धन्यवाद एस पी कुंवर राष्ट्रदीप यादव साहब

◆ *होली की आड़ में किसी भी कीमत पर पुष्कर जैसे महान तीर्थ की मर्यादा से खिलवाड़ नही होने दिया जाएगा – एस पी कुंवर राष्ट्रदीप ••••*

◆ *रात्रि में होने वाली ट्रांस पार्टी होगी बंद , होली के दौरान नही फाड़े जाएंगे किसी के भी कपड़े , नशा बेचने वालों पर होगी सख्त पुलिस कार्यवाही ••••*

राकेश भट्ट
आपने पुष्कर जैसे महान तीर्थ की मर्यादा और यहां आने वाले लाखों करोड़ों श्रद्धालुओ की धार्मिक भावनाओं का आदर करते हुए होली के नाम पर शुरू हो चुकी कुछ गलत परंपराओं को सख्ती से खारिज करते हुए उन पर तुरंत पाबंदी लगाने के आदेश जारी किए । पुष्कर पुलिस थाने में आयोजित हुई बैठक के दौरान जितने भी लोग जमा हुए उनमे से नब्बे फीसदी लोगो ने अपने धंधे व्यापार का हवाला दिया , होली के दौरान पुष्कर आने वाले पर्यटकों से होने वाली मोटी कमाई का हवाला दिया , यदि इस पर रोक लगाई गई तो यहां का व्यापार ठप्प हो जाने का हवाला दिया और तो और इन अनैतिक कामो को अनवरत जारी रखने देने के लिए किसी भी देशी विदेशी महिला के साथ कोई अप्रिय वारदात नही होगी इसकी गारंटी तक ले ली गई । परंतु दुःख की बात यह है कि एक दो लोगों को छोडकर किसी ने भी उस पुष्कर तीर्थ की मर्यादा बचाये रखने की बात नही कही जिसके पीछे सालभर उनका धंधा व्यापार चलता है । जिस पुष्कर तीर्थ के पीछे उनकी पहचान जुड़ी है और आने वाले पीढ़ियों का भविष्य भी , उस पुष्कर की बात किसी ने भी नही कही ।

मीटिंग के दौरान हर वो प्रयत्न किए गए जिससे इन गलत आयोजनों को करने की स्वीकृति मिल जाये । इन अनैतिक कामो को जारी रखने के लिए एस पी साहब के सामने एक दो नही सैकड़ों ऐसे तर्क दिए गए जिनसे लगे कि यदि ऐसा नही होने दिया गया तो पता नही कितना बड़ा अनर्थ हो जाएगा । चाहे वह सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का उल्लघन हो या तीर्थ की मर्यादा का नाश । कैसे भी करके इन्हें तो बस होली के नाम पर शुरू हो चुकी इन गलत परंपराओं को आगे भी यूं ही चालू रखने की अनुमति मिल जाये बस । क्यों की वहां मौजूद ज्यादातर लोग ऐसे थे जिन पर चंद दिनों में ही रातो रात लखपति बनने का जुनून जो सवार हो चुका है । परंतु एस पी यादव ने उन सभी लोगो की सैकड़ों दलीलों को सिरे से खारिज करते हुए पुष्कर तीर्थ की मर्यादा को सबसे ज्यादा अहमियत दी और ऐसे सभी आयोजनों पर सख्ती से पाबंदी लगाने के आदेश जारी कर दिए ।

*नही होगी ट्रांस पार्टी , कपड़े फाड़ने वालो पर भी होगी सख्त कार्यवाही •••*
मीटिंग के दौरान सभी लोगो का पक्ष सुनने के बाद एस पी कुंवर राष्ट्रदीप ने अपने संबोधन में स्पष्ट कर दिया कि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार किसी भी व्यक्ति या संस्था को रात 10 बजे बाद तेज आवाज में डी जे बजाने की परमिशन नही दी जाएगी । पुष्कर के मुख्य बाजार सहित आसपास की होटल या रिसोर्ट में जो भी व्यक्ति रात्रि में डी जे बजाकर पार्टी करने की कोशिश करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी । साथ ही कपड़ा फाड़ होली किसी भी तरह से भारतीय संस्कृति के अनुरूप नही है । एक दूसरे के कपड़े फाड़कर अर्दनग्न हालत में होली खेलने के नाम पर शुरू हो चुकी इस गलत परम्परा को हर हाल में बंद किया जाएगा । होली के दौरान जो भी व्यक्ति कपड़े फाड़ते हुए पाया जाएगा उसे पुलिस हवालात में भेज देगी । इसके लिए आयोजको को भी पाबंद किया गया है । अब होली के आयोजकों को विज्ञापन , पोस्टर , बेनर और पेम्पलेट के जरिये कपड़े नही फाड़े जाने की जानकारी सभी तक पहुंचानी होगी , साथ ही ऐसी व्यवस्था करनी होगी जिससे कोई भी व्यक्ति ऐसी हरकत ना कर सके । एस पी यादव ने नशे का व्यापार करने वालो को भी सख्त हिदायत दी है। जो भी होटल या रेस्टॉरेंट व्यवसायी मादक पदार्थ एवं शराब की बिक्री करता हुआ पाया गया उसके खिलाफ तो सख्त कार्यवाही होगी ही साथ ही उसकी होटल या रेस्टॉरेंट को भी सीज कर दिया जाएगा ।

सख्त लहजे में दिए गए एस पी यादव के निर्देशो के बाद हो सकता है कुछ लोगो का आर्थिक हित आहत होने के कारण नाराजगी हो लेकिन पुष्कर के उन अस्सी फीसदी लोगो के दिलो को जरूर सुकून मिला है जो ऐसे आयोजनों से दूर रहकर केवल पुष्कर तीर्थ की मान मर्यादा के प्रति ही चिंतित रहते थे । *एस पी यादव ने पुष्कर तीर्थ और यहां के उन लोगो की भावनाओ को समझा इसके लिए वे बधाई के पात्र है । हम सभी को सकारात्मक तरीके से इस फैसले का स्वागत करते हुए इसमे आगे बढ़कर पुलिस का सहयोग करना चाहिए ताकि होली का त्यौहार भी प्रेम और खुशी के साथ मनाया जा सके और पुष्कर तीर्थ की गरिमा और मर्यादा भी बची रहे •••••*

*राकेश भट्ट*
*प्रधान संपादक*
*पॉवर ऑफ नेशन*
*मो 9828171060*

Leave a Comment