सावधान: आपके मकान-जमीन पर है भू-माफियाओं की नजर

-संजय सक्सेना, लखनऊ- उत्तर प्रदेश में तरह-तरह के अपराधों पर अंकुश लगाना किसी भी सरकार के लिए हमेशा चुनौतीपूर्ण होता है। अपराधों पर नियंत्रण नहीं लगा पाने के कारण ही 2007 और 2012 में समाजवादी सरकार को जनता ने उखाड़ फेंका था। अपराध नियंत्रण के लिए योगी सरकार कटिबद्ध दिखाई दे रही है। अपराधियों के … Read more

अब तो बेरोजगारी की भयावह तस्वीर बदलें

दुष्यंत कुमार ने कहा था-हो गई है पीर पर्वत सी पिघलनी चाहिए, इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए।’ देश में बेरोजगारी एक ऐसी समस्या है, जिसका समाधान न होने से युवा सपनों पर अंधेरा छाया हुआ है, जो एक पीड़ा है, एक समस्या है। जिसका समाधान होना ही चाहिए। देश में 2017-18 में बेरोजगारी … Read more

करना होगा ऐसे दरिंदों का सामाजिक बहिष्कार

हर आँख नम है हर शख्स शर्मिंदा है क्योंकि आज मानवता शर्मसार है इंसानियत लहूलुहान है। एक वो दौर था जब नर में नारायण का वास था लेकिन आज उस नर पर पिशाच हावी है। एक वो दौर था जब आदर्शों नैतिक मूल्यों संवेदनाओं से युक्त चरित्र किसी सभ्यता की नींव होते थे लेकिन आज … Read more

डॉ॰ हर्षवर्धन मूल्यों की राजनीति के प्रेरक

नरेन्द्र मोदी की दूसरी बार बनी केन्द्र सरकार के मंत्रिपरिषद में अनुभवी, कार्यक्षम एवं विशेषज्ञ नए-पुराने चेहरों की उपस्थिति नई सरकार को और प्रभावी बनाने एवं बेहतर परिणाम देने वाली बनायेगी, ऐसा विश्वास है। देखने में आ रहा है कि यहां व्यक्ति और मंत्रालय का महत्व नहीं है, महत्व है काम करने का, देश को … Read more

यह क्रिकेट या नूरा कुश्ती

खेल तब रोचक होता है जब दोनों प्रतिद्वन्दी टीमें बराबर की हो यह मेंने पहले भी 2014 के बाद अपनी ऐक पोस्ट में बताया था कि इस बार विपक्ष के हार के कारण यह है कि इनके पास ना मोदीजी जैसा तेज फेकने वाला बोलर था ना फिल्डर था ना उनके पास अमितशाह जैसा बेटसमैन … Read more

नारी की कमज़ोरी

माँ की ममता नारी दुर्गा है ,अन्नपूर्णा हैं ,लक्ष्मी हैं परिस्थितियों के अनुरूप हर रूप में है नारी अपनी हर बात पर डट कर खड़ी रहती हैं दूसरों की नज़रों में मिशाल बन जाती हैं लेकिन माँ की ममता कहते है कमज़ोर होती हैं ……….. बूढ़ी माँ को नया नया मोबाइल प्रकाश ने दिलाया कावेरी … Read more

रोचक एवं अनसुनी जानकारीयां

गाँधी बाबा सबसे पहिले दरिद्रनारायण की भलाई को केंद्र मे रख कर भाषण दिया करते थे और वैसी ही नितीयां बनाते थे किन्तु आजकल तो राजनेता बात तो गांधीजी की करते हैं किन्तु नीतियाँ और निर्णय पूंजीपतियों और उद्द्योगपतियों के हित साधन के लिये लेते है | क्या आप जानते हैं कि गांधीजी वर्धा आश्रम … Read more

कांग्रेस की हार के लिए क्या अकेले गहलोत ज़िम्मेदार है ?

मीडिया में एक संगठित अभियान के द्वारा लोकसभा चुनाव में राजस्थान में कांग्रेस की पराजय के लिए सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पूरी तरह ज़िम्मेदार ठहराने की होड़ सी लगी हुई है। यहां तक कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी की मीटिंग में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अशोक गहलोत के प्रति जबरदस्त नाराज़गी की खबरें … Read more

कांग्रेस को अपनी हार नहीं, बीजेपी की जीत की समीक्षा करनी चाहिए

2019 के लोकसभा नतीजे कांग्रेस के लिए बहुत बुरी खबर लेकर आए। और जैसा कि अपेक्षित था, देश की सबसे पुरानी पार्टी में भूचाल आ गया। एक बार फिर हार की समीक्षा के लिए कमेटी का गठन हो चुका है। पार्टी में इस्तीफों की बाढ़ आ गई है। खबर है कि खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल … Read more

आखिर किसके पास है भारत का मूल संविधान

एक साल से इसका जवाब भारत सरकार के मंत्रालय नहीं दे पा रहे हैं।* भारतीय कानूनों के आधार ग्रन्थ ‘हमारे संविधान’ की उपलब्धता की जानकारी क़ानून मंत्रालय के पास भी नहीं है न ही वह यह बता पा रहा है की मूल संविधान की पुस्तक है तो कहाँ है? सूचना के अधिकार अधिनियम के अंतर्गत … Read more

जातिवाद से आजाद होता देश का लोकतंत्र

2019 के लोकसभा चुनाव परिणाम कई मायनों में ऐतिहासिक रहे। इस बार के चुनावों की खास बात यह थी कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के चुनाव परिणामों पर देश ही नहीं दुनिया भर की नज़रें टिकी थीं। और इन चुनावों के परिणामों ने विश्व में जो आधुनिक भारत की नई छवि बन रही थी … Read more