झंडा भी डंडे के कारण ही ऊंचा उठता है

प्रो. वासुदेव देवनानी
अजमेर, 13 अक्टूबर। भाजपा के वरिष्ठ नेता, पूर्व शिक्षा मंत्री व अजमेर उत्तर के विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा है कि झंडा भी डंडे के कारण ही ऊंचा उठता है। यही देश के स्वाभिमान और संस्कृति को हमेशा ऊंचा उठाने का काम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) करता आया है और करता रहेगा। आरएसएस के डंडे ने आज तक किसी को तोड़ा नहीं है, बल्कि पूरे देश और और इसके स्वाभिमान को जोड़ा ही है। तोड़ने का काम तो केवल कांग्रेस ही करती आई है और अभी तक कर रही है।
देवनानी ने कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय मुख्य संगठक (अध्यक्ष) लालजी देसाई द्वारा मंगलवार को अजमेर में प्रेस काॅन्फे्रंस में दिए गए बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बुधवार को जारी बयान में कहा कि कांग्रेस के नेताओं को आरएसएस पर अंगुली उठाने से पहले अपने खुद और पार्टी के गिरेबां में झांक कर देख लेना चाहिए। कांग्रेस का इतिहास बताता है कि उसने हमेशा देश को तोड़ने का काम किया है। आजादी के बाद जवाहरलाल नेहरू के कारण ही देश का विभाजन हुआ और पाकिस्तान पैदा कर दिया। आज वही पाकिस्तान भारत के लिए सबसे ज्यादा परेशानी का कारण बना हुआ है। वही पाकिस्तान आतंकवाद और आतंकवादियों को पनाह, हथियार और आर्थिक मदद देकर भारत में अराजकता और हिंसा फैला रहा है। उल्लेखनीय है कि मंगलवार को प्रेस काॅन्फें्रस में देसाई ने कहा था कि आरएसएस का डंडा तोड़ता है और कांग्रेस सेवादल का झंडा जोड़ता है।
देवनानी ने कहा कि आरएसएस देश और देश के स्वाभिमान व संस्कृति की रक्षा के लिए अलावा किसी भी तरह का विदेशी प्रलाप नहीं करता है। यह काम कांग्रेस बखूबी करती आई है और अभी भी कर रही है। चीन और पाकिस्तान से उसका अंतरंग प्रेम जगजाहिर है। कांग्रेस नेताओं के पाकिस्तानियों से संबंध हैं, तो चीन से भी कांग्रेस और उसके नेताओं को सहयोग लेने में कोई परहेज नहीं है। आरएसएस और भाजपा ने आज तक पाकिस्तान और चीन ही नहीं, किसी भी अन्य देश से किसी प्रकार का कोई तालमेल नहीं किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता हमेशा राष्ट्रविरोधी ताकतों और आतंकियों की पैरवी करते आए हैं और अब भी गाहे-बगाहे करते रहते हैं। जम्मू-कश्मीर में धारा 370ए हटाने का सबसे ज्यादा विरोध कांग्रेस और उसके नेताओं ने किया था। वहां के आतंकवादी संगठनों के नेताओं से बातचीत कांग्रेस के नेता ही करते रहे हैं। सही मायने में देखा जाए, तो कांग्रेस और उसके नेता यह चाहते ही नहीं हैं कि जम्मू-कश्मीर में शांति बहाल हो।
देवनानी ने कहा कि आरएसएस देश की एकता और अखंडता बनाए रखने के लिए पूरी तरह कटिबद्ध है और हमेशा रहेगा। आज देशभर में आरएसएस के जो भी कार्यक्रम चलाए गए हैं, चलाए जा रहे हैं और चलाए जाएंगे, वह सब देश को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए ही हैं और रहेंगे। कांग्रेस की तरफ से आज तक एक भी ऐसा कोई कार्यक्रम देशभर में नहीं चलाया गया है। आरएसएस का मुख्य लक्ष्य अखंड भारत का फिर से निर्माण करना है, लेकिन कांग्रेस और उसके नेता नहीं चाहते कि हमारा देश फिर से अखंड भारत बने। किंतु अब कांग्रेस का यह सपना कभी पूरा नहीं होगा। देश अखंड भारत बनकर रहेगा और स्वराज पूरी तरह कायम होगा।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!