झंवरलाल व्यास ‘रंगीला’ की जयंती पर तुलसी के पौधे वितरित

bikaner samacharबीकानेर, 11 अक्टूबर। खेल लेखक एवं शतरंज के अंतर्राष्ट्रीय ऑर्बिटर स्वर्गीय झंवर लाल व्यास ‘रंगीला’ की 54वीं जयंती पर मंगलवार को लक्ष्मीनाथ मंदिर परिसर में तुलसी के पौधों का निःशुल्क वितरण किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता बसंत आचार्य ने कहा कि तुलसी में अनेक औषधीय गुण विद्यमान हैं। यह असाध्य रोगोंं को समूल नष्ट करने में सहायक है। विज्ञान भी इसके महत्त्व को मान चुका है। उन्होंने कहा कि धार्मिक दृष्टिकोण से भी तुलसी का विशेष स्थान है। रंगीला की स्मृति में तुलसी के पौधे वितरित करना, उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि है। उन्होंने संस्था के प्रयासों को अनुकरणीय बताया तथा कहा कि फाउंडेशन के सामाजिक सरोकारों के कार्यों से दूसरों को प्रेरणा मिलेगी।
नगर विकास न्यास कर्मचारी संघ के अध्यक्ष गोविंद सिंह निर्वाण ने कहा कि किसी भी व्यक्ति द्वारा किए गए सत्कर्मों को सदैव याद रखा जाता है। इस मार्ग पर चलने वाले व्यक्ति को समाज कभी नहीं भूलता। उन्होंने कहा कि रंगीला सदैव ऐसे पथ पर चले। वे खेलों को प्रोत्साहित करने के साथ, कर्मचारी हितों के लिए सदैव संघर्षरत रहे। युवाओं को उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व का अनुसरण करना चाहिए।
यूआईटी कर्मचारी संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पंडित नथमल व्यास ने कहा कि जिन उद्देश्यों को लेकर फाउंडेशन का गठन हुआ था, संस्था उन उद्देश्यों की ओर लगातार बढ रही है। सीमित संसाधनों के बावजूद संस्थान द्वारा किए जा रहे सतत प्रयास सराहनीय है। कार्यक्रम प्रभारी दुर्गाशंकर आचार्य ने बताया कि संस्था द्वारा लगातार ग्यारहवें वर्ष तुलसी के 150 पौधों का निःशुल्क वितरण किया गया है।
संस्था अध्यक्ष एडवोकेट बसंत आचार्य ने रंगीला के व्यक्तित्व एवं कृतित्व के बारे में बताया तथा संस्थान द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। इस अवसर पर पंडित मक्खन व्यास, पूर्व मिस्टर डेजर्ट राजेन्द्र व्यास, किशन कुमार व्यास, अनिरूद्ध आचार्य, मोहित व्यास, रोहित व्यास आदि मौजूद थे।

mohan thanvi

Leave a Comment

error: Content is protected !!