कट गया कनेक्शन, फिर भी कर रहे थे बिजली चोरी

अजमेर विद्युत वितरण निगम
स्थाई एवं अस्थाई सम्बंध विच्छेद वाले उपभोक्ताओं की आकस्मिक जांच
534 लोगों से होगी 1.62 करोड़ की वसूली

अजमेर, 2 दिसम्बर। अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक श्री वी. एस. भाटी के निर्देश पर बिजली चोरों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत इस बार निगम के दस्तों ने स्थायी और अस्थायी विद्युत सम्बन्ध विच्छेद वाले उपभोक्ताओं के ठिकानों पर धावा बोला। निगम की टीमों को बड़ी संख्या में बिजली चोरी पकड़ में आई है। निगम 534 बिजली चोरों से 1 करोड़ 62 लाख रूपए जुर्माना वसूलेगा।
प्रबंध निदेशक श्री वी. एस. भाटी ने बताया कि अजमेर डिस्काॅम क्षेत्रा में अभियंताओं द्वारा प्रत्येक सप्ताह को बिजली चोरों के खिलाफ चलाए जाने वाले अभियान के तहत इस बार निगम के अधिकारियों ने ऐसे उपभोक्ताओं के कनेक्शनों की जांच की, जिनके विद्युत कनेक्शन स्थायी या अस्थायी रूप से काटे जा चुके हैं। निगम की टीमों ने 534 उपभोक्ताओं के यहां बिजली चोरी पकड़ी है। इनसे 1 करोड़ 62 लाख 8 हजार रूपए का जुर्माना वसूला जाएगा।
श्री भाटी ने बताया कि निगम को लगातार शिकायतें मिल रही थी कि जिन लोगों के बिजली कनेक्शन स्थायी या अस्थायी रूप से काटे जा चुके है। इसके बावजूद ऐसे कई लोग बिजली का उपभोग कर रहे हैं। निगम के अभियंताओं की टीम ने अपनी साप्ताहिक छापामारी के दौरान इस बार 534 लोगों के यहां बिजली चोरी पकड़ी है। निगम की टीम ने डिस्काॅम के 11 जिलों में 12 हजार 737 उपभोक्ताओं के यहां आकस्मिक जांच की थी।
उन्होंने बताया कि अजमेर शहर वृत्त में बिजली चोरी के 3 मामले पकड़ में आए। इन पर 14.13 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया। इसी तरह अजमेर जिला सर्किल में 17 मामलों में 4.40 लाख, भीलवाड़ा में 94 मामलों में 16.10 लाख, नागौर में 41 मामलों में 31.09, झुंझुनूं में 36 मामलो में 12.93, सीकर में 21 मामले पकड़े गए इन पर 42.65 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया।
श्री भाटी ने बताया कि उदयपुर में 32 मामलों में 15.17 लाख, राजसमंद में 5 मामलों में 10.36 लाख, बांसवाड़ा में 48 मामलो में 2.89 लाख, डूंगरपुर में 12 मामलों में 3.95 लाख, चित्तौड़गढ़ में 208 मामलों में 7.29 लाख तथा प्रतापगढ़ में 17 मामलों में 1.13 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया है। गंभीर प्रकृति के प्रकरणों में एफआईआर दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जा रही है।

अब डिस्काॅम पहुंचेगा उपभोक्ताओं के पास
प्रबंध निदेशक कल से प्रतापगढ़, बांसवाड़ा व डूंगरपुर के दौरे पर
अजमेर, 2 दिसम्बर। अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक श्री वी एस भाटी ने डिस्काॅम क्षेत्रा के उपभोक्ताओं को उनके घर के पास ही समस्या समाधान तथा सुचारू आपूर्ति के लिए सघन दौरा शुरू किया है। प्रबंध निदेशक 3 से 5 दिसम्बर तक प्रतापगढ़, बांसवाडा और डूंगरपुर दौरे पर रहेंगे।
डिस्काॅम प्रशासन के अनुसार प्रबंध निदेशक श्री वी एस भाटी 3 दिसम्बर को प्रतापगढ़ में प्रातः 10 से 12 बजे तक जनसुनवाई कर उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करेंगे। इसके बाद श्री भाटी 12,30 बजे फीडर इंचार्ज तथा दोपहर 3 बजे सर्किल के अधिकारियों की बैठक लेकर सुचारू विद्युत आपूर्ति, छीजत में कमी, राजस्व वसूली तथा बिजली चोरी अभियान की समीक्षा करेंगे। इसी तरह 4 दिसम्बर को प्रबंध निदेशक बांसवाड़ा में जनसुनवाई कर फीडर इंचार्ज व सर्किल अधिकारियों की बैठक लेंगे। उनका 5 दिसम्बर को डूंगरपुर में फीडर इंचार्ज व सर्किल अधिकारियों की बैठक का कार्यक्रम है।

जनसुनवाई कलः संभागीय मुख्य अभियंता सुनेंगे समस्याएं
अजमेर, 2 दिसम्बर। अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. के संभागीय मुख्य अभियंता (अजमेर संभाग) श्री एन एस निर्वाण मंगलवार 3 दिसम्बर को विद्युत उपभोक्ताओं एवं आम नागरिकों की विद्युत संबंधी शिकायतों के समाधान के लिए जनसुनवाई करेंगे।
संभागीय मुख्य अभियंता 3 दिसम्बर को प्रातः 10.30 बजे से मध्यान्ह 12.30 बजे तक हाथी भाटा पावर हाऊस जयपुर रोड़ अजमेर में जनसुनवाई करेंगे। विद्युत उपभोक्ता, उपभोक्ता संगठन, किसान संगठन, स्वयं सेवी संगठन, आम नागरिक, कर्मचारी एवं कर्मचारी संगठन सुझाव देने एवं शिकायतों के समाधान के लिए 3 दिसम्बर को हाथीभाटा पावर हाऊस में संभागीय मुख्य अभियंता से मिल सकते है। जनसुनवाई का यह कार्यक्रम प्रत्येक मंगलवार को जारी रहेगा जिसमें यथा संभव उपभोक्ताओं एवं आमजन को राहत पहुंचाने के प्रयास किए जाएगें। जनसुनवाई में उपस्थित होने वाले उपभोक्ता अपने प्रार्थना पत्रा का पंजीकरण 3 दिसम्बर को प्रातः 9.30 बजे से प्रातः 11.00 बजे तक करा सकते है। इस समयावधि के पश्चात् आने वाले प्रार्थना पत्रों की सुनवाई आगामी जनसुनवाई शिविर में की जाएगी।

Leave a Comment

error: Content is protected !!