रावत- राजपूत समाज का सोलहवाँ सामूहिक विवाह सम्मेलन बेलपना में आयोजित

राजस्थान रावत राजपूत महासभा के सानिध्य तथा रावत- राजपूत देवावत वंशज के सहयोग से बेलपना माता मंदिर प्रांगण कोट किराना में सोलहवाँ सामूहिक विवाह सम्मेलन 12 नवंबर मंगलवार को रावत- राजपूत समाज के धर्मगुरु पूना रावल आयस महाराज के सानिध्य , महासभा प्रदेशाध्यक्ष हरि सिंह सुजावत की अध्यक्षता तथा राजसमन्द सांसद दीयाकुमारी के मुख्य आतिथ्य तथा पूर्व सांसद रासासिंह रावत, महिला प्रदेश अध्यक्ष प्यारी रावत मण्डावर, जैतारण विधायक अविनाश गहलोत, पूर्व विधायक हरि सिंह रावत, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नंद किशोर सिंह, चतरसिंह चौहान, भीम प्रधान नरेंद्र बागड़ी, जवाजा प्रधान गायत्री रावत, पूर्व प्रधान कमला रावत के विशिष्ट आथित्य में सम्पन्न हुआ। अतिथियों का स्वागत बेलपना माता समिति अध्यक्ष दुर्गा सिंह चौहान , सामूहिक विवाह समिति अध्यक्ष एडवोकेट टीकम सिंह, संयोजक छितर सिंह, स्थानीय विवाह समिति अध्यक्ष परमेश्वर सिंह सीरमा, संयोजक घनश्यामसिंह ने किया । संचालन वरिष्ठ महामंत्री बलवंत सिंह भाटी, प्रदेश संयोजक गोपाल सिंह पीटीआई ने किया। आभार सामूहिक विवाह समिति अध्यक्ष एडवोकेट टीकम सिंह ने जताया।

थामा एक दूजे का हाथ, फेरे की रस्म बनी यादगार
सामूहिक आयोजन को लेकर ग्रामीण क्षेत्र में उत्साह देखा गया। मुख्य द्वार पर तोरण की रश्म यदा की गई। वही यज्ञ वेदी पर वर- वधुयों ने एक दूजे का हाथ थामा और सामूहिक मंत्रो उच्चारण के जन्मजन्मांतर तक एक दूजे का साथ निभाने के संकल्प के साथ पाणिग्रहण संस्कार आयोजित हुआ। नवविवाहित दंपतियों को आयस महाराज सहित सभी अतिथियों ने आशीर्वाद प्रदान करते हुए कन्यादान भी किया।

विशाल पांडाल सजाया, जन सैलाब उमड़ा
राजस्थान रावत राजपूत महासभा के सामूहिक विवाह आयोजन को लेकर विशाल पांडाल सजाया गया । देवावत वंशज की ओर से तैयार की गई विशाल सराय में पाणिग्रहण संस्कार आयोजित हुआ। भोजन व्यवस्था के लिए अलग से व्यवस्था की गई है । समारोह की उत्सुकता को लेकर मगरा, मारवाड़, मेवाड़ से अपार जनसैलाब उमड़ा। आयोजन स्थल बेलपना माता मंदिर से पांच किमी लम्बी वाहनों की कतार लग गई। आयोजन से करीब 5 किलोमीटर दूर कोट गांव से लोगों को पैदल ही पहुचना पड़ा।

पांच किमी लम्बी शौभायात्रा, जगह जगह पुष्पवर्षा से स्वागत
विवाह आयोजन स्थल से पांच किमी दूर कोट गांव में वर-वधूओं पक्ष का स्थानीय निवासियों व कमेटी सदस्यों ने जोरदार स्वागत किया गया। इसके बाद कोट गांव से किराना, पिथाखेडा , बेलपना होकर वर – वधुयों को घोड़े व रथ में विशाल शौभायात्रा निकाली गई। शौभायात्रा में महासभा के वरिष्ठ पदाधिकारी व भामाशाह घोड़े पर सवार थे। गांव में जगह -जगह स्वागत द्वार बनाए गए एवं पुष्प वर्षा की । बेल पन्ना माता समिति अध्यक्ष दुर्गा सिंह चौहान, टीकमसिंह, परमेश्वर सिंह अपनी टीम सहित आयोजन स्थल पर माकूल व्यवस्था हेतु डटे रहे।

विशाल सराय व अश्वारूढ़ पूर्वज डूंगर सिंह प्रतिमा का अनावरण
सामूहिक विवाह के दौरान देवावत वंशज के सहयोग से समिति अध्यक्ष दुर्गा सिंह चौहान के नेतृत्व में निर्मित विशाल सराय का उद्घाटन किया गया। इसी सराय में सभी 41 जोड़ों का पाणिग्रहण संस्कार आयोजित किया गया। देवावत वंश के कोट किराना पांच गांवो के पूर्वज डूंगरसिंह (डूंगाजी) 9 फिट ऊंची अश्वारूढ़ प्रतिमा का अनावरण किया गया। समारोह में राजसमंद सांसद राजकुमारी दिया कुमारी ने मुख्य सड़क से बेलपना माता मंदिर शिखर तक करीब एक किमी सड़क की घोषणा की , जिसका समाज बंधुयों ने तालियों की गड़गड़ाहट से स्वागत किया। स्थानीय जैतारण विधायक अविनाश गहलोत ने मंदिर शिखर के समीप 10 लाख से सराय बनाने की घोषणा की।

