संभाग के 2 लाख 24 हजार 833 युवा मतदाता पहली बार करेंगे मतदान

बीकानेर, 29 नवम्बर। आगामी विधानसभा चुनाव में बीकानेर संभाग में 18 से 19 वर्ष आयु वर्ग के 2 लाख 24 हजार 833 नए मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। संभाग में पहली बार मतदान करने वाले मतदाता कुल मतदाताओं का 3.97 प्रतिशत है।
संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना ने यह जानकारी देते हुए बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार नए मतदाताओं को मतदाता सूची में जोड़ने के लिए विशेष अभियान चला कर मतदान आयु तक पहुंचे युवाओं को मतदाता सूची में शामिल किया गया। इसके माध्यम से यह प्रयास किया गया कि 1 जनवरी 2018 तक 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुका एक भी मतदाता सूची में शामिल होने से वंचित न रहे।
संभागीय आयुक्त ने बताया कि संभाग में इस बार 56 लाख 51 हजार 874 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। सर्वाधिक मतदाता बीकानेर में है, जहां 15 लाख 67 हजार 708 मतदाता हैं। जबकि चुरू में 14 लाख 57 हजार 624, हनुमानगढ़ में 12 लाख 66 हजार 142 तथा श्रीगंगानगर मे 13 लाख 60 हजार 400 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में शामिल हैं। उन्होंने बताया कि बीकानेर जिले में 59 हजार 425 युवक-युवतियों (18 से 19 वर्ष आयु के )के नाम जोड़े गए जो जिले के कुल मतदाताओं का 3.79 प्रतिशत है। वहीं, चुरू में सर्वाधिक 65 हजार 698 युवाओं को जोड़ा गया। हनुमानगढ़ में 49 हजार 825 तथा श्रीगंगानगर में 49 हजार 885 युवा पहली बार मतदाता सूची से जुडे़ हैं। मीना ने बताया कि चुरू में 4.50 प्रतिशत, हनुमानगढ़ में 3.93 प्रतिशत तथा श्रीगंगानगर में 3.66 प्रतिशत मतदाता ऐसे हैं जिन्हें पहली बार चुनावों में अपने मताधिकार प्रयोग का हक प्राप्त हुआ है।
संभागीय आयुक्त ने पहली बार मतदाता सूची में शामिल हुए युवाओं से लोकतंत्र के इस यज्ञ में बिना किसी डर, दबाव व प्रलोभन में आए अपने विवेक से मत देने की अपील की।
80 वर्ष से अधिक आयु के 1 लाख 16 हजार 585 मतदाता करेंगे मत प्रयोग
उन्होंने बताया कि संभाग के चारों जिलों में आगामी विधानसभा चुनाव में 80 वर्ष की आयु से उपर वाले 1 लाख 16 हजार 585 मतदाता है। इस श्रेणी में सर्वाधिक 35 हजार 578 मतदाता बीकानेर जिले में हैं। वहीं चुरू में 32 हजार 70, हनुमानगढ़ में 22 हजार 255 तथा श्रीगंगानगर में 26 हजार 682 मतदाता 80 वर्ष से अधिक आयु के हैं। यह कुल मतदाताओं का क्रमशः 2.27, 2.20, 1.76 तथा 1.96 प्रतिशत है।
संभाग में कुल 5921 मतदान केन्द्र
आगामी विधानसभा चुनाव में सुचारू और सुगम मतदान के लिए संभाग के चारों जिलों के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में में कुल 5 हजार 921 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि श्रीगंगानगर में 1508, हनुमानगढ़ में 1276 तथा चुरू में 1562 तथा बीकानेर में 1575 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।
ग्रामीण महिला मतदाताओं की रही अधिक भागीदारी
गत विधानसभा चुनावों में ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाताओं की मतदान भागीदारी शहरी क्षेत्र के मतदाताओं की तुलना में अधिक रही। निर्वाचन विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर स्पष्ट हुआ कि गत विधानसभा चुनाव के दौरान जिले में ग्रामीण क्षेत्रों में महिला मतदान प्रतिशत 75.42 रहा। जबकि पुरूषों की मतदान भागीदारी ग्रामीण क्षेत्रों में 80.18 प्रतिशत रही। उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्रों में महिला मतदाताओं की मतदान भागीदारी 69.47 प्रतिशत रही। वहीं, 72.57 प्रतिशत पुरूष मतदाताओं ने वोट दिए। स्वीप के तहत चलाई जा रही गतिविधियों में इन आंकड़ों के आधार पर शहरी क्षेत्र में सभी मतदाताओं को अपने वोट का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।
—-

