ब्यावर खटीक समाज ने सौंपा ज्ञापन

ब्यावर, 29/06/2020
लाखेरी जिला बूंदी निवासी भारतीय सैना के नायब सुबेदार विजय कुमार की माता कैलाशी बाई व पिता हजारीलाल का अपहरण कर उनकी हत्या 8 जनवरी 2018 को की गई। जिसकी थ्ण्प्ण्त्ण् थाना लाखेरी में दर्ज करवाई थी। पुलिस ने जाँच कर मुल्जिमानों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने घटना स्थल से खून से सने कपड़े तो बरामद किये लेकिन आरोपीगण जमानत पर छूट गए। पुलिस द्वारा निष्पक्ष अनुसंधान नहीं करने के कारण शव अभी तक बरामद नहीं हो पाये हैं तथा आरोपी भी छूट गए हैं।
नायब सुबेदार विजय कुमार बड़गुर्गर 24 वर्ष से लगातार भारतीय सेना में अपनी सेवाएँ दे रहें है। वर्तमान समय में पूरा देश जवानों के साथ खड़ा है। एक वीर सिपाही अपने माँ-बाप का रीतिरिवाज से क्रियाकर्म नहीं कर पा सके और वहीं दोषी भी जमानत पर छूटे हुए है जिससे देश के साथ ईमानदारी से अपनी सेवाएँ देने वाले सैनिक को भी न्याय के लिए भटकना पड़ रहा है। नायब सुबेदार इस घटना से त्रस्त होकर मुख्यमंत्री व राष्ट्रपति से अपनी इच्छा मृत्यु की मांग कर चुके है जो समाज के लिए आक्रोश की बात है।
अतः समस्त खटीक समाज, ब्यावर आंदोलन के लिए उद्वेलित है। खटीक समाज, ब्यावर के मोहनलाल दायमा, पारसमल चांवला, एडवोकेट राजेन्द्र बागड़ी, राकेश नेनीवाल, शिवप्रसाद सामरिया, एडवोकेट हेमन्त चंदेल, मुकेश तोषिक, मदनलाल सामरिया, चन्द्रप्रकाश, दशरत, मुकेश सामरिया एवं समस्त खटीक समाज, ब्यावर ने उपखण्ड अधिकारी ब्यावर को ज्ञापन सौंपा और दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही की मांग की।

प्रेषक
एडवोकेट राजेन्द्र बागड़ी,ब्यावर
समस्त खटीक समाज ब्यावर, जिला अजमेर

Leave a Comment

error: Content is protected !!