जर्जर भवनों को चिन्हित करने के निर्देश

अजमेर, एक अगस्त। जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा ने स्वायत शासन विभाग के उप निदेशक, नगर निगम आयुक्त, नगर परिषद की आयुक्त एवं नगर पालिकाओं के अधीशाषी अधिकारियों को पत्र लिखकर उनके क्षेत्र में जर्जर भवनों को चिन्हित कर ध्वस्त करने के संबंध में निर्देश दिए हैं।
जिला कलक्टर ने बताया कि वर्षा ऋतु में जर्जर भवनों के गिरने की संभावना बनी रहती है। ऎसे मे जर्जर भवनों को चिन्हित कर उन्हें नियमानुसार ध्वस्त करने की कार्यवाही सुनिश्चित करें।

बाढ़ बचाव के लिए पीसांगन उपखण्ड कार्यालय पर 6 तैराक लगाए
अजमेर, एक अगस्त। जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा ने जिले में बाढ़ बचाव के लिए उपखण्ड कार्यालय पीसांगन में छः तैराकों के रूप में लगाया है। यह तैराक उपखण्ड अधिकारी पीसांगन के निर्देशानुसार कार्य करेंगे।

खसरा रूबेला टीकाकरण अभियान
गुरूवार को 4917 विधार्थियों को खसरा रूबेला का टीका लगाया
अजमेर, एक अगस्त। खसरा रूबेला टीकाकरण अभियान के दौरान विद्यालयो में अध्ययनरत 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों में खसरा-रूबेला टीका लगाये जाने के प्रति विशेष उत्साह देखा गया। आज अभियान के ग्यारहवें दिन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के टीकाकर्मियो द्वारा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्राें 32 विधालयो के 4917 विद्याार्थियों को खसरा रूबेला का टीका लगाकर प्रतिरक्षित किया गया।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.के.के.सोनी ने बताया कि जिन बच्चो के खसरा-रूबेला का टीकाकरण किया गया उन्होने अन्य बच्चों को अपना टीकाकरण प्रमाण-पत्र दिखाते हुए टीकाकरण के प्रति प्रेरित किया। शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र कें विघालयों में विद्यार्थियों की अच्छी उपस्थिति के फलस्वरूप खसरा रूबेला टीकाकरण अभियान सफलतापूर्वक संचालित हो रहा है। डॉ. रामस्वरूप किराड़िया उप मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी(स्वा.) एवं डॉ रामलाल चौधरी जिला प्रजनन एंव शिशु स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ. आर.सी यादव नोडल अधिकारी अजमेर ने विधालयों में टीकाकरण सत्रों का निरीक्षण किया और साथ ही कार्यालय से टीम बनाकर भी ब्लॉक में निरीक्षण हेतु भेजी गई। यूनीसेफ तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा भी जगह-जगह भ्रमण कर टीकाकरण सत्रों का निरीक्षण नियमित रूप से किया जा रहा है। स्वास्थ्य संकुल भवन अजमेर मेें प्रतिदिन सांयकाल टीकाकरण की प्राप्त रिपोर्ट की समीक्षा एंव आगामी कार्यदिवस की कार्ययोजना के बारे में जिला अधिकारियों द्वारा बैठक कर चिकित्सा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किये जा रहे है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!