निर्भय होकर करें शतप्रतिशत मतदान-डॉ गुप्ता
जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने लिया चुनावी व्यवस्थाओं का जायजा
बीकानेर, 29 नवम्बर। जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ एन के गुप्ता ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मतदाता निर्भय होकर, बिना किसी दबाव के शतप्रतिशत मतदान करें। डॉ गुप्ता और पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने गुरूवार को नोखा विधानसभा क्षेत्र के बीकासर, नोखा गांव, रोड़ा, पांचू व कूदसूं में भ्रमण कर मतदान व्यवस्थाएं देखी, पुलिस थानों का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। दोनों अधिकारियों ने आमजन से मुलाकात भी की।
डॉ गुप्ता ने कहा कि निष्पक्ष, पारदर्शी और शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के लिए सभी व्यवस्थाएं पुख्ता हो, इस बात का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। उन्होंने चुनाव ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी अधिकारी-कर्मचारी सकारात्मक सोच के साथ अपना दायित्व निभाएं। रिटर्निंग अधिकारी मतदान केन्द्रों का नियमित निरीक्षण कर वहां पेयजल, बिजली सहित सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करवाएं। उन्होंने बताया कि फ्लाइग स्क्वैड व सर्विलैंस टीम भी आदर्श आचार संहिता की अनुपालना करवाने के लिए सतत रूप से सक्रिय है। नियमित रूप से प्रत्येक घटना की वीडियोग्राफी की जा रही है।
आदर्श आचार संहिता की अनुपालना में करें सहयोग
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि आदर्श आचार संहिता की अनुपालना में आमजन भी सहयोग करें तथा यदि निजी सम्पत्तियों आदि का इस्तेमाल प्रचार- प्रसार के लिए किया जाना हो तो सम्पति के मालिक की लिखित में अनुमति लेना सुनिश्चित किया जाए। किसी नागरिक को किसी भी स्थान पर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन की शिकायत हो तो वह सक्षम अधिकारी के समक्ष अथवा सी विजिल ऐप के माध्यम से ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवा सकता है। इस ऐप के माध्यम से 100 मिनट में शिकायत का निस्तारण कर दिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होने पर आमजन सक्रियता दिखाते हुए नियंत्रण कक्ष को सूचना दें। शराब, नकदी वितरण सहित किसी भी प्रकार का प्रलोभन देना, मतदाताओं को डराना-धमकाना आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। इसके लिए जन प्रतिनिधित्व अधिनियम में कठोर सजा का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि बीएलओ घर-घर जाकर पर्ची वितरण का कार्य करेंगे। मतदाता अपनी पर्ची ऑनलाईन लिंक के माध्यम से भी प्राप्त कर सकते हैं। मतदान के दिन मतदाता शांतिपूर्वक लाइन में लगकर अपने मत का प्रयोग करें तथा मतदान के पश्चात मतदान स्थल पर भीड़ न बनाएं। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति से यह न पूछा जाए कि उसने किसको वोट किया।
फेक न्यूज और अफवाहों से बचें
पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने कहा कि ग्रामीण सौहार्द और प्रेम की अपनी परम्पराओं को कायम रखते हुए शांतिपूर्ण मतदान प्रक्रिया में हिस्सा लें। सभी मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आमजन अफवाह फैलाने वालों से सावधान रहें और व्हाट्सऐप, फेसबुक सोशल मीडिया आदि के माध्यम से वायरल फेक न्यूज को फैलाने से बचें और अपने क्षेत्र में शांति बनाए रखने में पुलिस-प्रशासन का सहयोग करें। विशेष तौर पर युवा पीढ़ी ऐसे किसी भी कार्य में हिस्सा न लें जिससे किसी स्थान पर सौहार्द्र बिगड़ने की स्थिति पैदा हो। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों को पाबंद कर दिया गया है और नियमित नाकेबंदी कर आदर्श आचार संहिता की अनुपालना सुनिश्चित करवाई जा रही है। उन्होंने बताया कि चयनित मतदान केन्द्रों पर अतिरिक्त पुलिस जाब्ता तैनात किया जाएगा।

Leave a Comment