भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए इंडोर टिकटों की होगी ऑडिट

लाभार्थी को लाभ ना देने पर तय होगी जिम्मेदारी
*********
बीकानेर। जो परिवार एनएफएसए यानिकी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थी हैं और भामाशाह कार्ड को राशन कार्ड से लिंक करवा रखा है तो उन्हें भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में निःशुल्क ऑपरेशन व भर्ती उपचार का लाभ मिलना ही चाहिए। यदि कोई सम्बद्ध अस्पताल लाभ नहीं देता तो उसके लिए प्रभारी, योजना के नोडल अधिकारी और भामाशाह मार्गदर्शक की जिम्मेदारी तय होगी। जल्द ही चिकित्सा विभाग द्वारा योजना से सम्बद्ध अस्पतालों के इंडोर टिकटों की ऑडिट शुरू की जाएगी। उनमे से यदि कोई भर्ती मरीज के रिकॉर्ड से ऐसा केस पाया जाता है जिसे योजना का लाभ मिल सकता था लेकिन नहीं दिया गया तो इसे गंभीरता से लेते हुए अनुशासनात्मक कार्यवाही भी की जाएगी। शुक्रवार को स्वास्थ्य भवन सभागार में योजना को लेकर आयोजित बैठक में संयुक्त निदेशक डॉ. हरबंस सिंह बराड़ ने स्पष्ट किया कि योजना के तहत सर्वाधिक राशि वाला पैकेज ही बुक किया जाए यदि कोई 2 पैकेज में से एक बुक करना हो। कम राशि का पैकेज बुक करने पर हुए वित्तीय नुक्सान के लिए सम्बंधित एसएमडी जिम्मेदार होगा। उन्होंने पूर्ण सतर्कता से कार्य करते हुए योजनान्तर्गत अधिकाधिक लाभ देने के निर्देश दिए। उपनिदेशक व संभाग स्तर पर योजना के प्रभारी डॉ. संदीप अग्रवाल ने कहा कि समस्त इंडोर मरीजों के भामाशाह कार्ड का इन्द्राज सुनिश्चित किया जाए चाहे वो एनएफएसए लाभार्थी है या नहीं। अस्पताल आते समय अपना भामाशाह कार्ड साथ रखना आम जन की आदत में शुमार हो जाए इसके लिए प्रमुख स्थानों पर ये सूचना चस्पा करवा दी जावे। उन्होंने सभी मार्गदर्शकों को आई-कार्ड सुनिश्चित धारण करने के भी निर्देश दिए। योजना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. सी.एस. मोदी ने सभी एसएमडी को निर्देश दिए कि वे अपने अस्पताल में बुक किए जाने लायक समस्त पैकेज की विभागवार सूची सम्बंधित चिकित्सक से हस्ताक्षर कवाकर रखे और एक कॉपी चिकित्सक के पास हमेशा रहे अन्यथा बहुत से पैकेज वाले उपचार तो हॉस्पिटल में हो जाते हैं लेकिन बीएसबीवाई में बुक ना होने से अस्पताल को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है।
बैठक में डीपीएम सुशील कुमार, आईईसी समन्वयक मालकोश आचार्य, कैंसर अस्पताल से डॉ. मुकेश सिंघल, जिला अस्पताल से डॉ. सी.एस. थानवी सहित योजना से सम्बद्ध सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी व स्वास्थ्य मार्गदर्शक उपस्थित रहे।

बीएसबीवाई फेज 2 में अब तक साढ़े 9 हजार व्यक्तियों को 5 करोड़ रुपए का लाभ
डॉ. सी.एस. मोदी ने जानकारी दी कि 13 दिसंबर 2017 से शुरू योजना के दूसरे चरण के अंतर्गत अब तक मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, 13 सीएचसी व 9 निजी अस्पतालों के माध्यम से साढ़े 9 हजार से अधिक मरीजों को 5 करोड़ से अधिक राशि के पैकेज का लाभ दिया जा चुका है। इसमें से लगभग 12 प्रतिशत लाभ प्राइवेट अस्पतालों के माध्यम से दिया गया है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी
बीकानेर

Leave a Comment

error: Content is protected !!