2जी मुक्त भारत के लिए सरकार जल्द कदम उठाए- मुकेश अंबानी

नई दिल्ली,: रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी ने शुक्रवार को कहा कि अब 2जी मोबाइल सेवा की विदाई का वक्त आ गया है। श्री अंबानी ने पच्चीस वर्ष पूर्व आज ही के दिन देश में पहली मोबाइल कॉल के शुभारंभ होने के अवसर पर भारतीय सेलुलर आपरेटर्स संघ (सीओएआई) के “देश की डिजिटल उड़ान” नाम से आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री अंबानी ने कहा कि अब वक्त आ गया है कि देश को 2जी मुक्त बनाया जाए।
उन्होंने आज जब दुनिया 5जी के दरवाजे पर खड़ी है तब देश में 30 करोड़ से अधिक लोग 2जी में फंसे हैं और 2जी फीचर फोन इस्तेमाल कर रहे हैं। इस मसले पर तुरंत आवश्यक नीतिगत कदमों को उठाने की नितांत जरुरत है। श्री अंबानी ने कहा लॉकडाउन के बीच मोबाइल, जिंदगी का जरूरी हिस्सा बन कर उभरा है और लोगों को सशक्त बनाने का एक माध्यम बना। उन्होंने कहा कि मोबाइल ने राष्ट्र को कठिन समय में भी जोड़े रखा और अर्थव्यवस्था का पहियां मोबाइल के दम पर ही घूमता दिखा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के “ईज ऑफ लिविंग” के सपने का जिक्र करते हुए श्री अंबानी ने कहा कि डिजिटल मोबिलिटी इस सपने को साकार कर रही है। प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया मिशन की उन्नति में जियो अपना पूर्ण योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है।
डिजिटल अर्थव्यवस्था में जियो के योगदान के बारे में बोलते हुए श्री अंबानी ने कहा “डिजिटल प्लेटफॉर्म हमारे लाखों किसानों, छोटे व्यापारियों, उपभोक्ताओं, छोटे और मध्यम उद्यमों, छात्रों, शिक्षकों, स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों और नवोन्मेष को सशक्तिकरण के नए और उन्नत उपकरण प्रदान करेगा। इससे हमारे प्रतिभाशाली युवाओं के लिए नए और आकर्षक रोजगार और आजीविका के अवसर भी पैदा होंगे।
गौरतलब है कि हाल ही में जियो प्लेटफॉर्म्स में दुनिया की 13 प्रतिष्ठित प्रौद्योगिकी कंपनियों ने निवेश किया है। भारतीय कंपनी जगत के इतिहास में यह अब तक की सबसे बड़ी राशि का धन जुटाया गया. है।
जियो ने अपने लॉन्च के पहले चार वर्षों में 40 करोड़ के करीब ग्राहक जोड़ लिए हैं। दूरसि क्षेत्र के पुराने दिग्गजों एयरटेल और वोडा-आइडिया जियो के आगे ठहर नहीं पाये हैं। श्री अंबानी ने कहा कि चार साल से भी कम समय में हमने डिजिटल क्रांति का फल मोबाइल उपभोक्ताओं को दिया है।
श्री अंबानी ने 15 जुलाई को रिलायंस की 43 वीं एजीएम में सोशल मीडिया की दिग्गज गूगल के जियो प्लेटफॉर्म्स में 33737 करोड रुपये में 7.73 प्रतिशत इक्विटी देने के साथ ही भारतीय दूरसंचार क्षेत्र को 2जी मुक्त कराने और 4जी और 5जी सस्ते स्मार्टफोन फोन उतारने की भी घोषणा की ।
उन्होंने अगले तीन वर्ष में रिलायंस जियो के उपभोक्ताओं को पचास करोड़ पहुंचाने का लक्ष्य रखा है ।
इससे पहले भी जियो के सस्ते फोन ने तहलका मचाया और इसके आने से फीचर्स फोनों का बाजार लगभग सिमट गया। अब सस्ता स्मार्टफोन लाकर श्री अंबानी की नजर 35 करोड 2जी उपभोक्ताओं में से ज्यादा से ज्यादा को जियो के पाले में लाने पर होगी।

Leave a Comment

error: Content is protected !!