‘साम्प्रदायिक समरसता और हिन्दी’ विषय पर संगोष्ठी 14 सितम्बर को

वार्षिकोत्सव में श्रीडूंगरगढ में पुरस्कार विजेताओं को किया जाएगा सम्मानित ।
बीकानेर । राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति, श्रीडूंगरगढ का वार्षिकोत्सव 14 सितम्बर को समारोह पूर्वक मनाया जाएगा । इस अवसर पर ‘साम्प्रदायिकता समरसता और हिन्दी’ विषयक संगोष्ठी आयोजित होगी । समारोह की जानकारी देते हुए संस्थाध्यक्ष श्याम महर्षि ने बताया कि महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भगीरथसिंह बिजारणिया के सान्निध्य और प्रांरभिक शिक्षा निदेशक श्यामसिंह राजपुरोहित के मुख्य आतिथ्य में होने वाले इस समारोह की अध्यक्षता भाईचारा फाउण्डेशन, जयपुर के अध्यक्ष वेद व्यास करेंगे । लोकप्रिय साहित्यिक पत्रिका संप्रेशण के संपादक डॉ. चन्द्रभान भारद्वाज विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे । मंत्री बजरंग शर्मा ने बताया कि समारोह में मल्लाराम माली स्मृति साहित्यश्री सम्मान, डॉ. नंदलाल महर्षि हिन्दी साहित्य सृजन पुरस्कार, पं. मुखराम सिखवाल स्मृति राजस्थानी साहित्य सृजन पुरस्कार और बृजरानी भार्गव युवा लेखन पुरस्कार से साहित्यकारों को समादृत किया जाएगा ।
संयोजक रवि पुरोहित ने बताया कि माधव नागदा, लाल मादड़ी को साहित्यश्री, हरीश करमचंदानी, जयपुर को हिन्दी, डॉ. मंगत बादल, रायसिंहनगर को राजस्थानी एवं सुमित शर्मा, बीकानेर को युवा लेखन पुरस्कार अर्पित किए जायेंगे । इस अवसर पर श्रीबख्तावरसिंह राजपुरोहित राजस्थानी कहानी प्रतियोगिता के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार विजेताओं डॉ. अनुश्री राठौड़, उदयपुर, संतोष चौधरी, जोधपुर, राजेन्द्र कुमार शर्मा ‘मुसाफिर’, चूरू को पुरस्कार प्रदान किए जायेंगे । प्रतियोगिता के सान्त्वना पुरस्कार विजेता वाजिद हसन काजी, जोधपुर, मनोज कुमार स्वामी, सूरतगढ, किशोर कुमार निर्वाण, तारानगर, विमला नागला, केकड़ी और सुनील कुमार गज्जाणी, बीकानेर को भी नगद पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा ।

Leave a Comment