कन्यादान में हेलमेट व निम्बूपौधा बना आकर्षण
सामूहिक विवाह के दौरान समाजबंधुओं ने कन्यादान में बढ़चढ़कर भाग लिया। मण्डावर व महिला प्रदेशाध्यक्ष सरपंच प्यारी रावत , लोको पायलट जसवंत सिंह मण्डावर व सेवानिवृत वरिष्ठ अध्यापक चुन्ना सिंह मण्डावर की तरफ से सभी नवदम्पतियों को निम्बू पौधा व अभिनंदन पत्र कन्यादान में देकर पर्यावरण संरक्षण, नशा मुक्त जीवन व आयुर्वेद का संदेश दिया। वही कालब निवासी सेवानिवृत अध्यापक भंवरसिंह व प्रह्लाद सिंह की तरफ से सुरक्षित जीवन के संदेश के साथ सभी वर- वधुओं को हेलमेट दिए गए।

सोशल मीडिया से कन्यादान में सहयोग, बढ़चढ़कर लिया भाग
सोशल मीडिया के माध्यम से स्थानीय विवाह समिति अध्यक्ष परमेश्वर सिंह सिरमा के नेतृत्व में प्रचार प्रसार किया गया। जिसकी बदौलत महासभा व विवाह कमेटी के अतिरिक्त 50 से अधिक समाज बंधुओं ने सोने, चांदी के गहने, घरेलू उपयोग की सामग्री कन्यादान में भिजवाई गई। कूलर देवीसिंह करकरा , पंखा नारायण सिंह मील का खूंटा, चांदी की गाय मांगू सिंह मालनी, सोने की फिनी प्रह्लाद सिंह कलालिया, राधे कृष्णा चांदी की प्रतिमा एडवोकेट टीकमसिंह, पानी केम्पर हेड कॉन्स्टेबल प्रह्लाद बगड़ी, प्रेशर कुकर महेंद्र सिंह, बिछुडिया प्रकाशसिंह लक्ष्मणसिंह कोटड़ा, हेलमेट भँवर सिंह कालब, निम्बू पौधा प्यारी रावत मण्डावर जैसे 50 से अधिक समाजबंधुओं ने व्यक्तिगत कन्यादान दिया।

दीयाकुमारी शाही स्वागत, 551 तलवारों के तोरण से गुजरी सांसद
जयपुर राजघराने की राजकुमारी व राजसमन्द सांसद दीयाकुमारी के समारोह में आगमन पर शाही अंदाज में भव्य स्वागत किया गया। 551 रावत- राजपूत सरदारों ने तलवारों से स्वागत द्वार बनाया तथा तलवारों के नीचे से दीयाकुमारी को गुजारा। भव्य स्वागत से अभिभूत दीयाकुमारी ने अपने आप को रावत- राजपूत समाज की बेटी बताया। इसके बाद केसरिया साफे में तलवार लिये रावत- राजपूत सरदारों ने अगुवाई की। समारोह में रावत- राजपूत समाज के हमेशा स्वतंत्र रहने, किसी की गुलामी नही करने तथा शौर्य पराक्रम की यशोगाथा का बखान भी किया गया। ज्ञातव्य है इससे पूर्व उदयपुर महाराणा का भीम व मण्डावर काछबली, सिरोही महाराजा का भीम, जोधपुर महाराजा हनुवंत सिंह का सेंदड़ा में शाही स्वागत यादगार रह चुके है।

