अधिकारी निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ कार्य संपादित करें

अजमेर, 11 अप्रेल। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विश्व मोहन शर्मा ने निर्वाचन कार्य से जुडे समस्त प्रकोष्ठों के प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे अपने अपने जिम्मे का कार्य पूर्ण निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ समय पर संपादित करें।

जिला निर्वाचन अधिकारी गुरूवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित निर्वाचन संबंधी कार्यो के प्रभारी अधिकारियों की बैठक कर कार्यो की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने अब तक प्रभारी अधिकारियों द्वारा अपने अपने प्रकोष्ठ में किए जा चुके कार्याे की जानकारी प्राप्त की तथा इसे पूर्ण निष्पक्षता के साथ समयबद्धता से पूर्ण करने के निर्देश दिये।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदानकर्मियों को द्वितीय प्रशिक्षण का कार्य 19 से 22 अप्रेल तक पांच केन्द्रों पर संपादित किया जायेगा। इसमें उन्हें संपूर्ण जानकारी विस्तार से समझायी जायें। उन्होंने कहा कि सैक्टर ऑफिसर्स, मतदान एवं मतगणना दलों, जोनल मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारियों, माइक्रो पर्यवेक्षक को मतदान, मतगणना, ईवीएम तथा वीवीपेट मशीन संबंधी विस्तृत जानकारी प्रशिक्षण के दौरान दी जाए। इस बार माइक्रो पर्यवेक्षक भी मतदान दलों के साथ ही जाएंगे। तृतीय एवं अंतिम प्रशिक्षण के लिए चार विधानसभा क्षेत्रों के मतदानकर्मियों को 28 अप्रेल को प्रातः 7 बजे से प्रशिक्षण दिया जायेगा। वहीं शेष चार विधानसभा क्षेत्रों के मतदानकर्मियों को प्रातः 11 बजे उपस्थित होना होगा।

श्री शर्मा ने कहा कि मीडिया प्रकोष्ठ में प्रत्येक अभ्यर्थी के विज्ञापनों के प्रमाणन, समाचार पत्रों में पैड न्यूज, आचार संहिता के उल्लंघन संबंधी समाचारों की जानकारी देने का कार्य प्रभावी ढंग से सम्पन्न किया जाएं। उन्होंने कहा कि चुनाव नियंत्रण कक्ष में निर्वाचन संबंधी समस्त सूचनाओं का समय पर संप्रेषण किया जाए। साथ ही निर्वाचन आयोग को भिजवायी जाने वाली सूचनाएं समय पर प्रेषित हो।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि समस्त अधिकारीगण निर्वाचन का कार्य एक टीम के रूप में सम्पादित करें। उन्होंने कहा कि आमचुनाव के राष्ट्रीय महत्वपूर्ण कार्य के सम्पादन में पूर्ण सावधानी एवं सतर्कता बरती जाए। अधिकारी एवं कर्मचारी भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त निर्देशों का पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से सम्पादन करें। किसी भी लापरवाही, शिथिलता एवं उदासीनता के लिए संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही भी होगी।

उन्होंने कहा कि जिले में प्रत्येक मतदान केन्द्र पर दिव्यांगों के लिए मतदान कराने की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। इसके लिए प्रत्येक दिव्यांग से दूरभाष पर पूर्व मे ही संपर्क किया जाये। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर व्हील चेयर उपलब्ध रहेगी। ताकि किसी दिव्यांग को कोई कठिनाई नहीं हो। उनसे शपथ पत्र भी लिया जाये कि वे मतदान अवश्य करेंगे। उन्होंने स्वीप कार्यो की सराहना करते हुए इसे जारी रखने के निर्देश भी दिये। ताकि जिले में शत प्रतिशत मतदान के लिए लोगों को प्रेरित किया जा सकें।

बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री आनन्दी लाल वैष्णव ने निर्वाचन शाखा, ईवीएम व वीवीपेट तथा स्टोर प्रकोष्ठ, आचार संहित प्रकोष्ठ, मतदान एवं मतगणना दल गठन व माईक्रो ऑबजर्वर नियुक्ति प्रकोष्ठ, कानून व्यवस्था प्रकोष्ठ, लेखा प्रकोष्ठ, अभ्यर्थियों के निर्वाचन व्यय लेखा जांच प्रकोष्ठ, वाहनों के अधिग्रहण व्यवस्था प्रकोष्ठ, सामान्य व्यवस्था प्रकोष्ठ, मतपत्र मतगणना प्रकोष्ठ, डाक मतपत्र एवं ईडीसी प्रकोष्ठ, विशेष योग्यजन प्रकोष्ठ के द्वारा किए जाने वाले कार्यों की जानकारी देते हुए अब तक हुए कार्यों की समीक्षा की।

इस मौके पर नगर निगम की आयुक्त चिन्मयी गोपाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद श्री गजेन्द्र सिंह राठौड़, अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय श्री कैलाशचंद लखारा, उपखण्ड अधिकारी श्रीमती आर्तिका शुक्ला सहित समस्त प्रकोष्ठों के प्रभारी अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!