‘‘स्मार्ट सिटी अजमेर ट्रेफिक मेनेजमेंट‘‘ पर नागरिक अपने सुझाव दें

ajmer smart cityअजमेर 04 मई। केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा राजस्थान के सबसे प्राचिनतम शहर अजमेर को हेरिटेज एवं स्मार्ट सिटी का दर्जा दिया है और इसके लिए व्यापक स्तर पर कार्य एवं तैयारियां प्रारम्भ की गई है। प्रारम्भिक तौर पर वातावरण निर्माण के लिए अजमेर शहर के प्रत्येक नागरिक को जोड़ने की मुहिम शुरू हुई है। संभागीय आयुक्त डाॅ. धर्मेन्द्र भटनागर ने स्मार्ट सिटी विजन डाक्यूमेन्ट तैयार करने के लिए 24 उप सलहाकर समितियों का गठन किया है।
संभागीय आयुक्त ने अतिरिक्त कलक्टर शहर के संयोजन में ‘‘स्मार्ट सिटी टेªफिक मेनेजमेंट‘‘ सलाहकार उपसमिति का गठन किया है। इस कमेटी में जिला परिवहन अधिकारी, अधीक्षण अभियंता एडीए, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीआईडी, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र, वाणिज्य कर अधिकारी, आयुक्त-प्रशासन नगर निगम, अधिशाषी अभियंता सानिवि, डिप्टी कामांडेण्ट हाडी रानी महिला बटालियन नारेली, उप पुलिस अधीक्षक-यातायात, श्री जय सिंह राठौड़, सेवानिवृत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, परामर्शदात्राी समिति के श्री कमलेन्द्र झा रिटार्यड अति, चीफ इंजीनियर सानिवि, श्री प्रकाश जैन, श्री जगदीश वच्छानी एवं श्री डी.एल.त्रिपाठी को सदस्य बनाया गया है।
अतिरिक्त कलक्टर शहर श्री यादव ने बताया कि सलाहकार उपसमिति की 5 बैठक आयोजित की गई है, जिसमें समिति के सदस्यों के सुझावों को संकलित कर जन साधारण को जानकारी देने हेतु फेस बुक पर एक पेज ‘‘स्मार्ट सिटी टेªफिक मेनेजमेंट‘‘ तैयार किया गया है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!