समाज पदाधिकारियों ने की शिरकत
सामूहिक विवाह आयोजन पर कोट रावजी लक्ष्मणसिंह, प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोट सिंह गहलोत, प्रदेश उपाध्यक्ष नाथू सिंह घाटा, भामाशाह देवेंद्र सिंह बराखन, अर्जुन सिंह आडावाला, महामंत्री चैनसिंह चैनपुरा, युवा अध्यक्ष गोपाल सिंह गहलोत, जितेंद्र सिंह पंवार, रावत सेना संस्थापक महेंद्र सिंह अतितमण्ड, पूर्व युवा अध्यक्ष नारायण सिंह सेंदड़ा, आंनद सिंह सुरडिया, डूंगर सिंह कोटड़ा, मीडिया संयोजक जसवंत सिंह मण्डावर, दिव्यांग लेखक गोविंद सिंह भागावड़, किशन सिंह खोड़माल, भगवान सिंह सनवा, पत्रकार प्रह्लाद सिंह कालब, राजेन्द्र सिंह फुलाद, जयेंद्र सिंह टोगी, रणजीत सिंह खोडिया, नारायण सिंह पंवार, सुमेर सिंह मेवडा, मोहन सिंह कमांडो, मोती सिंह बगड़ी, सर्कल अध्यक्ष चांपसिंह सीरमा, एडवोकेट भंवर सिंह, नवयुवक मंडल अध्यक्ष भवानी सिंह, किशन सिंह सुजावत, केसर सिंह सीरमा, महेंद्र सिंह पिथाखेडा, निर्मल सिंह मेवडा, राम सिंह सिरियारी, मनोहर सिंह फुलाद, मोखम सिंह किराना, लाखन सिंह भीलवाडा, चंद्र सिंह दिवेर, बसंत सिंह बड़ाखेड़ा, कुशाल सिंह मालावत, एडवोकेट नरपत सिंह, गोपाल सिंह दीपावास, संतोष सिंह थुनीथाक, नरेंद्र सिंह बामनहेड़ा, गिरधारी सिंह पंवार, मोहन सिंह समेल, जिपस डाउसिंह टॉडगढ़, महेंद्र सिंह क़ानूजा, गुरदेव सिंह सेंदड़ा, मुकुट सिंह, नरेंद्र सिंह खोड़माल, महिपाल सिंह खोड़माल, डाउ सिंह सुजावत, भूपेंद्र सिंह डूंगाजी का गांव , शोभा रावत, धर्मेंद्र सिंह लोटियाना, लुम्बसिंह मण्डावर, लक्ष्मण सिंह नाबरी, तिलोक सिंह खोड़माल, चुन्नासिंह मण्डावर, केसर सिंह संपादक समेत मगरा, मारवाड़, मेवाड़ , प्रवासी रावत- राजपूत समाजबंधु मौजूद थे।

यह बंधे परिणय सूत्र में
रावत राजपूत सामूहिक विवाह सम्मेलन में गुणवंती दर्रा संग गोपाल सिंह चैनपुरा, दीपिका सोनियाना संग किशोर सिंह शिवपुर, नेमा कालेटरा संग सांवर सिंह अमरगढ़, खुशवंता संबुरिया संग शेर सिंह मण्डावर, सना कोट किराना संग अजयपाल सिंह मण्डावर, गायत्री बगड़ी संग जसवंत सिंह बालाचाराट, जमना माल का चौड़ा संग पूरन सिंह आडावाला, पुष्पा समेल संग इंद्र सिंह रामदेवनगर, पूजा ठिकरवास संग नेपाल सिंह भीम, निर्मला ठिकरवास संग जालम सिंह सिरोधनीया, विद्या फेवड़ी की गुआर संग मनोज सिंह खांडाभागा, लीला लाखागुड़ा संग नरेंद्र सिंह क़ानूजा, अनिता हामातो की गुआर संग राजेन्द्र सिंह खोड़माल, इंद्रा अमरपुरा संग कुशाल सिंह पालड़ी, राधा कोटकिराना संग सुखदेव सिंह कामली, रवीना कोट किराना संग डूंगर सिंह आड़ीकाकर, मंजू नाई कलां संग महेंद्र सिंह कुनेजा, लीला गुजरगमा संग वीरम सिंह खेजड़ी का वाला, मीना कुकरखेड़ा संग भगवान सिंह कलालिया, लक्ष्मी फतहपुरिया संग विक्रमसिंह केसरपुरा, रीना सोनियाना संग रोशन सिंह फतहपुरिया, तारा फतहपुरिया संग विक्रमसिंह फतहपुरिया, मुस्कान गोहाना संग विक्रमसिंह जमालपुरा, कविता खारलाखेडा संग शंकर सिंह खोडियाखेडा, अनिता राड झालरा संग भगवान सिंह कालब, गोदावरी धारेश्वर संग चेतनसिंह कालब, मीरा कुकड़ा संग सुमेर सिंह फुलाद, अनिता कोटकिराना संग प्रताप सिंह आंती, कोमल पीथाला खेडा संग मुकेश सिंह राजवा, रेखा दिल्ली संग प्रकाश सिंह डाँसरिया, रेखा खोड़माल संग रणजीत सिंह मण्डावर, ललवंताराज कलालिया संग हंसराज सिंह गोहाना, प्रिया आड़ावाला संग दिलीपसिंह सीरमा, ममता पीपलीनगर संग पूनम सिंह कलालिया, पुष्पा बंजारी संग धन्ना सिंह कुकड़ा, ममता कोट किराना संग ललित सिंह बागलिया, लक्ष्मी कोटकिराना संग देवेंद्र सिंह लाखागुड़ा, यशोदा कोटकिराना संग पवनसिंह भूरियाखेडा, तारा बगड़ी संग शैतानसिंह देवडूंगरी, डिम्पल बिलियावास संग योगेंद्र सिंह सरविना, सुनीता खांडाभागा, नेनुसिंह गोदाजी का गांव परिणय सूत्र में बंधे। समारोह में खासा उत्साह देखा गया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!