सिलिकोसिस बोर्ड का राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर में केम्प

badmer newsसिलिकोसिस बोर्ड का 15 जनवरी को राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर में केम्प रखा गया है कमठा मजदुर यूनियन बाड़मेर के अध्यक्ष लक्ष्मण बडेरा ने बाड़मेर जिले के सभी पत्थर घड़ाई करने वाले कारीगरों,मारबल पत्थर की कटाई करने वाले कारीगरों,पत्थरों की आरा कटर मशीन पर काम करने वाले कारीगरों,पहाड़ो पर ड्रील मशीन से पत्थर तोड़ने वालों, स्टोन क्रेशर पर काम करने वाले सभी कारीगरों से अपील है कि वे दिनांक 15 जनवरी सोमवार को राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर में आधार कार्ड व आधार कार्ड की दो फोटोकॉपी व भामाशाह कार्ड की दो फोटोकॉपी व दो पासपोर्ट साईज के फोटो साथ लेकर सुबह नौ बजे राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर पंहुचने की अपील की है

मजदुर नेता लक्ष्मण बडेरा ने कहा कि श्रमिक कल्याण मण्डल व रिहैब द्वारा पत्थर की घड़ाई से बिमार होने से सिलिकोसिस बीमारी हो जाती है सरकार ने बीमारी से पीड़ित को एक-एक लाख रुपये की सहायता देने की योजना बनाई है इसलिये पत्थर के कणों व खनिजों की खुदाई से पैदा होने वाली बीमारी की डॉक्टरों के बोर्ड द्वारा जाँच करवाकर सिलिकोसिस बीमारी से ग्रसित होने का प्रमाण पत्र बोर्ड द्वारा दिया जायेगा और इस प्रमाण पत्र पर एक-एक लाख रूपये की सहायता मिलेगी | ज्यादा से ज्यादा लोगों को जाँच में शामिल करने के लिये यूनियन ने बाड़मेर जिले की 17 पंचायत समितियों के अध्यक्षों को सूचित कर मजदूरों को योजना का लाभ दिलवाने का आह्वान किया

Leave a Comment