फेसबुक पर भारतीय को दर्शाया गया अलकायदा का सदस्य

फेसबुक के पेज में अलकायदा का सक्रिय सदस्य दर्शाने पर भारत के प्रदीप मनुकोंडा ने सोशल नेटवर्किंग फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। मामले की सुनवाई अगले सप्ताह भारत में होगी।

प्रदीप मनुकोंडा के मुताबिक जुकरबर्ग ने फेसबुक में फर्जी पेज बनाकर उनकी छवि बिगाड़ने के साथ जिंदगी से खिलवाड़ किया है। हालांकि 31 वर्षीय प्रदीप मनुकोंडा पर भी जुकरबर्ग को ढेरों संदेश व गिफ्ट के तौर फूल भेजकर परेशान करने का आरोप लगा था। ऐसा कहा जा रहा है कि प्रदीप की इन्हीं हरकतों से परेशान होकर जुकरबर्ग ने पिछले साल अदालत की शरण ली थी। अदालत में दी गई अर्जी में जुकरबर्ग ने कहा था कि प्रदीप लगातार संदेश भेज रहे है, उनसे मुझे अब डर लगने लगा है क्योंकि 28 जनवरी को प्रदीप ने हाथ से लिखा एक पत्र मुझे भेजा है। इसके बाद मेरी सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। इन सब आरोपों की सुनवाई के बाद अदालत से उन्हें निरोधक आदेश भी मिल गया था। इसके बाद प्रदीप को भारत लौटना पड़ा था। भारत आने के बाद प्रदीप ने जुकरबर्ग के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया। उन्होंने अदालत में दी गई अर्जी में आरोप लगाया है कि जुकरबर्ग ने उन्हें बदनाम करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। यहां तक फेस बुक में फर्जी पेज बनाकर उन्हें अलकायदा का सक्रिय सदस्य बता दिया। प्रदीप ने अदालत से गुहार लगाई है कि उनकी छवि खराब करने वाले जुकरबर्ग को रोका जाए। अदालत ने मामले की सुनवाई के लिए अगले सप्ताह की तिथि मुकर्रर की है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!