जवाहरलाल नेहरू अस्पताल में गंदगी को लेकर गहरा रोष

कांग्रेस नेता व मानव अधिकार परिषद के अध्यक्ष शैलेश गुप्ता ने संभाग के सबसे बड़े चिकित्सालय जवाहरलाल नेहरू अस्पताल अस्पताल में गंदगी को लेकर गहरा रोष प्रकट किया है।
कांग्रेस नेता शैलेश गुप्ता ने बताया कि संभाग का सबसे बड़ा चिकित्सालय के कारण यहां पर ,टोंक, भीलवाड़ा, नागौर ,अजमेर के सैकड़ों मरीज प्रतिदिन आते हैं। अस्पताल प्रशासन द्वारा सफाई व्यवस्था हेतु लाखों रुपए प्रतिमाह का सफाई हेतु ठेका दिया हुआ है परंतु अधिकारियों व ठेकेदार की मिलीभगत से अस्पताल में। जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे पड़े हैं।टीबी अस्पताल, यूरोलॉजी, हार्ट,एवम सभी मेल मेडिकल व फीमेल वार्ड के बाथरूम की स्थिति बड़ी ही दयनीय है। अस्पताल के किसी भी बाथरूम में आप चले जाएं। गंदगी से भरे पड़े हैं हर कोने पर पान की पीक के दाग एवं गंदगी हो रखी है। जिन अधिकारियों को यह जांचने की जिम्मेदारी दी हुई है। वह ठेकेदार से मिलीभगत करके सिर्फ खानापूर्ति कर रहे हैं जहां एक और कोरोना महामारी अपने पैर पसार रही है वहीं को रोना वार्ड में गंदगी का आलम देखने लायक है। मरीजों व उनके परिजनों के लिए अस्पताल प्रशासन ने पीने के पानी की समुचित व्यवस्था नहीं कर रखी है। उन्हें पानी पीने के लिए बाहर आना पड़ता है। पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ता है ऐसे में अस्पताल प्रशासन। कृपा करके उचित कार्रवाई करें और जो भी दोषी पाए जाओ के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!