पुष्कर में बीजेपी समर्थकों ने की गाली गलौच

◆ *दैनिक भास्कर के कार्यक्रम “विधायक एक मंच पर” के दौरान पुष्कर में बीजेपी समर्थकों ने की गाली गलौच , धक्का मुक्की और मारपीट । कांग्रेस ने किया आयोजन का बहिष्कार•••*

◆ *कार्यक्रम में संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत , पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री नसीम अख्तर के बीच मुद्दों पर हुई जंग , 15 मिनिट बाद ही बन्द करना पड़ा आयोजन •••*

राकेश भट्ट
देश के प्रमुख समाचार पत्रों में से एक दैनिक भास्कर ने आज पुष्कर की वैष्णव धर्मशाला में अपना चुनावी कार्यक्रम “विधायक एक मंच पर ” का आयोजन किया । जिसमें विधानसभा क्षेत्र के आम नागरिकों को अपने नेताओं से सवाल जवाब करने के लिए आमंत्रित किया गया था । कार्यक्रम में बीजेपी की और से जहां विधायक सुरेश सिंह रावत थे तो वही कांग्रेस की और से पूर्व विधायक नसीम अख्तर इंसाफ ने मोर्चा संभाला । वैसे तो इस कार्यक्रम में आम जनता को बुलाया गया था लेकिन आम जनता से कई गुना ज्यादा लोग बीजेपी और कांग्रेस के समर्थक पहुंच गए थे । आयोजन के संचालक वरिष्ठ पत्रकार प्रताप जी सनकत को शुरुआत में दोनों नेताओं ने अपने कार्यकाल में हुए कार्यो की उपलब्धियां गिनाई जिस पर कार्यकर्ताओ ने खूब तालियां भी बजाई ।

परंतु जैसे ही एक सवाल के जवाब में संसदीय सचिव रावत ने दावा किया कि उन्होंने क्षेत्र में जमकर विकास कार्य करवाये है और एक भी आदमी सरकार की योजनाओं से वंचित नही रहा है तभी कार्यक्रम में मौजूद चाय बेचने वाला दुकानदार सोहन लाल सरगरा ने हाथ उठाकर इशारा कर दिया कि वह वंचित है और यही मौजूद है । बस सोहनलाल द्वारा वंचित होने का दावा किये जाते ही बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने उसे बैठाने की कोशिश शुरू कर दी । लेकिन इसके बाद भी जब वो उनके कहने में नही आया और बार बार हाथ ऊपर करता रहा तो बीजेपी के कुछ उत्साहित कार्यकर्ताओ ने उसके साथ गाली गलौच और धक्का मुक्की शुरू कर दी । यहां तक कि कुछ ने उसके साथ मारपीट करके उसे कार्यक्रम से ही भागने पर मजबूर कर दिया । इस मामले पर बीजेपी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि सोहनलाल ने विधायक को गाली दी इसलिए उसके साथ ऐसा किया गया ।

अचानक हुए इस घटनाक्रम से कार्यक्रम में अफरा तफरी का माहौल व्याप्त हो गया । लेकिन इससे पहले की मामला शांत हो पाता कुछ बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाकर उन्हें ताने मारने शुरू कर दिए । जिसके जवाब में कांग्रेसी नेताओं ने भी उनको आईना दिखाना शुरू कर दिया । कुछ देर तक चले आरोप प्रत्यारोप और गाली गलौच के बाद पूर्व मंत्री नसीम अख्तर और उनके समर्थक आयोजन का बहिष्कार कर बाहर चले गए और बीजेपी के लोगो पर माहौल खराब करने का आरोप लगाया । नसीम अख्तर का कहना था कि वे यहां पुष्कर की समस्याओं पर खुली चर्चा करने और सरकार के लोगो तक जनता की तकलीफ पहुंचाने के उद्देश्य से आई थी परंतु सोचा नही था कि अपने आपको अनुशाषित कहने वाली बीजेपी के कार्यकर्ता ऐसी गुंडागर्दी करके माहौल खराब करेंगे ।

कांग्रेस द्वारा आयोजन का बहिष्कार करके चले जाने के बाद कुछ देर तक विधायक सुरेश रावत मंच पर इंतजार करते रहे फिर वह भी अपने समर्थकों के साथ उठकर चले गए । आपको बता दें कि दैनिक भास्कर के इस कार्यक्रम का स्थानीय लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे थे और उन नेताओं से अपनी रोजमर्रा की समस्याओं के लिए सवाल जवाब करने को बेताब थे जो हजारो करोड़ रुपयों के विकास कार्य करवाने का दावा कर रहे है । परंतु इससे पहले की जनता को उनके सवालों के जवाब मिलते कार्यक्रम में गाली गलौच और मारपीट शुरू हो गई । इसमे इन दोनों नेताओं के अलावा पीसांगन प्रधान अशोक रावत , पुष्कर पालिकाध्यक्ष कमल पाठक , सरपंच संघ के जिलाध्यक्ष महेंद्र सिंह मझेवला सहित कई सरपंच , पार्षद , मंडल अध्यक्ष , ब्लॉक अध्यक्ष , पूर्व चेयरमैन सहित भारी तादात में बीजेपी कांग्रेस के कार्यकर्ता मौजूद थे । जो थोड़े बहुत आम नागरिक आये थे वह भी निराश होकर लौटे ।

कुल मिलाकर चुनाव आने से पहले ही पुष्कर का राजनैतिक माहौल गरमा गया है और हर कोई अपनी ढपली अपना राग गा रहा है । नेताओ की इस तान में शायद आम आदमी और उसकी दबी कुचली आवाज कही गुम होती जा रही है ••••

*राकेश भट्ट*
*प्रधान संपादक*
*पॉवर ऑफ नेशन*
*मो 9828171060*

Leave a Comment

error: Content is protected !!