डूंगर कॉलेज में वार्षिकोत्सव एवं पारितोषिक वितरण समारोह सम्पन्न

बीकानेर 2 फरवरी। डूंगर कॉलेज में शुक्रवार को वार्षिकोत्सव एव पारितोषिक वितरण समारोह सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि खींवसर विधायक श्री हनुमान बेनीवाल रहे। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों ने मां सरस्वती की प्रतिमा के आगे दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारम्भ किया। सर्वप्रथम अजय बारूपाल ने मां सरस्वती की वन्दना प्रस्तुत की। प्राचार्य डॉ. बेला भनोत ने महाविद्यालय का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। डॉ. भनोत ने विगत सत्र में विश्वविद्यालयी परीक्षाओं में स्नातक एवं स्नातकोत्तर कक्षाओं में डूंगर कॉलेज के विद्यार्थियों के विभिन्न कक्षाओं के उत्कृष्ट परीक्षा परिणामों पर खुशी जाहिर की। प्राचार्य ने कहा कि यूजीसी, रूसा एवं राज्य सरकार के विभिन्न मदों से प्राप्त राशि का उपयोग महाविद्यालय के सर्वांगीण विकास में किया जाता है। उन्होनंे दिशारी योजना एवं इन्दिरा गांधी खुला विश्वविद्यालय के कोर्स में डूंगर कॉलेज के विद्यार्थियों के पूर्ण सहयोग को सराहा।
छात्र संघ अधिष्ठाता डॉ. ए.के. यादव ने बताया कि इस अवसर पर छात्र संघ अध्यक्ष श्री अशोक बुड़िया ने विद्यार्थियों से आगामी परीक्षाओं में पूरी मेहनत एवं लगन से पढ़ाई करने का आह्वान किया। महाविद्यालय के छात्र छात्रओं ने असमिया नृत्य तथा राजस्थानी लोक नृत्य प्रस्तुत किये। इस अवसर पर छात्र संघ के पदाधिकारियों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में इस वर्ष राष्ट्रीय सेवा योेजना, महिला प्रकोष्ठ, एनसीसी, खेलकूद आदि के क्षेत्र में विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष रामनिवास कुकणा ने अपने जोशीले भाषण में छात्र हितों के लिये सदैव संघर्षरत रहने की बात कही।
मुख्य अतिथि श्री हनुमान बेनीवाल ने अपने विद्यार्थी जीवन में छात्र हितों के लिये किये गये संघर्षों के बारे में बताते हुए युवाओं से जीवन में आगे बढ़ने का आह्वान किया। उन्होनें विद्यार्थियों गुरूजनों के सम्मान करने की सीख दी। इस अवसर पर बोलते हुए श्री बेनीवाल ने सरकार से स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करते हुए मुफ्त शिक्षा योजना प्रारम्भ करने की मांग की। वरिष्ठ संकाय सदस्य डॉ. शिशिर शर्मा ने विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करने वाले विद्यार्थियों के नामों की घोषणा की।
कार्यक्रम का संचालन डॉ. एम.डी.शर्मा, डॉ. राजनारायण व्यास एवं डॉ. अनिला पुरोहित ने किया।
उपाचार्य डॉ. सतीश कौशिक ने सभी अतिथियों एवं आगन्तुकों का आभार प्रकट किया।

Leave a Comment