क्या राजेश टंडन का अल्टीमेटम काम कर गया?

हाल ही एक सुखद खबर आई कि अजमेर शहर की यातायात व्यवस्था, नागरिकों की सुरक्षा और शहर को व्यवस्थित करने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है। कई सालों से समझाइश का रास्ता अपनाता आ रहा जिला प्रशासन अब ट्रांसपोर्ट नगर में शिफ्टिंग को लेकर सख्त रवैया अपनाएगा। जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने शहर में ट्रांसपोर्ट व्यवसाय चला रहे ट्रांसपोर्टरों को 15 अगस्त तक ब्यावर रोड स्थित ट्रांसपोर्ट नगर में शिफ्ट करने की मोहलत दी है। जिला प्रशासन और पुलिस 16 अगस्त से अजमेर शहर में 24 घण्टे छोटे बड़े ट्रांसपोर्ट वाहनों के प्रवेश पर पाबंदी लागू कर देगा। अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर अरविंद सेंगवा ने कहा कि अजमेर विकास प्राधिकरण द्वारा भी आवटंन के बावजूद निर्माण नहीं कराने तथा शिफ्टिंग नहीं करने वाले ट्रांसपोर्टर के खिलाफ कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। जिला कलक्टर ने पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ट्रांसपोर्ट नगर की शिफ्टिंग के लिए पूरी गम्भीरता से कार्यवाही तुरन्त शुरू करें।
आपको याद होगा कि पिछले दिनों शहर के जाने-माने वकील राजेश टंडन ने बाकायदा दी कि अगर 25 अगस्त तक ट्रांसपोर्टर्स शिफ्ट नहीं करवाए गए तो वे अनिश्चिचित कालीन भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे। टंडन की यह चेतावनी तब आई, जब इस विषय पर कोई चर्चा ही नहीं थी। अचानक यह मुद्दा उन्हें सूझा तो तनिक संदेह भी हुआ था कि कहीं उन्हें प्रशासन की ओर से इस बारे में उठाए जाने वाले कदम की जानकारी तो नहीं मिल गई और क्रेडिट लेने के लिए चेतावनी दे दी। मगर चूंकि इस मसले का समाधान पिछले बीस साल से नहीं निकला, तो संदेह हुआ कि मौजूदा कलेक्टर भी क्या कर पाएंगे, तो टंडन का कदम एक दुस्साहस ही माना गया। मगर जैसे ही कलेक्टर ने सख्ती बरतने की बात कह दी, उससे लगता है कि कहीं न कहीं टंडन को जानकारी पहले से थी। वैसे इस बात की संभावना अधिक है कि खुद टंडन ने ही कलेक्टर को इस मसले पर कदम उठाने का सुझाव दिया हो, जो कि उन्हें पसंद आ गया हो। शहर के मसलों पर संबंधित अधिकारियों से गाहे बगाहे चर्चा करना उनकी रुचि में रहा है।
बहरहाल, ताजा स्थिति ये है कि प्रशासन सख्ती बरतने के मूड में हैं और टंडन ने भी रिपीट किया है कि अगर 25 अगस्त तक ट्रांसपोर्ट नगर शिफ्ट नहीं करवाया गया तो वे अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल शुरू कर देंगे। उनकी चेतावनी इस अर्थ में सराहनीय है कि यदि प्रशासन कहीं शिथिल पड़ा तो टंडन का दबाव काम करेगा।
-तेजवानी गिरधर
7742067000

Leave a Comment

error: Content is protected !!