युवा पीढ़ी का आव्हान

बी एल सामरा “नीलम “
जाग उठो ,ओ नरसिंह जवानों ! हिंद देश के रहने वालों ! नवजागरण की अब बेला आई , कितने ही शत वर्ष हुए सोते ,
ली नहीं अब तक अंगड़ाई । नवभारत के कर्णधार हो तुम !
ओ देश के नौनिहालों !
निकल पड़ो तुम आंधी बनकर ओ भारत के रखवालो !
भारत में फैल रही नौकरशाही, अब भ्रष्टाचार मिटाना होगा बाधाएं चाहे कितनी आये ,
नया हिंदुस्तान बनाना होगा ।
सह चुके हैं हम अत्याचार बहुत , जनता को अब जगाना होगा शांति नहीं अब क्रांति होगी ।
अब दुनिया को यह दिखाना होगा
क्रांति पथ है, बड़ा विकट यह , वीर जवानों ! इससे हमको नहीं कभी घबराना होगा ।
आज देश के जनजीवन में , भ्रष्टाचार का रोग बडा ही फैला है,
लुप्त प्राय हो रही हमारे भारत की पावन पुरातन संस्कृति ! अब तो विदेशी फैशन का लगा, मेला यहाँ अलबेला है।
इस भूलभुलैया में पढ़कर ,
ओ नौजवानों ! तुमको नहीं इठलाना होगा ।
भ्रष्टाचार से हो रही बेहाल ,
भारत मां तुमसे करती पुकार ! उठ बांध कमर हो जाओ तैयार साथियों हो जाओ तैयार ।
भ्रष्टाचार मिटाने को, और
नया सवेरा लाने को ,
सब हो जाओ तैयार साथियों !
हो जाओ तैयार ।
भ्रष्टाचार का रोग भगाकर ,
अब नया देश बनाना होगा। शहर बाधाएं चाहे कितनी आये हमको नया हिंदुस्तान बनाना होगा ।
हो जाओ तैयार ,साथियों !
बांध कमर हो जाओ तैयार ।
अब नया सवेरा लाने को ,
भ्रष्टाचार मिटाने को
हो जाओ तैयार साथियों !
हो जाओ तैयार ।
विश्व गुरु यह भारत कहलाया , सब दुनिया को पहला पाठ पढ़ाया
‘नीलम’ रखेंगे इसकी शान !
हमको अपने देश का अभिमान !

बी एल सामरा ‘नीलम ‘
सेवा निवृत्त शाखा प्रबंधक
भारतीय जीवन बीमा निगम मंडल कार्यालय अजमेर

Leave a Comment

error: Content is protected !!