अनंत आस्था के केन्द्र और विराट व्यक्तित्व के धनी भारत ज्योति आचार्य तुलसी

दीपावली के दूसरे दिन भाई दूज के दिन हमारे देश में इस शताब्दी के आध्यात्मिक क्षितिज पर एक विलक्षण महापुरुष का जन्म हुआ जिसको सारी दुनिया आचार्य तुलसी के नाम से जानती है । मंझला कद गौर वर्ण तेजस्वी नयन के साथ धवल परिधान से झांकता भव्य व्यक्तित्व और आशीर्वाद की मुद्रा में उठा हुआ … Read more

*आजादी से पहले पत्रकारिता एक मिशन थी, जो धीरे धीरे अब कमीशन बन गई है

पत्रकारों का सम्मानीय जीवन जीने का अधिकार और सुरक्षा को कायम रखना पहले से बड़ी चुनौती हो गया है अन्याय के विरुद्ध प्रतिरोध लोकतंत्र का प्रमुख आधार है, अभिव्यक्ति को मान देना। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता एक सभ्यतामूलक विमर्श है। प्रतिरोध व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का संसार लोकतंत्रीय है, जिसमें बहु सांस्कृतिकता की ध्वनियां हैं तथा … Read more

कायस्थ समाज आज मना रहा है अपने कुल देवता भगवान चित्रगुप्त जी की जयंती

संजय सक्सेना,लखनऊ पूरा देश जहां भैया दूज मना रहा है,वहीं कायस्थ समाज भैया दूज के साथ-साथ आज अपने कुल देवता भगवान श्री चित्रगुप्त महाराज की जयंती भी मना रहा है। आज के दिन कायस्थ समाज परम्परागत रूप से कलम-दवात की पूजा करके विद्या की देवी माॅ सरस्वती की भी पूजा करता है। भगवान चित्रगुप्त के … Read more

*शुभ-दीपावली*

दिवाली भी अस्त-व्यस्त है , कोरोना की मार से । अब भी हमें सजग रहना है , इस दानव के वार से । इच्छा थी आतिशबाजी कर , सारा गगन उठा लेंगे । एक दूसरे के घर जाकर , धोक-बधाई भी देंगे । कोरोना की सीमाओं ने , हमसे सब कुछ छीन लिया । कई … Read more

सशक्त लोकतंत्र का आधार है बिहार में नया जनादेश

बिहार विधानसभा के चुनाव परिणामों से एक बात स्पष्ट हो गयी है कि मतदाता अब जागरूक एवं समझदार हो गया है। हर घटना को वह गुण-दोष के आधार पर परखकर, समीक्षा कर अपने मत का उपयोग करता है, अब न जातिवादी और न साम्प्रदायिक राजनीति असरकार रही है न ही वंशवादी। भाजपा का विकास का … Read more

भगवान विष्णु धरती पर अवतार लेते हैं तब तब माता लक्ष्मी भी उनके साथ अवतरित होती है

भाग्य विधाता और भाग्य लक्ष्मी माता लक्ष्मीजी को देवताओ मे धन-दोलत- ऐश्वर्य, स्नेह , सफलता, आध्यात्मिक एवंभौतिकी प्रगति का अवतार माना गया है | लक्ष्मीजी भगवान विष्णु की धर्मपत्नी है |लक्ष्मी जी अपनेभक्तों को सोभाग्य प्रदान कर उन्हें गरीबी, दरिद्रता एवं दुखोंसे भी बचाती है | लक्ष्मी जी भगवानविष्णु के लिए भी शक्ति का स्त्रोत … Read more

क्या दैवीय शक्तियां हमारी मदद करती हैं?

दुनिया में बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें उनके जीवन में दैवीय सहायता मिलती है। किसी को ज्यादा तो किसी को कम। कुछ तो ऐसे हैं जिनके माध्यम से दैवीय शक्तियां अच्छा काम करवाती हैं। सवाल यह उठता है कि आम व्यक्ति कैसे पहचानें कि उसकी दैवीय शक्तियां मदद कर रही है या उसकी पूजा-पाठ-प्रार्थना … Read more

क्या आप जानते हैं माता लक्ष्मी कहाँ और क्यों निवास करना पसंद करती है ?

विश्व भर में सनातन धर्मावलम्बियों और हिन्दू धर्म को मानने वाले दीपावली पर धन,सम्पन्नता,सुख खुशीकी कामना रखने वाले व्यक्ति माता लक्ष्मी जीपूजा अर्चना जरुर करते है | साधारणतया दीपावली पर हम अपने घरों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर सफाई और रंग रोशन करवा कर चकमा देते हैं | हम दीपावली परअपने आप से सवाल पूछें क्या … Read more

Sajadanashin Khawaja Sahib : Relevant Para’s of Supreme Court Judgment 1987

On October 23, 1975, the plaintiff died. His son Syed Zainul Abedin Ali Khan was brought on record in the pending Special Appeal before the Division Bench of the High Court. On March 7, 1980 Division Bench dismissed the Special Appeal affirming the judgment of learned single judge. Following that judgment, the Government again issued … Read more

क्या है नाड़ी ज्योतिष?

नाड़ी’ शब्द के यूं तो कई अर्थ हैं, किन्तु ज्योतिष शास्त्र में नाड़ी का अर्थ ‘आधा मुहूर्त’ अर्थात 24 मिनट का समय माना जाता है। एक महूर्त का काल 48 मिनट के बराबर माना जाता है। नाड़ी शब्द समय वाचक होने के बाद भी ज्योतिष में एक विधा या पद्धति के रूप में जाना जाता … Read more

सुशासन के मूल्यांकन की आवाज को सुनें

सत्ता एवं समाज को विनम्र करने का हथियार मुद्दे या लाॅबी नहीं, पद या शोभा नहीं, ईमानदारी है और सुशासन है। और यह सब प्राप्त करने के लिए ईमानदारी के साथ सौदा नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि यह भी एक सच्चाई है कि राष्ट्र, सरकार, समाज, संस्था व संविधान ईमानदारी से चलते हैं, न कि … Read more

error: Content is protected !!