शेरों ने लगाई दरबार में हाजरी

सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में छिंदवाड़ा मध्यप्रदेश से 150 यात्रियों का जत्था आया
ईन सभीको जियारत सेयद एहसान चिश्ती ने करवाई
इस जत्थे की खास बात यह रही इस चादर के जुलूस में 10 जनों ने शेर का मुखौटा पहनकर और शेर की तरह पूरा अपने आप को कर रखा था

दरगाह बाजार में झूमते नाचते ख्वाजा जी के दरबार में चादर लेकर आए डेढ़ सौ यात्रियों का जत्था में आधे हिंदू और मुस्लिम सभी लोग शामिल से यह अपने आप में ही कौमी एकता की मिसाल पेश की गई कोई शेर बना कोई भालू
अकीदत मन लोग हक मोईन या मोईन के नारे लगाते हुए आगे बढ़ते गए इससे पूर्व 2008 में उसके बाद 2013 में और अब 2019 में यह जायरिनो का ग्रुप आया है चारों तरफ से लोगों ने इनको घेर लिया मोबाइल से सेल्फी लेना शुरू कर दी

Leave a Comment

error: Content is protected !!