हम नहीं, वे हैं सम्मान के पात्र

बीते शुक्रवार फ्लाइंग बर्ड्स परिवार के दूसरे वार्षिक उत्सव के मौके पर संस्था की संस्थापिका आदरणीया श्रीमती अंबिका हेडा की ओर से बतौर मीडिया पर्सन निमंत्रण मिला। कार्यक्रम में शिरकत की। बहुत अच्छा लगा। विशिष्ट बच्चों को खिलखिलाता देख कर जहां खुशी हुई, वहीं प्रकृति की विकृति ने मन को आहत भी बहुत किया। कार्यक्रम में मीडिया पर्सन्स को सम्मानित किया गया। हालांकि सिद्धांतत: मैं सम्मान लेने से सहमत नहीं था, मगर लोकाचार की अवहेलना से बचने के लिए सम्मान लिया भी। वस्तुत: हम मीडिया वाले इसलिए सम्मान के पात्र नहीं, क्योंकि यदि हम किसी संस्था या कार्यक्रम का कवरेज करते हैं तो महज अपनी ड्यूटी कर रहे होते हैं। वह किसी भी रूप में हमारी कोई उपलब्धि नहीं, ऐसे में हमारा सम्मान तो बनता ही नहीं था। असल में सम्मान की पात्र तो श्रीमती अंबिका हेडा, मीनू मनोविकास केन्द्र और शुभदा हैं, जिन्होंने विशिष्ट बच्चों को खुशियां बांटने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया। अपने लिए तो पशु भी जीता है। हम सामाजिक प्राणी हैं, हमारा फर्ज है कि अपने साथ-साथ अपने परिवार व समाज के लिए भी जीयें। और यह काम ये तीनों संस्थाएं बड़ी शिद्दत से बखूबी कर रही हैं। इन संस्थाओं से जुड़े सभी सदस्य वाकई साधुवाद के पात्र हैं। वे वाकई अपना जीवन सफल कर रहे हैं। उनके भीतर मौजूद दैवीय गुणों को मेरा सादर नमन।
-तेजवानी गिरधर
7742067000

Leave a Comment

error: Content is protected !!