आर्य कर रहे हैं पुष्कर से लडऩे की तैयारी

चौपाल पर चर्चा है कि भाजपा नेता और अजमेर नगर निगम के पूर्व उप महापौर सोमरत्न आर्य आगामी विधानसभा चुनाव में पुष्कर से भाग्य आजमाने की तैयारी कर रहे हैं। असल में वे जानते हैं कि अजमेर शहर में उनके लिए राजनीतिक कैरियर की कोई संभावना नहीं है। संगठन में कई साल से हैं और उसमें कुछ खास मजा नहीं है।

वैसे भी संगठन में अध्यक्ष बनने की उनकी कोशिशें बेकार चली गईं और पूर्व सांसद रासासिंह रावत को मौका मिल गया। रहा सवाल चुनावी राजनीति से जुडऩे का तो अजमेर दक्षिण की सीट रिजर्व है और अजमेर उत्तर की सीट अघोषित रूप से सिंधियों के लिए आरक्षित। रहा सवाल नगर निगम का तो वहां चुनाव इस कारण नहीं लड़ा कि उसमें हद से हद पार्षद बन जाते अथवा चांस मिलता तो फिर से उप महापौर बन पाते। महापौर का पद तो रिजर्व था।

अगले चुनाव में किसी के लिए रिजर्व होगा या फिर सामान्य, कुछ कहा नहीं जा सकता। ऐसे में आर्य ने सोचा कि इससे तो बेहतर है कि कहीं और भाग्य आजमाया जाए। सुना है कि उन्होंने पुष्कर के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं। उन्हें अनुमान हो चला है कि पिछली बार भाजपा प्रत्याशी रहे भंवर सिंह पलाड़ा रावतों की भाजपा से बगावत के कारण हारने के बाद वहां रुचि नहीं लेंगे।

चर्चा है कि वे अब केकड़ी में ध्यान दे रहे हैं। ऐसे में फिलहाल पुष्कर में कोई दमदार दावेदार है नहीं, यानि कि फिलहाल मैदान साफा है, सो आर्य को यहीं जमीन तलाशना ठीक लग रहा है। इसी सिलसिले में आए दिन किसी न किसी बहाने पुष्कर का चक्कर काट आते हैं। देखते हैं कि चुनाव नजदीक आने पर उन्हें किस अन्य दावेदार से मुकाबला करना होगा।

Leave a Comment