कर्तव्यनिष्ठता सत्यता और सादगी की प्रतिमूर्ति जननायक शास्त्री जी के जीवन के अद्भुत मर्मस्पर्शी प्रेरणादायक संस्मरण Part 3

लाल बहादुर शास्त्री के जीवन के संस्मरण बचपन में ही नन्हें लाल बहादुर ने तय कर लिया कि वो कोई ऐसा काम नहीं करेंगे जिससे दूसरों को नुकसान नहीं हो छः साल का एक नाटे कद का मासूम लड़का अपने दोस्तों के साथ एक बगीचे में फूल तोड़ने के लिए घुस गया,उसके दोस्तों ने बहुत … Read more

उम्मीद है यह पहला कदम होगा आखरी नहीं

2021 में भारत को स्वराज प्राप्त हुए 74 वर्ष पूर्ण हुए और हम स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं। इस अवसर पर देश स्वाधीनता का अमृत महोत्सव मना रहा है। ऐसे समय में प्रधानमंत्री उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह राजकीय विश्वविद्यालय की आधारशिला रखते हैं। भारत जैसे देश … Read more

जननायक शास्त्री जी के जीवन के अद्भुत मर्मस्पर्शी प्रेरणादायक संस्मरण Part 1

नाटे कद और हमेशा मुस्कराता हुवा चेहरा रखने वाले शास्त्री जी जवाहर लाल के उतराधिकारी बन कर देश के दुसरे प्रधानमंत्री बने | वास्तव में शास्त्री जी जहाँ एक तरफ आजादी के लिये अपना सर्वस्व कुर्बान करने का संकल्प रखते थे वहीं दसरी तरफ वो मितभाषी और आत्मसम्मान के धनी थे | वर्तमान समय के … Read more

रूहानी गुरु, रूह को, मानस (हृदय) में, ईश्वर के दर्शन कराता है !

कबीरदास जी का एक दोहा है: गुरु गोविंद दोउ खङे, काके लागूं पांय। बलिहारी गुरु आप की, गोविंद दियौ बताय।। यदि कभी ऐसा हो जाए कि गुरु और भगवान , दोनो एक साथ मिल जाएं तो पहले गुरु को प्रणाम करो। कारण यह कि गुरु ने ही बताया कि ये ईश्वर हें। अब पहला सवाल, … Read more

यत्र नार्यस्तु पूज्यंते, रमंते तत्र देवताः

मनु स्मृति के श्लोक की एक पंक्ति है – जिस घर में स्त्री की पूजा होती है, वहां देवता निवास करते हैं। ? पूजा यानी सत्कार। देवता का अर्थ है सुख समृद्धि, शांति, बरकत आदि। तो जहां नारी का सत्कार होता है, उस घर में सर्व मंगल , सर्व सुख विद्यमान रहते हैं। अब समझें … Read more

राष्ट्र-गौरव को देना होगा निष्पक्ष सम्मान

देश के वास्तविक इतिहास, आजादी के सच्चे योद्धाओं, ऐतिहासिक धरोहरों, हिन्दू परंपराओं और प्रतीकों के प्रति कांग्रेसी दुराग्रह ने इतिहास एवं ऐतिहासिक घटनाओं को धुंधलाया है। इस देश की उत्कृष्ट परंपराओं और विचारों को दकियानूसी और पिछड़ा करार दिया गया। योग, आयुर्वेद और संस्कृत भाषा के प्रति जो दुराग्रह रहा, उसका परिणाम हुआ कि ये … Read more

जिंदगी से संवाद

साँच बराबर तप नहीं, झूंठ बराबर पाप। सत्य को जान लेना सब से बड़ी तपस्या है। इसी तरह झूठ को नहीं जानना सब से अधिक घातक पाप है। सत्य को जान लोगे तो मुक्त हो जाओगे। झूठ से अनभिज्ञ रहोगे तो डूब जाओगे। झूठ ही पतन कराता है। झूठ ही बार बार पुनर्जन्म कराता है। … Read more

पंजाब में चन्नी के नेतृत्व की खनक

पंजाब में श्री चरणजीत सिंह चन्नी के हाथ में राज्य की बागडोर सौंप कर कांग्रेस पार्टी ने एक तीर से अनेक निशाने साधे हैं। कांग्रेस की लगातार कमजोर होती स्थिति में यह एक ऊर्जा का संचार करने वाला कदम है। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की दृष्टि से यह कांग्रेस के लिये एक सकारात्मक … Read more

कांग्रेस के पंजाब दांव से यूपी में बैकफुट पर आई बीजेपी 22 से करेगी मंथन

लखनऊ। कांग्रेस ने पंजाब में अपने दलित नेता को मुख्यमंत्री की कुर्सी क्या सौंपी है, उत्तर प्रदेश की भी दलित राजनीति उफान मारने लगी है। यूपी कांग्रेस के नेता बीजेपी पर तंज कसने लगे हैं कि हम सिर्फ दलितों क यहां जाकर खिचड़ी नहीं खाते हैं,बल्कि उन्हें मुख्यमंत्री भी बनाते हैं। कांग्रेस के दलित दांव … Read more

नारी कब तक बेचारगी का जीवन जीयेगी?

हम तालिबान-अफगानिस्तान में बच्चियों एवं महिलाओं पर हो रही क्रूरता, बर्बरता शोषण की चर्चाओं में मशगूल दिखाई देते हैं लेकिन भारत में आए दिन नाबालिग बच्चियों से लेकर वृद्ध महिलाओं तक से होने वाली छेड़छाड़, बलात्कार, हिंसा की घटनाएं पर क्यों मौन साध लेते हैं? इस देश में जहां नवरात्र में कन्या पूजन किया जाता … Read more

बहुत याद आएंगे ईशमधु तलवार

*पत्रकारिता की यूनिवर्सिटी थे तलवार साब* भीलवाड़ा। हरदम हँसता मुस्कुराता चेहरा। हर बात ध्यान से सुनना ओर फिर प्रतिक्रिया देने की महारत हासिल कर *पत्रकारिता की यूनिवर्सिटी* कहलाये ईशमधु तलवार अब हमारे बीच नहीं है। लेकिन कहते है इतिहास बनाने वाले कभी नहीं मरते। शरीर भले ही छोड़ दे लेकिन वे अमर रहते है। ऐसी … Read more

error: Content is protected !!