारा निकाली गई भर्ती की परीक्षा अक्टूबर, नवम्बर 2018 मंे आयोजित हुई थी जिसका अन्तिम परिणाम अब जाकर जारी हुआ है परन्तु राज्य सरकार की ढ़िलाई के चलते चयनितों को नियुक्ति दिये जाने में विलम्ब हो रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार तत्काल आॅनलाईन काउन्सलिंग कर चयनितों को निुयक्ति प्रदान करे।

घोषित अन्य भर्तियां भी करे विज्ञापित
देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पिछले दो बजटों में घोषित शिक्षकों व अन्य पदों की भर्तियों को भी शीघ्र विज्ञापित किया जाए। राज्य में अभी तक भाजपा सरकार के समय विज्ञापित भर्तियों पर ही नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है जबकि प्रदेश के बेरोजगार नोकरी की आस में सरकार का मुहं ताक रहे है।

प्रबोधकों के प्रमोशन किए जाए
पूर्व शिक्षा मंत्री देवनानी ने मांग की है कि प्रदेश के विद्यालयों में शिक्षक के रूप में अपनी सेवाए दे रहे प्रबोधकों के भी शिक्षकों की भांति प्रमोशन किए जाए। उन्होंने कहा कि गत भाजपा सरकार के समय उन्होंने शिक्षा मंत्री के पद पर रहते हुए प्रबोधकों को प्रमोशन दिये जाने की कार्यवाही प्रारम्भ की थी जिसकी फाईल प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही गुम हो गई प्रतीत होती है। देवनानी ने कहा कि शिक्षा मंत्री इस मामले को गंभीरता से ले तथा प्रदेश में कार्यरत प्रबोधकों को पदौन्नति देकर उनका मनोबल व सम्मान बढ़ाए।
बोर्ड की शेष परीक्षाओं हेतु सेंटर विद्यालयों में ही रखे जाए
पूर्व शिक्षा मंत्री देवनानी ने प्रदेश के शिक्षा मंत्री से मांग की है कि जिस प्रकार सीबीएसई द्वारा बोर्ड की शेष परिक्षाओं के आयोजन के लिए परिक्षार्थी जिस विद्यालय में अघ्ययनरत है उसी विद्यालय को परीक्षा सेंटर रखे जाने का निर्णय किया गया है उसी प्रकार राजस्थान बोर्ड की शेष परीक्षाओं के आयोजन के लिए भी वैसी ही व्यवस्था कराई जाए जिससे विद्यार्थियों को परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अन्य विद्यालयों व स्थानों पर ना जाना पड़े तथा संक्रमण से उनका बचाव सुनिश्चित हो सके।
उन्होंने शिक्षा मंत्री से यह भी मांग की है कि सीबीएसई की तरह राजस्थान बोर्ड की शेष परीक्षाओं के आयोजन सम्बंधी तारीखों की घोषणा भी शीघ्र की जाए जिससे विद्यार्थियों व अभिभावकों में व्याप्त असमंजस की स्थिति व मानसिक तनाव हट सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!