अगला चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहे हैं रलावता?

विधानसभा चुनाव में अजमेर उत्तर से हारने के बाद भी महेन्द्र सिंह रलावता ने हिम्मत नहीं हारी है। सच तो ये है कि वे पहले से भी कहीं अधिक सक्रिय हैं। उनका दफ्तर जिस तरह से काम कर रहा है, इतना तो उनके शहर कांग्रेस अध्यक्ष पद पर रहते भी नहीं था। जन अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए सरकार से लगातार संपर्क में रहते हैं। सरकार भी उन्हें एक विधायक सा दर्जा दे कर उनकी सिफारिशों पर अमल कर रही है। वे जमीन पर भी पूरी तरह से सक्रिय हैं। बीते चुनाव में जातीय लिहाज से जो-जो गलतियों हुईं, उन्हें दुरुस्त कर रहे हैं। ओवरऑल उनका जो ताजा परफोरमेंस है, वह यही संकेत देता है कि वे आगामी चुनाव की तैयारी के लिए तानाबाना बुन रहे हैं। आगामी चुनाव में उन्हें फिर टिकट मिलेगा ही, यह कहना अभी संभव नहीं है, मगर वर्तमान की सक्रियता का लाभ उन्हें आगामी नगर निगम चुनाव में तो मिलेगा ही। जाहिर तौर जब वे अपनी पसंद के नेताओं को पार्षद का टिकट दिलवाएंगे तो निगम की राजनीति में उनका दखल बना रहेगा। हो सकता है कि अपनी पसंद के किसी नेता को निगम का मेयर बनवाने में कामयाब हो जाएं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!