अजमेर में राष्ट्रीय पुस्तक मेले का शानदार आगाज

अजमेर, 13 अप्रेल। राष्ट्रीय पुस्तक न्यास और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय पुस्तक मेले का अजमेर में शानदार आगाज हुआ। देश विदेश के प्रख्यात लेखकों की हजारों किताबे पुस्तक मेले में उपलब्ध है। वातानुकूलित परिसर में आयोजित हो रहे इस मेले में पहले दिन ही शहरवासियों की भीड़ उमड़ पड़ी। यहां किताबें बेहद सस्ते दामों पर और 10 प्रतिशत छूट के साथ विक्रय के लिए उपलब्ध हैं।
राष्ट्रीय पुस्तक मेले के शुभारम्भ पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए साहित्यकार पद्मश्री श्री सी. पी.देवल ने कहा कि भाषा और पुस्तकें मनुष्य का सबसे बड़ा और बेहतरीन उत्पाद हैं। आज भाषा का सौंदर्य है जिसने शाब्दिक क्रांति को जन्म दिया। शब्द ने साहित्य को परिर्माजित किया है। आज मनुष्य ने मनुष्यता का जो संस्कार पाया है वह पुस्तकों के माध्यम से ही संभव हो पाया है।
उन्होंने कहा कि रामायण,गीता,महाभारत, कुरान एवं अन्य महत्वपूर्ण ग्रन्थों ने पठनीयता को सुलभ किया है। आज देशों के मानवीय गुणों को जोड़ने में पुस्तक ही सक्षम है। पुस्तक हमारे समाज की पवित्र ग्रन्थ हैं। ये पुस्तकें हमारे जीवन को कंट्रोल करती है। भारत में पुस्तक को गुरु का दर्जा दिया गया है। पुस्तकें हमारी मित्र है इसका कोई दूसरा विकल्प नहीं। पुस्तक का सीधा संबंध आपकी आत्मा से होता है। आज तकनीक ने पुस्तकों के प्रसार में एक अहम भूमिका निभाई है।
जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा ने कहा कि पुस्तकें हमारे जीवन का बेहतरीन पक्ष है। अजमेर के इतिहास में यह स्वर्ण अक्षरों में रेखांकित किया जाएगा कि हमारे शहर में आयोजित हो रहा है। राष्ट्रीय पुस्तक न्यास की किताबें काफी किफायती एवं उपयोगी होती है जो प्रामाणिक लेखकों द्वारा लिखी जाती हैं। प्रगतिशील देश और समाज वही हो सकता है जिसकी आत्मा पुस्तकों में बसती है। आज सोशल मीडिया से नई पीढ़ी जुड़ी हुई है लेकिन जो एहसास किताबों से होता है वह इंटरनेट के माध्यम से कभी भी नहीं होता। पुस्तकें मनुष्य का तनाव भी दूर करती है।
उन्होंने कहा कि पुस्तकें एक ऎसा मित्र है जो हमे सफलता की ओर ले जा सकती है। समाज को प्रगतिशील बनाए रखने एवं विकास की ओर ले जाने में पुस्तकों का महत्वपूर्ण योगदान है। इससे नया संचार व जाग्रति संभव है।
कार्यक्रम में प्रख्यात लेखक डॉ. नंद भारद्वाज ने कहा कि अब संवाद और संचार के माध्यम बदल रहे हैं। लेकिन जिन माध्यमों की समाज में गहरी जड़े हैं उनका महत्व कभी कम नहीं हो सकता। पुस्तक भी उनमे से सशक्त माध्यम है। पुस्तकों का अपना महत्व है,ये हमें मानवीय बनाती हैं।
उन्होंने कहा कि पुस्तकें जोड़ने का कार्य करती है। ये एक ऎसी जगह है जहां आप एक पंडाल के नीचे अपनी मनपसंद पुस्तकों को खरीद सकते हैं। न्यास ने पुस्तक संस्कृति को विकसित किया है। अनुवाद के जरिये अनेक महत्वर्पूण लोगों की पुस्तकों का अनुवाद न्यास ने कराया है जिससे व्यापक स्तर तक लाभ पाठकों को मिला है। धीरे धीरे राजस्थान भी पठन वृति में आगे बढ़ रहा है यह हमारे लिए शुभ संकेत है।
लोकसभा चुनाव के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक श्री केदारनाथ सिंह ने कहा कि न्यास ने यह एक बड़ा काम किया है जिससे पठनीयता को बल मिलेगा। हम अपने जीवन में पुस्तक को अपना मित्र बना लें। नेशनल बुक ट्रस्ट, इंडिया की और से राष्ट्रीय बाल साहित्य केंद्र अनुभाग के वरिष्ठ संपादक श्री मानस रंजन महापात्र ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
इससे पूर्व दीप प्रज्जवलन के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ। सभी अतिथियों का न्यास की परम्परा के अनुसार पुस्तकों से स्वागत किया गया। इस अवसर पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए गए। मेले में दो वृत्त चित्र भी लोर्कापित किये गए।
इस अवसर पर अजमेर विकास प्राधिकरण के आयुक्त श्री निशांत जैन, जिला परिषद के सीईओ श्री गजेंद्र सिंह राठौड़, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री आनंदी लाल वैष्णव, श्री मृदुल सिंह, जिला विधिक प्राधिकरण के श्री शक्ति सिंह, सहायक कलेक्टर तेजसवी राना आदि सहित शहर के साहित्य प्रेमी उपस्थित रहे।

पुस्तक मेले में छा गया खरमोर, की वोट की अपील
अजमेर, 13 अप्रेल। अजमेर के राष्ट्रीय पुस्तक मेले में लोकसभा चुनाव में मतदान जागरूकता के लिए शुभंकर पक्षी खरमोर छा गया। जिला निर्वाचन विभाग एवं स्वीप प्रकोष्ठ के माध्यम से खरमोर ने मेले में आने वाले साहित्य प्रेमियों से 29 अप्रेल को मतदान अवश्य करने की अपील की। मेले में लगाई गई स्वीप की स्टॉल भी सभी के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। यहां स्थापित किए गए सैल्फी बूथ पर सैंकड़ों लोगों ने सैल्फी ली। यहां साहित्यकार पद्मश्री श्री सी. पी.देवल, जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विश्व मोहन शर्मा, लोकसभा चुनाव के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक श्री केदारनाथ सिंह, अजमेर विकास प्राधिकरण के आयुक्त श्री निशांत जैन, जिला परिषद के सीईओ श्री गजेंद्र सिंह राठौड़, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री आनंदी लाल वैष्णव, श्री मृदुल सिंह, जिला विधिक प्राधिकरण के श्री शक्ति सिंह, सहायक कलेक्टर तेजसवी राना आदि सहित अन्य लोगो ने सैल्फी ली।

Leave a Comment